राजस्थान उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप योजना | uttar matric scholarship

राजस्थान उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप योजना | uttar matric scholarship भारत सरकार द्वारा जारी मेट्रिकोतर छात्रवृति नियमों के अनुसार 10+2 एवं कॉलेज स्तरीय छात्रवृति अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के उन छात्र छात्राओं को दी जाती है जिनके माता पिता सरंक्षक की वार्षिक आय क्रमश 2 लाख 2 लाख तथा 1 लाख रूपये तक हो. इस योजना में नॉन रेफ्न्डेबल फीस एवं अनुरक्षण भत्ते का भगतान छात्रवृति के रूप में किया जाता है

राजस्थान उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप योजना | uttar matric scholarship

उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप इस योजना की शुरुआत अनुसूचित जाति और जनजाति के छात्र छात्राओं के लिए 1944-45 से की गई थी. जिनके नियम जुलाई 2010 में संशोधित किये गये थे. अन्य पिछड़ा वर्ग ओबीसी के लिए इस छात्रवृति योजना की शुरुआत 1998-99 से की गई तथा इनके नियमों में 1 जुलाई 2011 को संशोधन किया गया.

  • लाभान्वित वर्ग- इस स्कालरशिप स्कीम के तहत अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थी लाभान्वित होंगे.

पात्रता (Eligibility)-

  • छात्र-छात्रा राजस्थान का मूल निवासी हो.
  • अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग का हो.
  • अनुसूचित जाति जनजाति के लिए माता पिता संरक्षक की समस्त स्त्रोतों से वार्षिक आय सीमा 2 लाख रूपये एवं अन्य
  • पिछड़ा वर्ग के लिए आय सीमा 1 लाख रूपये तक की हो.
  • विद्यार्थी किसी राजकीय या मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान में उत्तर मेट्रिक शिक्षा में अध्ययनरत हो अथवा कक्षा 10 के बाद मान्यता प्राप्त मेट्रिकोतर पाठ्यक्रमों में अध्य्यरंरत हो.

आवेदन का तरीका (application system)

  • शैक्षणिक सत्र 2012-13 से आवेदन ऑनलाइन पोर्टल RAJPMS.NIC.IN पर किया जाए तथा प्रिंटआउट लेकर आवश्यक दस्तावेजों के साथ महाविद्यालय में जमा करावे.

उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप के लिए आवेदन कहाँ करे (Where to Apply for Upper Metric Scholarship)

  • किसी महाविद्यालय में अध्ययनरत विद्यार्थी राजकीय महाविद्यालय में
  • निजी महाविद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थी सम्बन्धित महाविद्यालय के माध्यम से सम्बन्धित जिले के सामाजिक
  • न्याय एवं अधिकारिता विभाग के कार्यालय में.
  • राजस्थान राज्य के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थी जो अन्य राज्यों की मान्यता
  • प्राप्त शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत है स्वयं के जिला शिक्षा अधिकारी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के कार्यालय में.

आवेदन के साथ औपचारिकताएं (Formalities with application)

  • जाति प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति
  • आय प्रमाण पत्र हेतु माता/पिता/अभिभावक/का नोटेरी अथवा कार्यपालक रजिस्ट्रेड से सत्यापित घोषणा पत्र/शपथ पत्र
  • दसवीं की अंकतालिका/प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति
  • गत उतीर्ण समस्त परीक्षाओं की सत्यापित प्रति
  • फीस की मूल रसीद
  • आवेदन पत्र पर उपयुक्त स्थान पर आवेदक का प्रमाणिक फोटो
  • विद्यार्थी के बैंक खाते की पासबुक की प्रति
  • मूल निवास प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति
  • यदि संरक्षक का आय प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया जाता है तो माता/पिता/पति का मृत्यु प्रमाण पत्र की सत्यापित प्रति.

केवल अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों के लिए उत्तर मेट्रिक स्कालरशिप में

  1. बीपीएल प्रमाण पत्र की प्रति
  2. नि शक्त्ता प्रमाण पत्र/ विधवा/तलाकशुदा महिला/ विधवा का पुत्र या पुत्री/तलाकशुदा महिला का पुत्र या पुत्री होने का प्रमाण

सम्पर्क सूत्र

जिला कार्यालय, सामजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग

प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *