15 August Speech In Hindi | स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

Hihindi की ओर से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस 2019 की हार्दिक बधाई. 15 August Speech In Hindi के माध्यम से हम पन्द्रह अगस्त स्वतन्त्रता दिन (15 august par bhashan) यहाँ उपलब्ध करवा रहे हैं. अपने विद्यालय या कॉलेज के इंडिपेंडेंस डे कार्यक्रम में बच्चों को इस राष्ट्रीय पर्व पर अपने विचार रखने के लिए कहा जाता है. ऐसे में कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10 के स्टूडेंट्स swatantrata diwas par bhashan को यहाँ से पढकर याद कर सकते हैं अथवा लिखकर भी सुना सकते हैं.

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण – 15 August Speech In Hindi

15 August Speech In Hindi

15 August Speech In Hindi: आज के इस हम अपने पाठकों के लिए 15 August पर हिंदी भाषा में सरल भाषण Speech उपलब्ध करवा रहे हैं. इस भाषण का उपयोग आप अपने विद्यालय कॉलेज या किसी संस्थान के India Independence Day 2019 कार्यक्रम में प्रस्तुत कर सकते हैं. मुख्यतः कक्षा 12 तक के स्कूली छात्र-छात्राओ ध्यान में रखते हुए यह speech on 15 August 2019 in hindi तैयार किया गया हैं.

आपके लिए हमने 15 august speech in hindi short का एक विस्तृत निबंध उपलब्ध करवाया हैं. आप अपनी सुविधा के अनुसार इस बड़े लेख में से independence day 2019 speech in hindi को 100, 200, 250, 300, 400, 500 शब्द सीमा में बांधकर एक अच्छा pandra august ke baare mein speech सुनाकर खूब प्रशंसा अर्जित कर सकते हैं.

Independence Day Speech In Hindi – Pandra August Bhashan

मंच पर उपस्थित मुख्य अतिथि महोदय, प्रधानाचार्य जी, समस्त शिक्षक गण और मेरे साथ पढ़ने वाले प्यारे भाईयो और बहिनों. सबसे पहले आप सभी को भारत के 73 वें स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई. इसी महान राष्ट्रिय त्योहारों को मनाने बाबत आज हम सब यहाँ एकत्रित हुए हैं.

15 अगस्त का दिन प्रत्येक भारतीय के लिए ख़ुशी और गर्व का दिन हैं. 15 अगस्त 1947 के दिन ही भारत अंग्रेजो के शासन से लम्बी लड़ाई के बाद स्वतंत्र हुआ था. इसी उपलक्ष्य में हम प्रतिवर्ष 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं. आज पूरा भारत अपना 71वाँ स्वतंत्रता दिवस मना रहा हैं.

15 अगस्त का दिन प्रत्येक भारतवासी के लिए महत्वपूर्ण दिन हैं. जिन्हें विश्व इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखा जा चूका हैं.

आज ही के दिन जब पूरी दुनिया सों रही थी, पंडित नेहरु ने दिल्ली के लाल किले से ऐतिहासिक भाषण दिया था. भारतीय जनमानस आजादी के नये सवेरे की बाट देख रहे थे. सैकड़ो वर्षो की गुलामी के बाद हमारा देश सन सतालीस में आजाद हुआ. देशवासियों की अथक मेहनत और लग्न से आज भारत विश्व का सबसे बड़ा गणतन्त्र राष्ट्र हैं. देश के सिपाही हर मुशीबत झेलने को तैयार हैं. आज विभिन्न धर्मो के लोग प्रेम से भारत में रहते हैं, यही विविधता में एकता हमारी पहचान हैं.

हर वर्ष हर्षोल्लास से पुरे देश में 15 अगस्त मनाया जाता हैं. यह दिन हमे उन स्वतंत्रता सेनानियों को बार-बार याद दिलाता हैं. जिनकी अथक मेहनत और जज्बे के कारण भारत आजाद हुआ, और आज हमे पूर्ण स्वतंत्रता हैं. ये हमारे वीर शहीदों की अमानत हैं विरासत हैं. जिसके कारण आज प्रत्येक भारतीय चाहे जहाँ पढ़, लिख सकता हैं, आ जा सकता हैं तथा नौकरी कर सकता हैं. आजादी से पूर्व भारतीयों को कुछ भी अपनी इच्छा से करने की अनुमति नही थी. जो अंग्रेज चाहते थे, उनके हुक्म का पालन करना हमारे पूर्वजो की मजबूरी थी.

15 अगस्त को हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं, इस दिन विशेष तौर पर उन वीर शहीदों का स्मरण करना चाहिए. जिनकी बदौलत आज हम स्वतंत्र हैं सुरक्षित हैं. ब्रिटिश सता को भारत से उखाड़ना इतना आसान नही था. मगर तमाम परेशानियों को झेलते हुए अपनी जान हथेली पर लेकर वो लड़े, सुनहरे भारत के भविष्य की खातिर.

आज तेजी से बढ़ रहे भारत के राष्ट्र निर्माण और स्वतंत्रता में सबसे अहम योगदान हमारे स्वतंत्रता सेनानियों का था. हम और हमारी आने वाली पीढियाँ हमेशा उनके ऋणी रहेगी. हमें अपने महापुरुषों के बताए रास्ते पर चलते हुए देश को नई ऊँचाइयों तक ले जाना हैं. हमारे प्रेरक देशभक्त हमेशा हमारे दिलों में रहेगे, आज के दिन हमे उन वीरों को सलामी देनी चाहिए.

15 अगस्त न सिर्फ एक जश्न का दिन हैं, बल्कि हमारे उन देशभक्तों और महापुरुषों को याद करने का सुनहरा अवसर भी हैं. जिन्होंने अपने घर-परिवार एशो आराम सब कुछ त्यागकर अपने सम्पूर्ण जीवन भारत माता के कदमों में अर्पित कर दिया. इन्ही के जीतोड़ प्रयासों के फलस्वरूप ही अंग्रेज 200 वर्षो तक शासन करने के बाद भारत से भागे थे. हमे ऐसे नेशनल हीरोज को अपना आदर्श मानते हुए उन्हें महत्व देना चाहिए.

हमारे स्वतंत्रता सेनानियों में सुभाषचन्द्र बोस, भगतसिंह, लाला लाजपत राय, विपिनचंद्र पाल, महात्मा गाँधी, राजगुरु, चन्द्रशेखर आजाद, झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई ऐसे हजारों नाम हैं. ये हमारे देश की आजादी के कर्णधार थे. जिन्होंने अपने बचपन और जवानी के दिन जेलों में गुजारे और जीवनपर्यन्त अंग्रेजो से लोहा लेते रहे. हम स्वतंत्र भारत में जन्मे इस कारण हम उस दासता और गुलामी की कल्पना नही कर सकते हैं. जो हमारी कई पीढियों ने झेली थी. आजादी के 72 साल बाद आज हम विश्व की सबसे तेजी से उभरती ताकत के रूप विख्यात हैं. हर भारतीय विश्व के कोने-कोने में सम्मानित हैं.

सुभाषचन्द्र बोस भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी थे, जिन्होंने अंग्रेजो के अत्याचार सहने के बाद गांधी वादी विचारों को त्यागकर अंग्रेजो से आर-पार की जंग की योजना बनाई थी और जापान व् अन्य दक्षिण एशियाई देशों की मदद से आजाद हिन्द फौज से अंग्रेजो के पाँव फूला दिए थे.

भारतभूमि हमारी जन्मस्थली तो हैं, ही हमे इसे अपनी कर्मस्थली भी बनानी हैं. एक स्वतंत्र राष्ट्र के नागरिक होते हुए, हमे अपने देश को आगे ले जाना हैं. हमे भारतीय होने पर गर्व हैं. हर भारतीय शान से कहता हैं, मेरा भारत महान. हमे अपने तन, मन, धन से इस देश को आगे तक ले जाना हैं.

आप सभी को HAPPY Indian Independence Day 2019 और आओ मिलकर भारत को आगे ले जाने का संकल्प ले.

Speech For Independence Day 2019 In 100 Words In Hindi

about independence day speech in hindi-15 अगस्त से 1947, भारत में भारतीय इतिहास में एक बहुत महत्वपूर्ण दिन था, इसी दिन नयें भारत के भाग्य का उदय हुआ था, जब जब भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष और बलिदान के बाद भारत स्वतंत्र कराया.

जब भारत को अपनी स्वतंत्रता मिली, तब भारत की जनता ने अपने पहले प्रधानमंत्री, पंडित जवाहरलाल नेहरू को चुना था जिन्होंने पहली बार राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में लाल किले पर तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज फहराया था. सभी लोग इस विशेष दिन को हर साल बहुत खुशी के साथ मनाते हैं।

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ फ्रेड्स यहाँ दिया गया 15 August Speech In Hindi का यह भाषण आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों hindi speech on independence day 2019 आर्टिकल में दी गई जानकारी पसंद आई हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मिडिया पर जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *