बायलर मॉउंटिंगस और एक्सेसरीज क्या है? हिंदी में।What is Boiler Mountings and Accessories? In Hindi.

बायलर (BOILER)

वाष्पक के नाम से भी बायलर को जाना जाता है। बायलर एक बंद पात्र होता है, जिसमें पानी या किसी अन्य तरल प्रदार्थ को गर्म किया जाता है। इसमें गर्म करने से उत्पन्न वाष्प को निकालने की समुचित व्यवस्था होती है जिससे वाष्पीकृत तरल को निकाल कर उचित उपयोग में जाया जा सके।

बायलर मॉउंटिंगस (BOILER MOUNTINGS)

मॉउंटिंग के बिना बायलर का कोई भी ऑपरेशन हो पाना संभव नहीं है इसीलिए माउंटिंग को बायलर के  सतह पर लगाया जाता है। मॉउंटिंगस, बायलर का एक महत्त्वपूर्ण पार्ट है। मॉउंटिंग के मुख्य प्रकार हैं:

  • वाटर लेवल इंडिकेटर (Water Level Indicator)

यह डिवाइस, बायलर में मौजूद पानी की मात्रा को दर्शाता है।

ये भी पढ़ें: क्वालिटी क्या है? हिंदी में | WHAT IS QUALITY? IN HINDI

  • प्रेशर गेज (Pressure Gauge)

यह बायलर शैल के सबसे ऊपरी सतह लगा होता है और स्टीम के प्रेशर को मापने के लिए प्रयोग किया जाता है।

  • सेफ्टी वाल्व (Safety Valve)

ओवरप्रेसर का बचाब करने वाला मुख्य उपकरण सेफ्टी वाल्व है। जब बायलर में एक पहले से निश्चित किये हुए प्रेसर से ज्यादे मात्रा प्रेशर पहुंच जाता है तो सेफ्टी वाल्व अपने आप खुल जाता है और अतरिक्त तरल को बाहर निकाल देता है। यह बायलर में सेफ गॉर्ड की तरह कार्य करता है।

  • फीड चेक वाल्व (Feed Check Valve)

यह बायलर के आखिर में लगा होता है जो फीड वाटर पंप के साथ लगा होता है और इसका उपयोग पानी के फ्लो को रेगुलेट करने के लिए करते हैं।

  • स्टीम स्टॉप वाल्व (Steam Stop Valve)

स्टीम सप्लाई को अवरुद्ध करने या खोलने के लिए स्टीम स्टॉप वाल्व का उपयोग किया जाता है।

  • मैन होल (Man Hole)

बायलर के सबसे ऊपरी सतह पर ओपनिंग होती है जहाँ से कोई भी इंसान अंदर जा कर बायलर की सफाई कर सके।

  • ब्लो डाउन (Blow Down)

यह बायलर में मौजूद किसी भी प्रकार के पार्टिकल और बायलर को साफ़ रखने में सहायक होता है। इसकी मदद से बायलर में मौजूद पानी को सफाई के लिए निकाला जाता है।

ये भी पढ़ें: 5S क्या है? हिंदी में जानें | WHAT IS 5S? IN HINDI

बायलर एक्सेसरीज (BOILER ACCESSORIES)

बायलर की कार्यक्षमता (Efficiency) बढाने के लिए जिन यन्त्र (Device) को बायलर के साथ इंस्टॉल किया जाता है, उन्हें Accessories कहते हैं। यह यन्त्र (Device) माउंटिंग के अपेक्षा कम महत्वपूर्ण होते है। एक्सेसरीज के बिना भी हम बायलर को चला सकते हैं लेकिन एक्सेसरीज के साथ वाले बायलर की अपेक्षा बिना एक्सेसरीज वाले बायलर कम कार्यक्षमता (Efficiency) पर कार्य करेंगे। एक्सेसरीज के मुख्यतः निम्न प्रकार हैं:

  • फीड वाटर पंप (Feed Water Pump)

FWP का उपयोग बायलर में पानी को फीड करने के लिए किया जाता है।

  • इजेक्टर (Injector)

इंजेक्टर का कार्य भी फीड वाटर पंप जैसा ही होता है। यह बायलर में पानी को ज्यादा प्रेशर के साथ फीड करने के लिए बहुत उपयोगी यंत्र है।

  • प्रेशर रिड्यूसिंग वाल्व (Pressure Reducing Valve)

बॉयलर से स्टीम की मांग बदलती (कभी कम, कभी जायदे) रहती है उसके बावजूद PRV का कार्य वाल्व के डिलीवरी साइड पर निरंतर दबाव (Pressure) बनाए रखना है।

ये भी पढ़ें: काइज़न क्या है? हिंदी में जानें। WHAT IS KAIZEN? IN HINDI

  • इकॉनोमाइज़र (Economizer)

यह यंत्र (Device) फ्लू (Flue) गैस के रास्ते में लगाया जाता है। इस यन्त्र का उपयोग ख़राब हो चुकी हीट (जिसे Waste हीट के नाम से जानते हैं) को फिर से उपयोग में लेने के लिए किया जाता है। इस Waste हीट के माध्यम से फीड वाटर को हीट किया जाता है।

  • एयर प्री हीटर (Air Pre Heater)

इस यन्त्र का उपयोग Combustion Chamber में पहुंच रही हवा को प्रवेश करने से पहले गर्म करना होता है।

  • सुपर हीटर (Super Heater)

यह स्थिर (Stationary) बायलर के लिए उपयोग में लिया जाता है। यह एक ऐसा उपकरण है जिसका कार्य Saturated स्टीम या Wet स्टीम को Super Heated स्टीम या Dry स्टीम  में बदलने के लिए किया जाता है।

ये भी पढ़ें: कंपनी में निरीक्षण क्या होता है? हिंदी में | WHAT IS INSPECTION IN INDUSTRY? IN HINDI

  • स्टीम सेपरेटर (Steam Separator / Drier)

यह एक भाप विभाजक है। जब स्टीम में पानी के कुछ पार्टिकल्स रह जाते हैं तो स्टीम से पानी की बूंदों को अलग करने के लिए इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है।

 

लेखक: दोस्तों, बायलर मॉउंटिंगस और एक्सेसरीज क्या है? हिंदी में।What is Boiler Mountings and Accessories? In Hindi का यह लेख  hihindi.com के लिए Brijendra Rai जी द्वारा लिखा गया है। इन्होने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक किया है और बतौर इंजीनियर कार्य करते हैं। बृजेन्द्र राय जी इंजीनियरिंग एक्सपर्ट के रूप में सम्मानित लेखक हैं, जो समय – समय पर पाठकों के साथ अपना अनुभव व ज्ञान साझा करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *