Essay On independence Day In Hindi 200 Words 15 August 2018 Short Essay For Students

Essay On Independence Day In Hindi 200 Words 15 August 2018 Short Essay For Students

Essay On independence Day In Hindi 200 WordsHey, Students And Friends Here You Get Essay On Independence Day In Hindi 200 Words for students They Read In Class 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10 And Searching 15 August 2018 Short Essay in 100, 150, 200, 250, 300, 400 And 500 words. Long And Short independence day essay For Students, Kids, Children, And Teachers Can Use This Short Essay As Your Topic 5 Line, 10 Line To Say Something On Indian independence Day 2018. सभी भारतीयों को HIHINDI.COM टीम की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं, आज आपके लिए  independence Day यानि 15 August 2018 पर Short Essay विभिन्न शब्द सीमा में प्रस्तुत कर रहे हैं.

Essay On Independence Day In Hindi 200 Words- 72 वें स्वतंत्रता दिवस पर निबंध (इंडिपेंडेंस डे एस्से)

हम सबकी शान तिरंगा है हमारी पहचान तिरंगा है, जी हैं भारत 15 अगस्त 2018 को अपना 72 वां स्वतंत्रता दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाने जा रहा हैं. एक लम्बे अरसे तक की गुलामी के बाद भारत के लोगों को स्वतंत्रता के सूरज का भान इसी दिन हुआ था. तभी से हम 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते आए रहे हैं.

Essay On Independence Day In Hindi 200 Words

15 अगस्त को हम भारत की स्वतंत्रता का जन्म दिवस भी कह सकते हैं. इसके पीछे कि वजह आप सब को मालुम ही होगी, क्योंकि इसी दिन हमारा भारत देश गोरों की 200 वर्षों की लम्बी गुलामी के बाद स्वतंत्र हुआ था.

भारत पर विदेशियों के शासन की शुरुआत तो 12 वीं सदी में ही अफगानों के आक्रमण के साथ शुरू हो गई थी. इससे पूर्व भारत में हिन्दू शासकों का राज्य हुआ करता था.अंग्रेजों का भारत में आगमन एक नई रणनीति के तहत हुआ था, उन्होंने निजी शासकों को व्यापार के लाभ के बहाने झांसे में लेकर एक व्यापारी के तौर पर भारत में रहने की अनुमति मांगी थी.

अपनी कूटनीति एवं मुगल शासकों के पारिवारिक झगड़ों में व्यस्त होने के अवसर को देखकर अंग्रेजों ने दिल्ली की सत्ता प्राप्त कर ली थी.

आधुनिक युग में भारतीय स्वतंत्रता सैनानियों के अथक प्रयास के बाद भारत को स्वतंत्रता दिलाने में कामयाबी हासिल की. हालांकि इस संघर्ष में भारत को कई अपने अहम हिस्सों को भी खोना पड़ा. 1905 का बंगाल विभाजन, 1947 में भारत पाकिस्तान विभाजन और अंग्रेजों ने जाते जाते कश्मीर को भी विवादित बना दिया, जिसका परिणाम आज दोनों देश भुगत रहे हैं.

देश की जनता की इच्छा के विरुद्ध अंग्रेजों ने पहले बंगाल के टुकड़े किए, फिर उन्होंने भारत के टुकड़े कर दिए. तत्पश्चात आखिर 15 अगस्त 1947 के दिन भारत को आजादी और पहली बार दिल्ली के लाल किले पर यूनियन जैक की जगह तिरंगा झंडा फहराया गया था.

Short Speech Independence Day Essay In Hindi 200 Words Part- 2

15 अगस्त हमारा राष्ट्रीय पर्व हैं, हर साल इसे हम बड़े धूम धाम के साथ मनाते हैं. सभी छोटे बड़े विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में छात्र इस ऐतिहासिक उत्सव को बड़े उल्लास एवं उत्साह के साथ आयोजित करते हैं. हमारे विद्यालय में भी विगत वर्षों की तरह इस साल भी स्वतंत्रता दिवस 2018 हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा हैं. स्कूल के सभी छात्र छात्राएं पूर्व निर्धारित समय के अनुसार विद्यालय प्रांगण में एकत्रित हुए, सभी अध्यापक भी इस अवसर पर उपस्थित रहे.

कार्यक्रम अपनी रुपरेखा के अनुसार आगे बढ़ा, हमारे प्रधानाचार्य जी मंच का संचालन कर रहे थे. उन्होंने छात्रों को प्रभात फेरी में चलने का संकेत किया. छात्र तीन तीन की लाइन में सड़क पर चल रहे थे. पकती में आगे वाले छात्र के हाथ में तिरंगा था, वे सभी देशभक्ति गीत तथा भारत माता की जय, वन्दे मातरम के नारे बुलंद कर रहे थे.

प्रभात फेरी के बाद छात्रों की टोली विद्यालय प्रांगण में पहुची, मुख्य अतिथि महोदय द्वारा ध्वजारोहण के पश्चात सभी छात्रों ने तिरंगे की सलामी दी. अब बारी थी 15 अगस्त के सांस्कृतिक कार्यक्रम की, इस कार्यक्रम में बच्चों ने देशभक्ति भाषण, देशभक्ति कविताएँ, और शहीदों के लिए देशभक्ति गीतों के मार्मिक सुरों से प्रांगण में तालियों की गडगडाहट चलती रही, आखिर में मिष्ठान वितरण के साथ ही मेरे विद्यालय का स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम समापन हुआ.

Essay On Independence Day In Hindi 200 Words independence day essay & Speech- 3

राष्ट्रीय स्तर पर 15 अगस्त पर्व का मुख्य आयोजन दिल्ली के लाल किले में हर वर्ष आयोजित किया जाता हैं. इस समारोह को देखने के लिए भारी संख्या में जनसमूह उमड़ आता हैं, इस अवसर पर लाल किले का प्रांगण एवं सड़के खचाखच भर जाती हैं. यहाँ प्रधानमंत्री जी के आगमन के साथ ही कार्यक्रम का शुभारम्भ हो जाता हैं.

सेना के तीनों अंगों जल, थल और वायु सेना की टुकडियां और एनसीसी के केडिट सलामी देकर प्रधानमंत्री का अभिनन्दन स्वीकार करते हैं.

साथ ही देश के प्रधानमन्त्री लाल किले के सम्मानीय मंच पर जाकर समस्त देशवासियों का अभिनन्दन व स्वागत करते हैं तथा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को फहराने के साथ ही कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत हो जाती हैं. ध्वजारोहण के समय सेना की 21 तोपों द्वारा तिरंगे झंडे को सलामी दी जाती हैं.

इसके बाद इसी मंच से प्रधानमंत्री राष्ट्र के नाम संबोधन देते हैं, जिसमें सरकार के अहम कार्यों को जनता के सामने लाया जाता है तथा पड़ोसी देशों को भी इस देश प्रधान्मन्त्री द्वारा संदेश दिया जाता हैं. इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण सभी न्यूज चैनल्स पर लाइव दिखाया जाता हैं. प्रधानमंत्री के भाषण की समाप्ति पर उनके द्वारा तीन बार जय हिन्द का नारा उद्घोष किया जाता हैं, वहां उपस्थित लाखों लोग देश के नायक की राग में राग मिलाते हैं.

Read More:-

उम्मीद करते हैं दोस्तों आपकों short speech on independence day, independence day essay का यह लेख पसंद आया होगा. इस 15 अगस्त भाषण में दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो प्लीज independence day speech for kids को अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply