बाल विवाह के दुष्परिणाम | child marriage effects

child marriage effects in Hindi: बाल विवाह essay में हमने चाइल्ड मैरिज की सामाजिक बुराई के बारे में विस्तृत में जाना है. प्राचीन समय के कुछ रीती रिवाज जो उस समय की आवश्यकता का अनुकूल बनाए गये थे. मगर वर्तमान में अन्धानुकरण के चलते आज भी बाल विवाह जैसी कुप्रथाएं हमारे देश में प्रचलित है. नन्हें मुन्ने बालकों को विद्यालय में व खेल में मैदान में शोभा देते है, इस उम्रः में उन्हें विवाह के मंडल में बिठाकार एक महत्वपूर्ण संस्कार सम्पन्न करवा देना, जब वे विवाह की abcd की नही जानते है. एक आधुनिक भारतीय समाज में कंलक है.

child marriage effects

बाल विवाह के दुष्परिणाम | child marriage effects

इस कुप्रथा के चलते बालक-बालिका पर निम्न दुष्प्रभाव पड़ते है.

  • बच्चों का मानसिक विकास रुक जाता है.
  • बच्चों का बचपन समाप्त हो जाता है.
  • विशेषकर बालिकाओं का कम उम्रः में विवाह कर देने से वह उच्च शिक्षा नही प्राप्त कर पाती है.
  • कम उम्रः में विवाह होना बालिका के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालता है. लडकियों का विवाह छोटी उम्रः में कर दिए जाने से छोटी उम्रः में गर्भवती हो जाती है, जिससे कई मनोवैज्ञानिक समस्याएं उत्पन्न हो जाती है. कुपोषण, अत्यधिक कार्यभार, अशिक्षा, यौन व्यवहार की अनभिज्ञता के कारण इन गर्भवती लड़कियों का जीवन भयंकर खतरे में पड़ जाता है.
  • ये अपरिपक्व गर्भधान, यौन सक्रमण तथा एड्स जैसी बीमारियों से ग्रसित हो जाती है. साथ ही इनमें से अधिक के बच्चें कुपोषण के शिकार होते है. कम वजन के होते है और उनकी मृत्यु का खतरा अधिक होता है.
  • छोटी उम्रः में बालिकाओं पर परिवार की जिम्मेदारी आ जाती है. यह उनके पूर्ण मानसिक व शारीरिक विकास में बाधक होता है.
  • कई बार बालिकाएं बाल विधवा हो जाती है. इस शाप से जो जीवनभर मुक्त नही हो पाती है, तथा पूरा जीवन वैधव्य के साथ बिताना पड़ता है.
  • कई बार लड़के बड़े होकर अच्छा व्यवसाय या नौकरी कर लेते है. वे छोटी उम्रः में की गई पत्नी को छोड़कर नया विवाह रचा लेते है. ऐसे में उस युवती को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.
  • कम उम्रः में बाल विवाह कर दिए जाने से जनसंख्या बढ़ती है, तथा जनसंख्या वृद्धि का परिणाम देश व समाज को भुगतना पड़ता है.
  • बाल विवाह से मातृ मृत्यु दर व शिशु मृत्यु दर में भी बढ़ोतरी होती है.

अन्य पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *