About Diabetes: डायबिटीज को हम शुगर, मधुमेह आदि नाम से भी जानते है. कई लोग डायबिटीज को एक गंभीर बीमारी मानते है. अब तक यह माना गया है की डायबिटीज होने के बाद मरीज का जीवन ओसतन 7-8 साल कम हो जाता है. लेकिन अब दुनियाभर में डायबिटीज को लेकर सोच बदल रही है. अगर डायबिटीज को सही से मैनेज किया जाए तो यह 8 साल जीवन और बढ़ा सकती है.

इसके लिए अधिक वजन को कम करना होगा, शुगर जांच नियमित करनी होगी, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करना होगा, नींद पूरी लेनी होगी, तनाव पर नियंत्रित रखना होगा आदि. यदि हम ऐसा करते है तो हम डायबिटीज पर जीत हासिल कर सकते है. आईये आज डायबिटीज डे पर डायबिटीज से जुड़ी कुछ बातों के बारे में जानते है.

About Diabetes (डायबिटीज डे विशेष, जानिये डायबिटीज के बारे में)

इंसुलिन को लेकर सच

भ्रम:- टाइप-1 के अलावा करीब 25% टाइप-2 मरीजों को भी इंसुलिन की जरूरत पड़ती है. डायबिटीज के करीब 90% मरीज इंसुलिन का नाम सुनते ही घबरा जाते है. ज्यादातर मरीज यह मानते है की अगर एक बार इंसुलिन लेना शुरू कर दिया तो इसकी आदत पड़ जाएगी. इंसुलिन फिर कभी बंद नहीं होगी. उन्हें लगता है की इंसुलिन का इंजेक्शन लगाना दर्दभर होगा

सच्चाई:- शुगर नार्मल होने पर इंसुलिन बंद कर दी जाती है. अगर बंद नहीं होती है तो यह मरीजों की आदत नहीं बल्कि उनकी जरूरत है. इंसुलिन इंजेक्शन पतली सुई के आते है, दर्द का पता ही नहीं चलता है. इसे खुद ही लगाया जाता है. इंसुलिन इंजेक्शन पेन का इस्तेमाल करना बेहद आसान है.

इन तीन बातों का ध्यान रखें

  • A1C 7 फीसदी के नीचे रखें: पिछले कुछ महीनों की शुगर की स्थिति को पता करने के लिए यह टेस्ट होता है. इसे हमेशा 7% के नीचे रखें. 6% से हर एक फीसदी उपर होने पर डायबिटीज के दुष्प्रभाव बढ़ने लगते है.
  • ब्लड प्रेशर 140-180 के नीचे रखें: डायबिटीज के करीब 60% लोगों को ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है. इससे हार्ट अटैक, स्ट्रोक और किडनी की समस्या हो सकती है. इसलिए इसे हमेशा 140/180 के बीच रखें.
  • कोलेस्ट्रोल LDL 70 से नीचे रखें: कोलेस्ट्रोल का विशेष ध्यान रखें. LDL को 70 के नीचे रखें. साल में दो बार इसकी जांच कराएँ.

इन 6 अंगों को होता है डायबिटीज से सबसे ज्यादा खतरा

किडनी, दिल, दिमाग, आँखे, दांत और पैर इन अंगो को डायबिटीज से सबसे ज्यादा खतरा रहता है.

यह आदतें बन सकती है डायबिटीज की वजह

  • एक शोध के अनुसार दिन में 6 कप कॉफ़ी पीना डायबिटीज के खतरे को 33 फीसदी कम कर देता है. इसलिए कॉफ़ी पीना बंद ना करें.
  • तेज धुप से खुद को बचाना जरुरी है, लेकिन हल्की धुप जरुर ले. जिनमे विटामीन D की कमी होती है उन्हें डायबिटीज होने की आशंका ज्यादा रहती है.
  • देर रात तक जागने वाले लोग इस बीमारी के चपेट में आ सकते है.
  • डायबिटीज के मरीज रात 8 या 9 बजे के बाद खाना खाते है तो उन्हें हार्ट डिसीज का खतरा 36 फीसदी अधिक होता है.

उम्मीद करता हु की आपको डायबिटीज से जुड़ी यह पोस्ट पसंद आई होगी. अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर करे और कमेन्ट बॉक्स में अपने विचार दे.

News Reporter

प्रोफेशनल ब्लॉग लेखक hihindi.com के सहसंपादक और सहयोगी। तकनीकी ट्रिक्स नई जानकारी और स्वास्थ्य जैसे विषयों पर लिखते है

Leave a Reply