स्वच्छ भारत मिशन : कूड़ेदान का समुचित उपयोग

स्वच्छ भारत मिशन इस देश के प्रत्येक नागरिक का सपना हैं, हमारा भारत साफ़-सुथरा हो स्वच्छ हो, इसी दिशा में प्रधानमन्त्री द्वारा चलाया गया स्वच्छता अभियान नए आयाम स्थापित करने में सफल रहा हैं. इस अभियान में अपना योगदान देने के लिए कूड़ेदान का घर-घर में प्रयोग करना चाहिए. स्वच्छ भारत अभियान में यह कूड़ेदान कितने काम आ सकता हैं, जानते हैं- कूड़ेदान की कहानी.

स्वच्छ भारत मिशन में कूड़ेदान की कहानी

घर गली मोहल्ला की गंदगी देख लोग मुह भौहे सिकोड़ लेते हैं, लेकिन मै उसी गंदगी को ढोकर सबको बीमारियों से बचाने का काम करता हु. सुनों स्वच्छ भारत मिशन में मेरी कहानी मेरी जुबानी |

मै कई रंगो में मिलता हु, मेरे कई आकार हैं, घर,स्कुल,दफ्तर या सड़क मै सब जगह पर रहता हू. आप सोच रहे होंगे मै कौन हु ?

चीज हू मै बड़े काम की,

सोचो मेरा नाम,

ज्यादा नही हैं, मेरा दाम,

आता हु सबके काम.

अब तो समझे हाँ , मेरा नाम स्वच्छ भारत मिशन का कूड़ेदान हैं. आज आपकों मै पते की बात बताता हु, संसार में एकमात्र मै ही हु, जो अपने शरीर पर लिखकर चलता हु, use me अर्थात मेरा प्रयोग करो.

जब से यह धरती बनी हैं, मै तभी से इस संसार में हू, पहले लोग पुरानी बाल्टी या किसी टूटी हुई चीज का प्रयोग कूड़ा डालने के लिए करते थे. पर अब समय बदल गया हैं. अब मै प्लास्टिक,टिन,गट्टे और लोहे से बनाया जाने लगा हु. पहले तो मेरा मुह खुला रहा करता था. अब तो ढक्कन लगवा दिया हैं. जब मेरी आवश्यकता हो, ढक्कन खोलो और मुझे प्रयोग करो.

जागो लोगों | मेरी कहानी सुनकर जागों संसार में चीजे बदलती रहती हैं, मै भी नित्य परिवर्तन कर रहा हु. अब मेने भाइयो को भी शामिल करना सीखा दिया हैं. नीला व काला ये कूड़ेदान मेरे भाई हैं. मै हु हरा कूड़ेदान. आप मेरे नीले भाई का उपयोग ऐसा कूड़ा डालने के लिए करते हैं, जो नष्ट नही होता हैं, जैसे प्लास्टिक लोहा इत्यादि.

काले भाई का उपयोग जीवाणु फैलाने वाली वस्तुओ डालने में किया जाता हैं. जैसे उपयोग के बाद पट्टी, रक्त से सनी इजेक्शन की सुई आदि. मेरा उपयोग आप नष्ट होने वाले कूड़ा डालने के लिए कर सकते हैं.जैसे सब्जी फलो के छिलके आदि. आपकों एक बात बताऊ | जब आप मेरा प्रयोग करते हैं, तो मुझे बहुत ख़ुशी मिलती हैं.

परन्तु जब आप कूड़ा,करकट इधर-उधर फैकते हैं तो मुझे बहुत दुःख होता हैं.क्या आप जानते हैं कि मुझे प्रयोग में न लाकर आप तरह-तरह की बीमारियों को आमंत्रित कर रहे हैं. यदि आप कूड़ा इधर उधर फैकेंगे तो गंदगी फैलेगी. गंदगी से हैजा,पेचिश और डेंगू जैसे खतरनाक रोगों के फैलने का खतरा बना रहता हैं.

यह सच हैं, कि स्वास्थ्य हमारे लिए अनमोल खजाना हैं. कोई व्यक्ति चाहे कितना भी धनवान क्यों न हो, यदि उसका स्वास्थ्य खराब हैं, तो उसके लिए सारे सुख बेकार हैं. रोगी व्यक्ति तो कोई कार्य ठीक से नही कर पाटा हैं. उसका स्वभाव भी चिडचिडा हो जाता हैं. केवल स्वस्थ व्यक्ति ही सभी सुखो का आनद ले सकता हैं.इसलिए यह ध्यान रखना कि आप कूड़ा करकट डालने के लिए अधिक से अधिक मेरा प्रयोग करे, अन्यथा नुकसान आपका ही होगा.

स्वच्छता पर कविता

गंदगी से फैले बिमारी

स्वच्छता की अब आई बारी,

आओ बीमारियाँ भगाए सारी,

जिन्दगी निरोग बनाए हमारी.

 

स्वच्छता का संदेश देने, आया कूड़ेदान,

स्वच्छता का कार्य हैं, बड़ा महान.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *