15 August Speech In Hindi For School Kids And Children

15 August Speech In Hindi For School Kids And Children: Happy Independence Day To All Students And Teachers Geare Occasion For Indian In To Celebrate 15 August Ceremony In Her School, 15 August Speech In Hindi For School Is Prepare For Students, Kids, And Teachers Point of View. Takes Help OF This the short speech on 15th August, Students They Read In Class 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10 And Searching For 15 August Speech In Hindi In 100,200,250,300,400 And 500 Words Short Bhashan (Speech) On Independence Day 2018.

15 August Speech In Hindi For School Kids And Children15 August Speech In Hindi For School Kids And Children

भारत का 15 अगस्त पर हिंदी भाषण- सुप्रभात, परम आदरणीय मुख्य अतिथि महोदय, प्रधानाध्यापक महोदय, समस्त विद्वान् गुरुजनों मेरे साथ पढ़ने वाले भाइयों बहिनों एवं बड़ी संख्या में आस-पास से पधारे हुए ग्रामीण मेहमानों आप सभी 15 अगस्त 2018, भारत के 72 वें स्वतंत्रता दिवस की बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं.

15 अगस्त हमारा एक राष्ट्रीय पर्व हैं, जिसे मनाने के लिए हम सभी यहाँ एकत्रित हुए हैं. आज ही दिन सन 1947 को हमारे भारत देश को अंग्रेजों की दास्ता से स्वतंत्रता मिली थी. सैकड़ों वर्षों के संघर्ष एवं हजारों शहीदों के बलिदान के उपरांत मिली यह आजादी हमारे लिए बहुमूल्य हैं, जिसे अक्षुण्ण बनाएं रखना हम सभी भारतीयों का पहला कर्तव्य हैं.

Latest 15 August Speech in Hindi For School Teachers (200 words)

हमारे देश में जितना महत्व धार्मिक व सामाजिक त्योहारों का हैं कही उससे अधिक स्वतंत्रता दिवस एवं गणतंत्र दिवस का हैं. सभी धर्मों सम्प्रदायों के लोग आपसी मतभेद को भूलकर इन्हें हर्षोल्लास के साथ आज मना रहे हैं. इस दिन अंग्रेजों को भारतीयों के संघर्ष के आगे मजबूर होकर भारत की सत्ता छोड़कर इंग्लैंड जाना पड़ा था. इसी ऐतिहासिक दिवस को यादगार बनाने के लिए हम प्रतिवर्ष 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं.

15 अगस्त का हम सभी के लिए बड़ा महत्व हैं, क्योंकि इस दिन को देखने के लिए अनेकोनेक भारतीय स्वतंत्रता सैनानियों ने अपने राष्ट्र की स्वतंत्रता के लिए अपना बलिदान दिया था. अनेक लोगों ने उनके द्वारा दी गई प्रताड़ना को झेला, मगर अपने लक्ष्य को बिना बदले वे निरंतर भारत की आजादी के लिए संघर्ष करते रहे, उनकी कड़ी मेहनत और बलिदान के उपरांत भी भारत 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता प्राप्त कर सका.

स्वतंत्रता दिवस अन्तर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्यीय एवं स्थानीय स्तर पर बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता हैं. इस दिन देश के महामहिम प्रधानमंत्री महोदय दिल्ली के लाल किले से तिरंगा फहराते है और राष्ट्रीय कार्यक्रम में देश के लोगों को सम्बोधित करते हैं.

देश की राजधानी के साथ साथ सभी राज्यों की राजधानी में भी 15 अगस्त कार्यक्रम का आयोजन बड़े धूमधाम के साथ किया जाता हैं. राज्यों के प्रशासनिक अधिकारी व जनप्रतिधि इन दिन जनता को अपनी सरकार के जनकल्याणकारी कार्यक्रमों एवं योजनाओं का ब्यौरा देते हैं.

विभिन्न स्तरों पर अच्छा कार्य करने वाले लोगों को इस दिन सरकार के द्वारा सम्मानित किया जाता हैं. हर छोटे से छोटे नगर, गाँव व विद्यालय में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम का आयोजन होता हैं, राष्ट्रीय ध्वज का आरोहण, राष्ट्रगान, सांस्कृतिक कार्यक्रम, स्वतंत्रता दिवस पर भाषण एवं देशभक्ति गीत इनके आकर्षण के केंद्र होते हैं.

Best 15 August Speech in Hindi For School Students & Kids| स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण- समस्त विद्वान गुरुजनों एवं सम्मानित मंच को मेरा सादर प्रणाम, हम सभी आज राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त को मनाने के उपलक्ष्य में यहाँ एकत्रित हुए हैं, आज मैं 15 अगस्त पर छोटा भाषण प्रस्तुत करने जा रहा हूँ.

इस दिन को एक उत्सव के रूप में मनाने के पीछे का इतिहास अधिक प्राचीन नही हैं, हम जानते है कि 190 सालों की अंग्रेजों की गुलामी के बाद अन्तः भारत 15 अगस्त 1947 को एक नया स्वतंत्र, संप्रभु गणराज्य बना था. पिछले 72 साल से हम इस दिन को एक महान ऐतिहासिक दिन के रूप में मनाते आ रहे हैं.

15 अगस्त के सवेरे देश के पहले प्रधानमंत्री श्री जवाहर लाल नेहरु का ऐतिहासिक भाषण हुआ था, उनकें शब्द कुछ इस तरह थे, जब पूरी दुनिया सो रही थी तब भारत के लोग जग रहे थे. यानि अपनी स्वतंत्रता के लिए अंग्रेजों से लोहा ले रहे थे. विविधता में एकता का सर्वोत्तम उदाहरण पेश करने वाला भारत आजादी के बाद निरंतर तेज गति से विकास के पथ पर अग्रसर हैं.

15 अगस्त का यह दिन हमें अपने स्वतंत्रता सैनानियों एवं उन सैकड़ों शहीदों की याद दिलाता हैं जिनके बलिदान की बदौलत हम स्वतंत्र हो पाए हैं. एक वो दिन थे, जब भारतीयों को खाने पीने, पढ़ने लिखने, आने जाने यहाँ तक कि बोलने की आजादी भी नही थी. आज हमारा संविधान अपने नागरिकों को सभी अधिकार देता हैं, तथा उनकी पालना को भी प्रबंधित करता हैं. हमारी इस अमूल्य स्वतंत्रता रूपी धरोहर का श्रेय महात्मा गाँधी, सुभाषचंद्र बोस, लाला लाजपत राय, भगतसिंह, चन्द्रशेखर आजाद जैसे सैकड़ों फ्रीडम फाईटर को जाता हैं. आज हमें उन महान देशभक्तों को सच्चे दिल से सलामी देनी चाहिए.

Read More:-

Leave a Reply