करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान – Practice Makes a Man Perfect

करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान – Practice Makes a Man Perfect

karat karat abhyas ke jadmati hot sujan हिंदी दोहा बहुत प्रसिद्ध है. जीवन में अभ्यास यानि प्रैक्टिस का क्या महत्व है, इस बात को इस दोहे के द्वारा आसानी से समझा जा सकता है. सफलता प्राप्त करने के लिए अभ्यास बहुत जरुरी है. बुद्दिमान लोग सही समय पर निरंतर अभ्यास के द्वारा सफलता को प्राप्त कर लेते है, जबकि मुर्ख लोग बिना अभ्यास व महत्व के सफलता का शार्टकट खोजते रह जाते है. करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान (Practice Makes a Man Perfect in hindi) में आपकों रियल लाइफ से जुड़ी कुछ स्टोरी, विडियो तथा इस दोहे का सम्पूर्ण अर्थ बतला रहे हैं. करत-करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान meaning in english & Hindi

करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान दोहा और इसका अर्थकरत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान

करत अभ्यास के जङमति होत सुजान।
रसरी आवत जात, सिल पर करत निशान।।

इस दोहे का अर्थ यह है, कि निरंतर अभ्यास करने से एक मुर्ख आदमी भी बुद्धिमान बन सकता है. जिस तरह कुँए की मुडेर पर बार बार रस्सी के घिसने से उस पर निशाँ पड़ जाते है. ठीक उसी तरह यदि इंसान बिना हिम्मत हारे निरंतर कार्य अथवा कोशिश करता रहे तो एक न एक दिन वह अवश्य ही सफल हो जाता हैं.

Karat Karat Abhyas Ke Jadmati Hot Sujan in Hindi/ Practice makes a man perfect

  • जीवन में सफल होने के लिए क्या करें – निरंतरता बनाए रखें
  • नियमित रूप से कार्य करते रहें – निरंतर आगे बढ़ते रहें
  • जीवन में सफल होने के लिए निरंतरता बनाए रखें – कुछ काम की बातें
  • कई बार परिस्थिति वश रुकावट आ जाती है तो भी हमें धैर्य नहीं खोना चाहिए और अपने लक्ष्य को सामने रखकर अभ्यास में जुटे रहना चाहिए..

करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान स्टोरी कहानी (practice makes a man perfect story in hindi)

  • उदहारण के तौर पर जब एक छोटा बच्चा साइकिल चलाना सीखता है. तो शुरुआत में वों बिना सहारे के साइकिल पर चढ़ भी नही सकता. धीरे धीरे वो अभ्यास करने से दो कदम तक साइकिल चलाना सीख जाता हैं. इस दौरान वह कई बार गिरता है उठता है फिर कोशिश करता है. धीरे धीरे वह ठीक ठाक साइकिल चला देता है, और अभ्यास करने पर थोड़ा अच्छा, फिर काफी अच्छी और एक दिन बहुत अच्छा साइकिल ड्राइवर बन जाता हैं. इस तरह बिना हिम्मत हारे निरंतर कार्य किया जाए तो सफलता मिलना सुनिश्चिंत है.
  • पाब्लो पिकासो दुनिया के सबसे बेहतरीन चित्रकारों में से एक हैं, जब वे मात्र 20 साल के थे, तब उन्होंने चित्र बनाना सीखा था. उम्र के अंतिम पडाव तक वो रोजाना एक फोटो बनाते थे. एक दिन एक महिला ने जब उनसे ऑटोग्राफ माँगा तो उन्होंने 2-3 मिनट में एक आकर्षक चित्र बना दिया, जिसे देखकर वह महिला अचम्भित हो गई. उन्होंने आश्चर्य से पूछा आपने 2-3 में चित्र कैसे बना दिया. पाब्लो पिकासो ने क्या जवाब दिया “3-4 मिनट में बनाना कैसे सीख लिया, ये ही सीखने में 50 साल लग गये”
  • लगातार अभ्यास करने वाले के लिए दुनिया में कुछ भी असम्भव नही हैं. अभ्यास करने के लिए आलस्य का त्याग करना पहली शर्त हैं. पौराणिक कथाओं के अनुसार महान संस्कृत कवि कालिदास जी अपने जमाने के सबसे बड़े मुर्ख थे. उन्होंने अध्ययन की राह पकड़ी और अपना नाम इतिहास में अमर कर गये.

करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान – Practice Makes a Man Perfect – Monica Gupta

READ MORE:-

Leave a Reply