गो डैडी के संस्थापक बॉब पार्सन्स की जीवनी | Bob Persons In Hindi

Bob Persons In Hindi आज के समय की सबसे बड़ी डोमेन विक्रेता कम्पनी गो डैडी के संस्थापक बॉब पार्सन्स के बारे में लोग बहुत कम जानते हैं. ये एक ऐसी शख्सियत का नाम हैं, जिन्होंने अपने आरम्भिक जीवन बड़ा आर्थिक संकट झेला. माध्यम वर्गीय परिवार में जन्मे बॉब विश्व के सबसे अमीर लोगों में गिने जाने वाली हस्ती हैं. बॉब पार्सन्स की succes story आज के प्रत्येक नवयुवक के लिए inspiring storyसे कम नही हैं.

Bob Persons In Hindi ( बॉब पार्सन्स की जीवनी)

27 नवम्बर 1950 को बाल्टीमोर, मैरिलैण्ड, संयुक्त राज्य अमेरिका में जन्मे रोबर्ट पोर्सन्स को आज दुनिया गो डैडी के संस्थापक और सीईओ बॉब पार्सन्स के नाम से जानती हैं. आज इनकी अनुमानित सम्पति २.8 बिलियन डॉलर से अधिक आंकी जाती हैं.

मिडल क्लास फॅमिली में जन्मे बॉब ने अपने बचपन में बड़ा आर्थिक संकट झेला. उन्होंने ऐसा वक्त भी देखा जब पैसे के लिए मोहताज परिवार की जरुरतो की पूर्ति के लिए बॉब पार्सन्स को अखबार बेचने के साथ-साथ फैक्ट्रियो और गैस स्टेशनों में भी कई महीनों तक एक मजदूर की भांति कार्य करना पड़ा था. इतना सब कुछ झेलने के बावजूद वो आज बहुत सारी व्यापारिक कम्पनियों के मालिक और सह-मालिक हैं.

यूएस मरीन कोपर्स

66 वर्षीय ने हाई स्कुल से आरम्भिक शिक्षा पूर्ण करने के पश्चात् अमेरिका-वियतनाम युद्ध के दौरान कुछ समय के लिए अमेरिकी मरीन कोपर्स से भी जुड़े थे. इस दौरान बॉब पार्सन्स को 26 वीं बटालियन का सदस्य बनाया गया था. इसके अतिरिक्त इसी वियतनाम युद्ध के समय बॉब पार्सन्स डेल्टा के लिए 1969 में राइफलमैन का भी काम कर चुके हैं.

अमेरिकी मरीन में बॉब पार्सन्स के सेवाकार्य के दौरान इन्हे वियतनामिज क्रोस ऑफ गैलेट्री, काम्बैट एक्शन रिबन और पर्पल होर्ट सम्मान से भी पुरुस्कृत किया गया. इस सक्रिय भूमिका के बाद बॉब पार्सन्स ने अपनी कॉलेज की पढाई (ग्रेजुएशन) पूरी की.

 पब्लिक अकाउंटेंट से करियर

बॉब पार्सन्स पेशे से एक पब्लिक अकाउंटेंट हैं. बॉब ने अपने करियर के शुरूआती वर्षो में कई निजी कम्पनियों के लिए एकाउंटिंग और मैनेजमेंट के पद पर कार्य किया. एक अकाउंटेंट के तौर पर कार्य करते हुए बॉब की रूचि कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की तरफ बढ़ी. जो उस समय में एक नया विषय था.

इसी रूचि को बॉब पार्सन्स ने अपने बिजनेस में बदल दिया. इसी क्रम में इन्होने वर्ष 1984 में पार्सन्स तकनीक (टेक्नोलॉजी) नाम से एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर कम्पनी बनाई. इसकी शुरुआत के ठीक १० साल बाद बॉब ने 1994 में इसे 64 मिलियन डॉलर की कीमत पर इस कम्पनी को बेच दिया.

अच्छे समाज सेवक भी

आज की विख्यात ऑनलाइन डोमिन कम्पनी गो डैडी की शुरुआत बॉब पार्सन्स ने 1997 में की थी. इनके अतिरिक्त बॉब के पास बाइक डीलरशिप, कस्टम मोटरसाइकिल शॉप, गोल्फ क्लब और ऐसी सैकड़ो कम्पनियों का स्वामित्व इनके पास हैं. बॉब पार्सन्स मानते हैं. कि उन्होंने आज तक जो भी कमाया हैं, उसे अपने समाज को वापिस करना चाहिए. बॉब अब तक 90 बिलियन डॉलर से अधिक पैसा गरीब बच्चो के खाने शिक्षा और अनाथालय में दान कर चुके हैं.

Leave a Reply