Short Essay on Camel in Hindi And English | ऊंट के बारे में

Short Essay on Camel in Hindi And English | ऊंट के बारे में

in this Essay on Camel in Hindi and English language essay information on camel animal. desert plane (airplane) camel brief introduction in ten line. for class 6,7,8,9,10 students use this information in a write short Essay on Camel in Hindi & English. some interesting Facts about Camel giving a blow. camel essay for kids and students lets start to read.

Short Essay on Camel in Hindi And English
Essay on Camel

Short Essay on Camel in Hindi And English | ऊंट के बारे में

English Essay on Camel-

the camel is a best of burden. he is found in arabia and some other countries. the camel is a starger animal. he is brown in colour. he has hump oh his his back. some camels have two humps.

the camel can live without food and water for many days. he can store water in his stomach. it servies him for a long time.

camel carries heavy loads. he is used in sandy places, his feet are like cushions. they do not get stuck in the sand. he is called the ship the desert.

in aisa and africa, trade is carried on with help of camels. he is also used for ploghing fields.

Historical evidence suggests that the ancestors of modern camels were founded in North America, which later spread to Asia. Circa 2000 B.C. In the first initiative, man had made camels pet.

Both the Arabian camels and the backtrien camel are still used for carrying milk, meat and snacks.

Short Essay on Camel in Hindi (ऊंट के बारे में)

Essay on Camel
Essay on Camel

ऊंट एक चौपाया जानवर है. चौथी शताब्दी में यह अरबी व्यापारियों के साथ भारत आया. राजस्थान के पश्चिम के थार के मरुस्थल में बड़ी संख्या में ऊंट पाए जाते है. इसके सिवाय देश के अन्य हिस्सों में भी यह ऊंट पाया जाता है. बौझा ढोने तथा सवारी के लिए इसका उपयोग मुख्यत किया जाता है. भारत में एक कूबड़ वाले ऊंट पाए जाते है, जबकि कुछ अफ़्रीकी देशों में दो कूबड़ वाले ऊंट भी पाए जाते है.

इस विशालकाय जानवर के दो आंखे, दो कान, लम्बी पीठ, एक पूंछ होती है. ऊंट के पेट में एक विशाल थैली होती है, जो उसके लिए भोजन एवं पानी का संग्रह कर कई दिनों के लिए कर लेती है. एक वक्त ऊंट 40-50 लीटर तक पानी पी लेता है.

तथा दो सप्ताह से अधिक यह बिना खाएं पीए भी जीवित रह सकता है. पाकिस्तान में ऊंटों की लड़ाई के मेले भी लगते है. आज ऊंट की प्रजाति लुप्त हो रही है. सरकार द्वारा इसे बचाने लिए लिए बीकानेर में ऊंट महोत्सव भी मनाया जाता है.

रेगिस्तान का जहाज कहा जाने वाला ऊंट बेहद धैर्यशाली जानवर है. यह अपनी क्षमता से अधिक मात्रा में वजन खीचकर दौड़ने में समर्थ है. ऊंटनी का दूध (milk) बेहद गुणकारी होता है, जिसे पीने से मनुष्य शक्तिशाली बन सकता है.

Short Essay on Camel in Hindi And English | ऊंट के बारे में अच्छा लगा हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे. पालतू जानवरों से जुड़े अन्य निबंध पढ़ने के लिए यहाँ जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *