हवाई जहाज पर निबंध – Essay On Aeroplane In Hindi

Here Paragraph About information On Aeroplane In Hindi. Short Best Long Essay On Aeroplane In Hindi Language. हवाई जहाज पर निबंध, Hawai Jahaj par Nibandh.

हवाई जहाज पर निबंध – Essay On Aeroplane In Hindi

हवाई जहाज पर निबंध - Essay On Aeroplane In Hindi

प्राचीन हिन्दू ग्रंथों और पुराणों को पढ़ने पर ज्ञात होता है कि आज से हजारो लाखों वर्ष पूर्व ही हवाई जहाज थे जिन्हें विमान कहते थे. इनमें पुष्कर विमान सुप्रसिद्ध हैं. जिसमें बैठकर पहले देवता आते जाते थे, फिर रावण ने इसका खूब प्रयोग किया. रावण की मृत्यु के पश्चात राम, लक्ष्मण और सीता पुष्कर विमान द्वारा अयोध्या वापस आए थे.

विज्ञान के इस आधुनिक युग में हवाई जहाज का आविष्कार पक्षियों को देखकर विशेषकर चील को देखकर किया गया. हवाई जहाज बनाने का प्रथम रिकॉर्ड युआन हांगातू के नाम हैं जिसने छठवी सदी में हवाई जहाज उड़ाने के प्रयास किया था. वर्ष 1502 में लियोनार्डो द विंसी ने पक्षी के पंखों जैसा हवाई जहाज बनाया, तो 1603 में लागरी हसन पिलेटर डी रोजर एवं फ्रांकोइस डी अर्लान्डीस ने ऐसा हवाई जहाज बनाया जो हवा से भी हल्का था. परन्तु यात्री लेकर उड़ने वाले हवाई जहाज 1853 में बना जिसे सर जार्ज कैले ने बनाया था. 28 अगस्त 1883 को अमरीकी जॉन जे मोंटगोमरी ने ऐसा हवाई जहाज बनाया जिसे हवा में भी नियंत्रित किया जा सकता था. परन्तु 17 दिसम्बर 1903 को राईट ब्रदर्स ने हवा से भी हल्का ऐसा हवाई जहाज बनाया जो हवाई उड़ान में एक पूर्ण सफल था जो पूरी तरह नियंत्रित था. इस प्रकार इस क्षेत्र में उतरोतर प्रगति होती चली गई और एक से बेहतर एक हवाई जहाज तथा जेट विमान बनते चले गये.

रोकेट के बाद सबसे तेज चलने वाला हवाई जहाज ही हैं. कमर्शियल जेट एयरक्राफ्ट 1000 किमी प्रति घंटे की गति से उड़ता हैं और एक साधारण हवाई जहाज 425 किमी प्रति घंटे की गति से चलता हैं. इसी प्रकार सुपरसोनिक एयरक्राफ्ट जो मिलिट्री के काम आता हैं ध्वनि की गति से भी तेज उड़ता हैं. सबसे बड़ा हवाई जहाज एम 225 और सबसे तेज चलने वाला हैं मिकोयान मिग 31.

An Aeroplane Essay In Hindi

आज वैज्ञानिकों ने ऐसे भी हवाई जहाज बना दिए हैं जो बगैर पायलट के उड़ते हैं, जो सेना में लड़ाई के अलावा जासूसी के काम भी आते हैं. हवाई जहाज़ों में ब्रेक का इस्तेमाल जमीन पर चलते समय उसे रोकने या गति को धीमा करने तथा उसे जमीन पर चलते समय घुमाने के लिए किया जाता हैं.

एक हवाई जहाज में एक से अधिक पायलटों की आवश्यकता होती हैं जो उसे नियंत्रित करते हैं. अन्य एयरक्राफ्ट की अपेक्षा जेट विमान की क्षमता एवं गति सबसे अधिक होती हैं. उड़ते समय यह अधिक शोर भी करता हैं. आज के युग में एक हवाई जहाज 500 से अधिक यात्रियों को ले जाने और 17 हजार किमी तक उड़ने की क्षमता रखता हैं. कुछ विमानों को केवल सामान लाने और ले जाने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं, उन्हें कार्गो एयरक्राफ्ट कहते हैं.

भारत में एअर इंडिया और इंडियन एयरलाइन्स की स्थापना वर्ष 1953 में हुई. जहाँ एअर इंडिया के पास 26 वायुयान हैं, वही इंडियन एयरलाइन्स 79 घरेलू व 14 देशों की 16 अंतर्राष्ट्रीय उड़ाने भरती हैं. इसके अतिरिक्त पवनहंस हेलीकाप्टर है जो यात्रियों को दुर्गम स्थानों पर ले जाने के लिए प्रसिद्ध हैं.

आजकल अन्य निजी कम्पनियां भी वायु परिवहन की प्रतिस्पर्धा में भारत आ गई हैं जैसे गो एअरलाइन्स, सहारा एयरलाइन्स आदि. आज कई वैज्ञानिकों ने तो ऐसे पंखों का भी आविष्कार कर दिया हैं जिन्हें लगाकर आदमी पक्षियों की तरह उड़ भी सकता हैं. निष्कर्षतः आज वायु परिवहन अपने चरमोत्कर्ष पर हैं.

#Essay on an Airplane #essay about aeroplane in hindi

दोस्तों Essay On Aeroplane In Hindi में दी जानकारी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *