गरीबी पर सुविचार – Poverty Quotes In Hindi

Poverty Quotes In Hindi (garibi quotes in hindi):- भारत ही नहीं आज दुनियां में भी गरीबी बड़ी समस्या बनकर सामने आ रही हैं. गरीब व्यक्ति का जीवन बेहद कठिनाइयों भरा होता हैं. निम्न तथा मध्यमवर्गीय परिवार के लोग इस पीड़ा को समझते है कि गरीबी क्या होती है अथवा गरीबी किसे कहते हैं. आज के इस लेख में हम गरीबी सुविचार, गरीब पर शायरी, गरीबी कोट्स Poverty Quotes In Hindi लाए है तो चलिए आरम्भ करते हैं.Poverty Quotes In Hindi

गरीबी पर सुविचार – Poverty Quotes In Hindi

जो गरीबों पर दया करता है, वो परमपिता को ऋणी बना देता हैं.


गरीब और संतुष्ट व्यक्ति सम्पन्न होता है और पर्याप्त सम्पन्न होता हैं.


कोई गरीब नहीं है सिवाय उनके जिन्हें परमात्मा घ्रणा करता हैं.


गरीब आदमी कभी स्वतंत्र नहीं होता है, वह प्रत्येक देश में सेवा करता हैं.


अनेक गुण एक अभाव, धन के अभाव की पूर्ति करने के लिए काफी नहीं होते हैं.


गरीबी स्वयं में अपमानजनक नहीं होती है, यह तब अपमानजनक बन जाती है जब यह आलस्य, असंयम, फिजूलखर्ची और बेवकूफी के कारण उत्पन्न होती हैं.


गरीबी बदनामी का हेतु नहीं होती है परन्तु यह जंगली तौर पर खिझाने वाली होती हैं.


अमीरी और गरीबी पर कोट्स – quotes on rich and poor in hindi

गरीबी कविता में बहुत अच्छी लगती है परन्तु घर में बहुत बुरी होती है, यह सूत्रों में अथवा प्रवाद वाक्यों में तथा धर्मोपदेशों में बहुत अच्छी लगती है, परन्तु व्यवहारिक जीवन में बहुत बुरी होती हैं.


गरीब हो और गरीब दिखाई दे यह वह मार्ग जिस पर चलने वाला कभी ऊँचा नहीं उठ सकता है.


गरीब हो और स्वतंत्र हो यह प्रायः एक असम्भव बात हैं.


गरीबी बहुत कड़वी होती है, परन्तु यदि वह व्यक्ति को हास्यास्पद बना दे, तो इससे अधिक कठोर वेदना कुछ नहीं होती हैं.


सम्पति की गरीबी का उपचार आसान है, परन्तु आत्मा की गरीबी का उपचार असम्भव हैं.


गरीबी जितने परिवारों को तोड़ती है उससे अधिक को आपस में मिलाए भी रखती हैं.


वह व्यक्ति गरीब नहीं होता है जिसके पास थोड़ा है, बल्कि वह व्यक्ति गरीब होता हैं जो अधिक की इच्छा करता हैं.


Garibi Ke Quotes Ka Sangrah | Poverty Quotes in Hindi

खाली जेब में शैतान नाचता हैं.


गरीबी दुर्गुण नहीं असुविधा हैं.


गरीबी मानव की प्रसन्नता की बहुत बड़ी शत्रु है, यह निश्चित रूप से स्वतंत्रता को नष्ट कर देती है और यह कुछ सद्गुणों को अव्यवहारिक एवं अन्य को अत्यंत कठिन बना देती हैं.


गरीब व्यक्ति की बुद्धिमानी से घ्रणा की जाती है और उसकी बात को सुना नही जाता हैं.


निर्धनता क्रांति एवं अपराध की जननी है.


गरीबी आत्म निर्भरता की कमी को जन्म देती हैं.


गरीबी व्यक्ति का नैतिक पतन कर देती हैं.


गरीबी अनैतिक बना देती हैं.


जो गरीब होकर रहना जानता हैं, वो सब कुछ जानता है.


गरीबी सबसे भयंकर और प्रचलित बिमारी हैं.


गरीब को गरीब ही रहने दो, इसका तात्पर्य यह है कि उसे दुर्बल ही रहने दो, उसे अज्ञानी ही बना रहने दो, उसे बीमारियों का केंद्र बना दो. वस्तुतः उसको कुरूपता मलिनता की नग्न प्रदर्शनी एवं उदाहरण बना रहने दो.


यदपि मैं निर्धन, घ्रणित और उपेक्षित हूँ, तथापि परमात्मा, हे मेरे परमात्मा मुझकों मत भुला देना.


आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों गरीबी/ निर्धनता पर सुविचार अनमोल वचन Poverty Quotes In Hindi का यह लेख अच्छा लगा होगा, यदि आपकों यह लेख पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *