Bal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India Meaning History Low Effects Essay Speech Act

Bal Vivah Gk Notes In Hindi: प्रिय विद्यार्थियों आज हम आधुनिक भारतीय समाज की एक बुराई बाल विवाह के बारे में जानेगे. Bal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India Meaning History Low Effects Essay Speech Act में हम बिन्दुओं के जरिये समझेगे कि बाल विवाह क्या है अर्थ परिभाषा कारण प्रभाव निबंध स्लोगन शायरी आदि के रूप में आप यहाँ इस लेख को पढ़ सकते हैं. Bal Vivah Gk Notes कई प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी सिद्ध हो सकता हैं.

Bal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India Meaning History Low Effects Essay Speech ActBal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India Meaning History Low Effects Essay Speech Act

Bal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India

अवयस्क अवस्था में लड़के एवं लड़की का विवाह. राजस्थान में मुख्यतया अक्षय तृतीया / आखातीज को बाल विवाह होते हैं. भारत में दुनियां के लगभग 40 प्रतिशत बाल विवाह होते हैं.

बाल विवाह के दुष्परिणाम

  • बालक का बचपन छिन जाता है तथा कई बार विवाहोंउपरांत शिक्षा से वंचित हो जाता हैं.
  • बालिका के स्वास्थ्य पर कुप्रभाव- कुपोषण, मानसिक विकास में अवरोध, यौन समस्याएं, HIV, अपरिपक्व गर्भाधान आदि समस्याएं पैदा होती हैं. व्यक्ति का समुचित विकास नहीं हो पाता हैं.
  • मातृ मृत्यु दर पर शिशु मृत्यु दर बढ़ती हैं.
  • बाल विवाह के कारण लड़का बड़ा होकर लड़की को कई बार छोड़ देता हैं.
  • बालिका को कम उम्रः में पारिवारिक जिम्मेदारियां उठानी पड़ती हैं.
  • बालक पर आर्थिक भार, भविष्य की चिंता

बाल विवाह के तथ्य व आकंड़े

  • यूनिसेफ की बच्चों की स्थिति पर रिपोर्ट 2009 व राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के आंकड़ों 2005-06 के अनुसार सर्वाधिक बाल विवाह अनुपात बिहार 69 प्रतिशत व द्वितीय राजस्थान 65 प्रतिशत हैं.
  • भारत सरकार ने नेशनल प्लान फॉर चिल्ड्रन 2005 में 2010 तक पुर्णतः बाल विवाह खत्म करने का लक्ष्य रखा मगर असफल रहे.

बाल विवाह रोकने के क़ानूनी प्रयास

  • 1891 में ब्रिटिश भारत सरकार ने वायसराय लेंस डाउन के काल में एस गांगुली के प्रयास से एज ऑफ कंसेंट एक्ट बनाया जिसके अनुसार 12 वर्ष से कम उम्रः की लड़की का विवाह प्रतिबंधित किया गया.
  • तिलक ने एज ऑफ कंसेंट एक्ट का विरोध करते हुए इसे भारतीय मामलों में विदेशी हस्तक्षेप बताया.

शारदा एक्ट

  • सितम्बर 1929 में केन्द्रीय विधानमंडल के सदस्य व अजमेर के रहने वाले मशहूर इतिहासकार हर विलास शारदा के प्रयासों से बाल विवाह प्रतिषेध कानून सितम्बर 1929 में केन्द्रीय विधान मंडल में पारित हुआ तथा 1 अप्रैल 1930 को यह अधिनियम पूरे भारत में लागू हुआ. शारदा एक्ट वायसराय लार्ड इरविन के काल में लागू हुआ.
  • शारदा एक्ट के अनुसार विवाह हेतु लड़की की न्यूनतम आयु 14 वर्ष तथा लड़के की न्यूनतम आयु 18 वर्ष निर्धारित की गई.
  • 1940 में संशोधन कर 15 वर्ष से कम लड़की व 18 वर्ष से कम लड़के का विवाह निषेध किया गया.
  • 1978 में मोरारजी भाई देसाई की सरकार ने शारदा एक्ट में संशोधन करते हुए बालिकाओं के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष तथा बालकों के लिए 21 वर्ष कर दी.
  • 1992 में फिर संशोधन कर बाल विवाह करवाने वाले अभिभावकों को भी सजा देने का प्रावधान किया गया.
  • 2006 में शारदा एक्ट समाप्त कर बाल विवाह निरोधक अधिनियम 2006 बनाया, जो 1 नवम्बर 2007 को लागू किया गया.

2006 के बाल विवाह निरोधक अधिनियम के अनुसार

  • वयस्क होने के दो साल के भीतर बाल विवाह व्यर्थ घोषित किया जा सकता हैं.
  • विवाह की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा 18 वर्ष
  • बाल विवाह हेतु दोषी सभी व्यक्तियों को 1 लाख रूपये जुर्माना या दो साल की कठोर कारावास अथवा दोनों
  • जिले में निषेध अधिकारी- कलक्टर
  • बाल विवाह रोकथाम का नोडल विभाग- गृह विभाग व महिला एवं बाल विकास विभाग

तथ्य

  • 1885 में जोधपुर के प्रधानमंत्री सर प्रतापसिंह ने गैर कानूनी घोषित किया.
  • 1903 में अलवर रियासत ने अनमेल व बाल विवाह प्रतिषेध नियम बनाया.

यह भी पढ़े-

आशा करते है बाल विवाह कानून अधिनियम, बाल विवाह का अर्थ, बाल विवाह एक कलंक, बाल विवाह निष्कर्ष, बाल विवाह के फायदे, बाल विवाह पर निबंध हिंदी में, बाल विवाह के पक्ष में तर्क, बाल विवाह नारे Bal Vivah Gk Notes In Hindi Child Marriage In India Meaning History Low Effects Essay Speech Act Child Marriage Law Act, Meaning of Child Marriage, Child Marriage One Stigma, Child Marriage Conclusions, Advantages of Child Marriage, Essay on Child Marriage in Hindi, Argues in favor of Child Marriage, Child Marriage slogans में दी गई जानकारी पसंद आई होगी. लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *