भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना | Bhamashah Pashudhan Swasthya Bima Yojana

राजस्थान व केंद्र सरकार द्वारा संचालित हर योजना की जानकारी, उनका लाभ, योग्यता आदि के बारे में हम आपकों निरंतर अपडेट करवाते हैं. राजस्थान में पशु धारकों के लिए केंद्र व राज्य सरकार की संयुक्त योजना भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना क्या हैं, इसका फायदा किन पशुपालकों को मिलने वाला हैं. भामाशाह स्वास्थ्य योजना– Bhamashah Pashudhan Swasthya Bima Yojana में विस्तार से यहाँ जानेगे.

भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना | Bhamashah Pashudhan Swasthya Bima Yojana

राजस्थान की इस पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना: पशु बीमा योजना राजस्थान|पशु बीमा योजना|भामाशाह पशु बीमा योजना|पशुपालन बीमा योजना राजस्थान|Rajasthan Bhamashah Pashu Bima Yojana in hindi.

एक गाय या भैस पालक के लिए यह पशुपालन बीमा योजना किस तरह लाभकारी हो सकती है. इसमें किस आरक्षित श्रेणी को कितने प्रीमियम पर कितना अनुदान दिया जाता हैं.

Bhamashah Yojana राजस्थान क्या हैं इसमें किन्हें क्या लाभ कब शुरू की गयी इसकी जानकारी आपकों नही हैं तो आप हमारे इस लेख – भामाशाह योजना की जानकारी  को पढ़कर सम्पूर्ण जानकारी हासिल कर सकते हैं.

पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना | Bhamashah Pashudhan Swasthya Bima Yojana

पशुधन स्वास्थ्य की योजना, पशु बीमा स्कीम इन राजस्थान, भामाशाह पशुधन बीमा स्कीम लाभ, स्वास्थ्य बीमा योजना राजस्थान 2018, राजस्थान सरकार की योजनाए हिंदी में, भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना Animal insurance, Cattle insurer, Animal housing scheme rajasthan, Livestock insurance scheme, When the Bamashah Animal Insurance Scheme began, Animal Husbandry Loan 2018 Rajasthan Bhamashah Pashudhan Swasthya Bima Yojana की जानकारी यहाँ दी गयी हैं.

राजस्थान भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए आवेदन किस प्रकार किया जाना चाहिए. इन समस्त बिन्दुओं पर इस लेख में चर्चा की जाएगी. आपकों बता दे राज्य सरकार समय समय पर राजस्थान में पशुपालकों के स्तर सुधार, पशुपालन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए अनेक कल्याण कारी योजनाएं आरम्भ कर रखी हैं.

जिनमें से एक हैं भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा स्कीम , यह केवल राजस्थान के निवासी पशुपालकों के लिए ही हैं. यदि आप पशुपालन का व्यवसाय करते हैं तो आपको भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा के बारे में अवश्य जानकारी लेनी चाहिए.

भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा योजना

इस भामाशाह पशु धन स्वास्थ्य इंसोरेंस स्कीम को भारत सरकार व राज्य सरकार के आर्थिक सहयोग से इसका क्रियान्वयन वर्ष 2016-17 से आरम्भ किया गया हैं. इस योजना का शुभारम्भ 23 जुलाई 2016 को किया गया. यूनाइटेड इंडिया इश्योरेंस कम्पनी राजस्थान के समस्त जिलों में पशुओं का बीमा किये जाने को अधिकृत होगी.

इस पशुधन भामाशाह योजना के अंतर्गत पशुपालकों के पशुओं का बीमा किया जाएगा, जिनके पास भामाशाह कार्ड हैं. इस योजना के तहत अनुसूचित जाति और जनजाति तथा बीपीएल श्रेणी के पशुपालकों को प्रीमियम राशि का 70 प्रतिशत तथा अन्य पशुपालकों को 50 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा.

प्रीमियम की शेष राशि व सर्विस टैक्स वर्तमान में १५ प्रतिशत पशुपालकों द्वारा वहन किया जाएगा. बीमा एक साल या तीन साल की अवधि के लिए चलाया जाएगा. इसमें एपीएल श्रेणी के लिए केन्द्रीय व राज्य सहायता 25-25 प्रतिशत व पशुपालक द्वारा देय राशि 50 प्रतिशत होगी.

BPL, SC व ST के लिए केन्द्रीय सहायता 40 प्रतिशत राज्य सरकार सहायता 30 प्रतिशत तथा पशुपालक द्वारा देय राशि 30 प्रतिशत होगी. इस भामाशाह स्कीम में भैस के लिए अधिकतम ५००००, १० भेड़ १० सूअर या 10 बकरी यानी 30 छोटे दुधारू पशु होने पर भी 50,000 ऊंट ,घोड़ा, गधा ,सांड , भैसा होने की स्थति में भी पशुपालक को 50,000 रूपये की राशि देय होती हैं.

भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य योजना के लाभ

इस स्कीम में पशुपालकों को गाय भैस आदि दुधारू पशुओं पर 400 रूपये तक के प्रीमियम में 50,000 रूपये का बीमा प्रदान करने का प्रावधान किया गया हैं. यदि आप एक गाय पालक हैं तो मात्र 330 रूपये के प्रीमियम पर आपकों चालीस हजार रूपये का बीमा मिलेगा, जिसमें राज्य सरकार ७० फीसदी छुट देती हैं.

मुख्य रूप से अनुसूचित जाति, जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के पशुपालकों के लिए 80 फीसदी अनुदान तथा सामान्य वर्ग के पशुपालकों के लिए 70 फीसदी अनुदान की व्यवस्था की गयी हैं.

वही यदि आप जनरल कैटेगरी के गाय या भैस पालक हैं तो आपको बड़े दुधारू पशु (गाय भैस) के लिए 50 प्रतिशत ही अनुदान मिलेगा, आपकों प्रीमियम के तौर पर क्रमशः 550 एवं 688 रूपये का प्रीमियम भरना होगा.

यदि भामाशाह पशु स्वास्थ्य स्कीम के लाभार्थी किसी पशुपालक के पशु की मृत्यु हो जाती हैं तो उन्हें बीमा का सम्पूर्ण लाभ 100 फीसदी दिया जाता हैं. आपकों बता दे कि सरकार द्वारा इस योजना में सम्मिलित पशुओं के लिए शिनाख्त की प्रणाली अपनाई गयी हैं, जिसमें टैग द्वारा पशुओं की निशानदेही की जाती हैं.

भामाशाह पशुधन स्वास्थ्य बीमा स्कीम राजस्थान हेल्पलाइन

यदि आप सरकार की इस जनहितकारी स्कीम के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो टेलीफोन नंबर-0141-2731710 पर सम्पर्क कर मदद ले सकते हैं. इसके अतिरिक्त आप फैक्स नंबर-0141-2732566 पर फैक्स भी कर सकते हैं.

पशुधन योजना के टोल फ्री मोबाइल नंबर-9001531892 यह हैं dilipgupta@uiic.co.in इस ईमेल एड्रेस पर आप इमेल कर भी अपनी समस्या के सम्बन्ध में पूछताछ कर सकते हैं.

प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *