Amazing Facts About Kinnar: किन्नर भी हमारे समाज का एक अंग हे लेकिन हमारे समाज से अलग हे. किन्नर ना तो पुरुषों की श्रेणी में आते हे और ना ही महिलाओं की श्रेणी में. इनकी अलग ही प्रथाएं और रीती-रिवाज होते हे. किन्नर का आशीर्वाद बहुत ही फलदायक होता हे और वहीं इनका श्राप भी बहुत लगता हे. आपने अक्सर घरेलू फंक्शन या कार्यक्रम में किन्नर को शिरकत करते देखा होगा और हम उन्हें बहुत सारा दान भी देते हे तथा बदले में वे हमें आशीर्वाद देते हे.

लोगों में किन्नरों के रहन-सहन, खान-पान और उन्हें जानने की जिज्ञासा रहती हे की आखिर यह समाज का अंग होते हुए भी हमारे समाज से अलग कैसे हे. ग्रन्थों में भी किन्नरों का उल्लेख मिलता हे. तालियों की आवाज से ही हम पहचान जाते हे की किन्नर आया हे. भारत में लघभग 5 लाख के करीब किन्नर हे. आईये जानते हे उनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य.

Amazing Facts About Kinnar किन्नर से जुड़े 20 रोचक तथ्य

  1. वीर्य की अधिक मात्रा से पुरुष और रक्त की अधिक मात्रा से स्त्री का जन्म होता हे. जब वीर्य और रक्त समान होते हे तब किन्नर का जन्म होता हे.
  2. पांडवों के अज्ञातवर्ष में अर्जुन को 1 साल तक किन्नर बनके रहना पड़ा था.
  3. किन्नरों की 4 देवियाँ हे जिन्हें वे पूजते हे.
  4. किन्नर की दुआओं में बहुत असर होता हे. वे किसी भी व्यक्ति पर आये संकट को दूर कर देती हे.
  5. किन्नर पुराने समय में राजा-महाराजाओं के यहाँ नाच-गाकर अपनी जीविका चलाते थे.
  6. अगर हमारी कुंडली में बुद्ध ग्रह कमजोर हे तो किन्नर को हरी चूड़ियाँ दान देनी चाहिए. इससे लाभ मिलता हे और घर में सुख-शांति आती हे.
  7. किन्नर समुदाय में गुरु-शिष्य जैसी परम्परा आज भी मानी जाती हे. किन्नर लोग आज भी अपने बनाये गए गुरु के आदेशों का पालन करते हे.
  8. आपने हमेशा देखा होगा की किन्नर मांगलिक कार्यों में ही भाग लेते हे कभी भी शोक या मातम में नहीं, क्योंकि किन्नर खुद को मांगलिक मानते हे.
  9. किन्नरों की दुनिया का सबसे खौफनाक सच यह भी हे की यह सुंदर लड़कों को खोजते हे और फिर उससे नजदीकियां बढ़ाके उसके उस अंग को काट देते हे जिससे वह कभी लड़का नहीं बन सकता हे.
  10. जिंदगी में कभी भी किन्नरों की बद्दुआ नहीं लेनी चाहिए, वरना जीवन तकलीफ से गुजरता हे.
  11. लोग यह भी मानते हे की किन्नर से 1 रुपया लेके अपने पास रखना चाहिए इससे धन में बढ़ोतरी होती हे.
  12. किन्नरों की शव यात्रा हमेशा रात में ही निकाली जाती हे, क्योंकि इनका अंतिम संस्कार बहुत ही गुप्त तरीके से किया जाता हे..
  13. किन्नरों को जलाते नहीं बल्कि दफनाते हे और उसे दफनाते समय किसी भी गैर किन्नर को नहीं दिखाते हे. उनका मानना हे की ऐसा करने से वो फिर अगले जन्म में किन्नर पैदा होगा.
  14. जब किसी किन्नर की मौत होती हे तो उसके शव को जूतों और चप्पलों से पिटा जाता हे और पूरा किन्नर समुदाय एक सप्ताह तक भूखा रहता हे.
  15. किन्नरों का भी विवाह होता हे लेकिन वो भी सिर्फ एक दिन के लिए अपने आराध्य देव अरावन से. अगले दिन अरावन देवता की मौत के बाद यह विवाह खत्म हो जाता हे.
  16. भगवान राम ने किन्नरों को यह वरदान दे रखा हे की उनका श्राप और आशीर्वाद दोनों ही भगवान के आशीर्वाद और श्राप के बराबर होंगे.
  17. एक मान्यता यह हे की किन्नर ब्रम्हाजी की छाया से उत्पन्न हुए हे.
  18. अगर किसी के घर बच्चा पैदा होता हे और उसके जनजांग में कोई कमजोरी पाई जाती हे तो उसे किन्नरों के हवाले कर दिया जाता हे.
  19. आपको यह जानकार हैरानी होगी की किन्नरों के साथ अगर बलात्कार होता हे तो उसे बलात्कार नहीं माना जाता हे. आज भी हमारे समाज में किन्नरों के साथ भेदभाव किया जाता हे.
  20. किन्नरों की एक खास बात यह हे की यह जब भी आयेंगे तालियाँ बजाते हुए आयेंगे. यह अक्सर मांगलिक कार्यों में बिन बुलाये ही आशीर्वाद देने आ जाते हे.
News Reporter

प्रोफेशनल ब्लॉग लेखक hihindi.com के सहसंपादक और सहयोगी। तकनीकी ट्रिक्स नई जानकारी और स्वास्थ्य जैसे विषयों पर लिखते है

Leave a Reply