स्वतंत्रता दिवस पर निबंध | Essay on Independence Day In Hindi In 300 Words

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध Essay on Independence Day In Hindi In 300 Words: Dear Students We Welcome You, Here Is Best 15 August Essay For Students & Kids They Read In class 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10. Read Independence Day In 5, 10 Lines, 100, 150, 200, 250, 300, 400 and 500 Words Short Long Indian Independence Day Speech Essay 2019 In Hindi Language.

Essay on Independence Day In Hindi In 300 Words

Essay on Independence Day In Hindi In 300 Words

Independence Day Essay In Hindi: 15 अगस्त सन 1947 का दिन भारतीय इतिहास में महत्वपूर्ण स्थान रखता है. यह वह दिवस है जिस दिन हमे अंग्रेजो से आजादी मिली थी जिससे पुरे देश में हर्ष की लहर दौड़ पड़ी थी. तथा इसी दिन दिल्ली का लाल किला तिरंगे से सुशोभित हुआ था. इसके साथ ही भारत से विदेशी सता का खात्मा हुआ. इसी समय भारतीय जनता ने अपनी सरकार स्थापित की.

स्वतंत्रता दिवस मनाने का कारण- 15 अगस्त का दिन वर्ष 1947 के पश्चात प्रतिवर्ष हमारे स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस दिन को मनाने का मुख्य कारण देश की आजादी की खातिर शहीद हुए तमाम लोगों को श्रद्दांजलि अर्पित करना.

तथा कड़े सघर्ष से प्राप्त बहुमूल्य आजादी को निरंतर बनाए रखना. हर साल स्वतंत्रता दिवस का दिन एक महत्वपूर्ण राष्ट्रिय दिवस के रूप में पुरे देश में मनाया जाता है.

विभिन्न कार्यक्रम- स्वतंत्रता दिवस का कार्यक्रम हर साल सरकार व् पुरे देश की जनता द्वारा बड़े धूमधाम तरीके से मनाया जाता है. देश के हर कोने में इस पर्व को मनाया जाता है.

स्कुलो तथा कोलेजो में प्रातकाल से ही विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जाते है. गाँवों तथा शहरों में प्रभात फेरिया व देशभक्ति गीत गाए जाते है. देश व् विभिन्न राज्यों के राजधानी शहर में यह दिवस ध्वरोहण के साथ हर्षोल्लास से मनाया जाता है.

इस दिन राष्ट्रिय कार्यक्रम में प्रधानमन्त्री व् राज्य स्तरीय समारोह में मुख्यमन्त्रियो द्वारा ध्वजारोहण किया जाता है. स्वतंत्रता दिवस पर हमारे राष्ट्रिय ध्वज के सम्मान में 21 तोपों की सलामी देकर गोले दागे जाते है.

लाल किले की प्राचीर से प्रधानमन्त्री महोदय झंडा फहराकर विशाल जन समूह को संबोधित करते है. दिल्ली के राजपथ में आयोजित इस स्वतंत्रता दिवस का सीधा प्रसारण आकाशवाणी तथा कई अन्य टीवी चैनल्स पर किया जाता है.

इस दिन देश के सभी सरकारी और निजी कार्यालयों में ध्वजारोहण के साथ राष्ट्रगान गाया जाता है. रात के समय सभी शहरों और कस्बो को रौशनी से जगमगा दिया जाता है. सभी देशवासी प्रसन्नता व् हर्ष से स्वतंत्रता दिवस के इस राष्ट्रिय उत्सव को बड़े धूमधाम से मनाते है.

उपसहार-भारत के इतिहास में स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त ) का दिन हमेशा अमर रहेगा. हर साल यह दिन देशवासियों में नया जोश और जूनून लेकर आता है.

वास्तव में यह दिन हमारे देश का महत्वपूर्ण राष्ट्रिय पर्व है. हमे हर साल इसे अत्यधिक जोश और उत्साह के साथ मनाना चाहिए.

essay on independence day in hindi for class 5

प्रस्तावना– अपनी स्वतंत्रता पर गर्व करना किसी भी देश के लिए ख़ुशी की बात है आजादी प्राप्ति करने में लाखों वीर बलिदान हो जाते हैं. शहीदो की याद को बचाए रखने व स्वतंत्रता पर गर्व के लिए स्वतंत्रता दिवस समारोह हमारे देश में प्रतिवर्ष 15 अगस्त को अपना भारत देश राष्ट्रीय स्वतंत्रता दिवस [इंडिपेंडेंस डे] को सेलिब्रेट करता हैं.

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस मनाने का कारण– हमारा देश सदियों की परतन्त्रता के बाद 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ. इस शुभ दिन के लिए न जाने कितने वीरों ने अपनी जान न्यौछावर कर दी. इस दिन लाल किले पर हमारा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा मुक्त आकाश में फहर उठा. सभी भारतवासियों ने इसी दिन गुलामी की जंजीरों से मुक्ति पाई. इस दिन बलिदानियों को श्रद्धा के साथ याद किया जाता हैं.

विभिन्न कार्यक्रम– स्वतंत्रता दिवस हमारे देश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उत्सव हैं. इस पर्व को सरकारी स्तर से लेकर आमजन तक धूम धाम से मनाया जाता हैं. आजादी पर्व के अवसर पर दिल्ली के लाल किले की प्राचीर से देश के प्रधान द्वारा तिरंगा फहराकर सलामी दी जाती हैं. साथ ही देश भर में विभिन्न सरकारी संस्थाओं तथा कार्यालयों पर ही ध्वजारोहण करने की परम्परा हैं. संसद भवन विधानसभा एव विभिन्न सरकारी भवनों को रोशनी से सजाया जाता हैं तथा कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये जाते हैं.

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हर ओर राष्ट्र प्रेम के गाने गीत संगीत नारे जयकारों की गूंज सुनाई देती हैं आकाशवाणी तथा दूरदर्शन बड़े राज्य एवं राष्ट्रीय स्तरीय कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण करवाते हैं. इस तरह गाँव से लेकर देश की राजधानी तक 15 अगस्त के दिन को बड़ी ही धूमधाम व उत्साह से मनाया जाता हैं.

उपसंहार– आज का दिन हमारे देश के लिए बड़ा दिन हैं, मात्र तिरंगा फहराया भाषण आदि पेश कर इस समारोह को मनाने की औपचा रिकता पूरी करना ही नहीं बल्कि आज हमें यह शपथ लेनी चाहिए कि हम अपने स्वतंत्रता सेनानियों के स्वप्न के भारत को बनाकर दिखाएं तभी सच्चे अर्थों में इस तरह के कार्यक्रमों के आयोजन का उद्देश्य सफल हो सकेगा.

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ दोस्तों Essay on Independence Day In Hindi In 300 Words का यह निबंध आपकों पसंद आया होगा, यदि आपकों यहाँ दी गई जानकारी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *