Earth Planet Information In Hindi | Earth and its circle | हमारी पृथ्वी के बारे में

Earth Planet Information In Hindi | Earth and its circle | हमारी पृथ्वी के बारे में

जिस पृथ्वी पर हम रहते है. यह इतनी विशाल है कि इस बारे में हम अभी तक सम्पूर्ण ज्ञान प्राप्त नही कर सके है. इस लेख में how earth (Hamari Prithvi) was born human life history autobiography of earth essay in Hindi के बारे में चर्चा करेगे. Short essay & Information ABout Earth Planet  In Hindi

सूर्य से दूरी के अनुसार तीसरा और आकार के अनुसार पृथ्वी सौर परिवार का पांचवां सबसे बड़ा ग्रह है. यह अन्य ग्रहों की तरह सम्पूर्ण प्रकाश एवं ऊष्मा सूर्य से प्राप्त करती है. शुक्र को पृथ्वी का जुड़वाँ ग्रह (Twin planet of Earth) माना जाता है. क्योंकि उसका आकार एवं आकृति लगभग पृथ्वी के समान ही है. पृथ्वी की उपग्रहों से ली गई तस्वीरों में यह गोलाकार दिखाई देती है.

पृथ्वी के मापन से यह पता चलता है कि यह दोनों ध्रुवों पर दबी हुई है तथा विषुवत वृत पर कुछ उभरी है. सौरमंडल में पृथ्वी ही एक अनोखा ग्रह है जिस पर जीवन है. पृथ्वी पर जीवन होने के कारण ही इसे जीवंत ग्रह कहा जाता है. सूर्य के निकटवर्ती ग्रह अधिक गर्म है और दूर स्थित ग्रह अत्यधिक ठंडे है.

इसलिए यहाँ जीवन संभव नही है. पृथ्वी का औसत तापमान 15 डिग्री सेंटीग्रेड है जो जीवन के लिए आदर्श है. यह तापमान वायुमंडल के कारण बना हुआ है. यहाँ पर्यावरण के तीन प्रमुख घटक या परिमंडल आपस में मिलते है और एक दूसरे को प्रभावित करते है.

पृथ्वी ग्रह के बारे में जानकारी, निबंध (Information about Earth Planets)

पृथ्वी की ऊपरी ठोस परत जिस पर हम रहते है, उसे स्थलमंडल या भूमंडल कहते है. स्थलमंडल पर मिट्टी पाई जाती है, जिसमें किसी न किसी रूप में जीवों को भोजन प्राप्त होता है. स्थलमंडल से ही विभिन्न प्रकार के खनिज मिलते है. जो जीवन निर्वाह के लिए महत्वपूर्ण है.  पृथ्वी के चारों ओर गैसों का आवरण है, उसे वायुमंडल कहा जाता है.

नाइट्रोजन, ऑक्सीजन, आर्गन, कार्बनडाई ऑक्साइड आदि वायुमंडल में पाई जाने वाली प्रमुख गैसें है. ऑक्सीजन एक जीवनदायिनी गैस है. जिसे सभी श्वसन क्रिया में काम में लेते है, जल जो जीवन के लिए सबसे आवश्यक तत्व है, पृथ्वी के लगभग 71 प्रतिशत भाग पर है, इसे ही जलमंडल कहा जाता है.

पृथ्वी को जलग्रह या नीला ग्रह भी कहा जाता है. पृथ्वी पर जल महासागरों, सागरों, झीलों, नदियों आदि में पाया जाता है. महासागरों में खारा जल होता है.

पृथ्वी की सतह के अधिकांश भागों पर किसी न किसी प्रकार का जीवन पाया जाता है. वायुमंडल, जलमंडल एवं स्थलमंडल तीनों सौर परिवार में केवल पृथ्वी पर ही पाए जाते है. इन तीनों मंडलों के मिलने के कारण पृथ्वी के चौथें परिमंडल के रूप में जैवमंडल की उत्पत्ति हुई, जहाँ जीव जन्तुओं का अस्तित्व पाया जाता है.

जैव मंडल में ही जीव जन्तु, पेड़-पौधें और मनुष्य रहते है. अब तक ब्रह्माण्ड की ज्ञात जानकारी के अनुसार केवल पृथ्वी पर ही जीवन संभव है.

READ MORE:-

Leave a Reply