Essay On Indian Farmer In Hindi And English | भारतीय किसान पर निबंध

Essay On Indian Farmer In Hindi And English | भारतीय किसान पर निबंध

Indian farmer essay In English & Hindi Language:- our country economy is agriculture based. so for the development, India must be a focus on Indian farmer and help them by the government. Essay On Indian Farmer In Hindi describe short information about our farmer condition in modern India. whats Indian farmers problems? why they suicide in large number every year, in some states. Essay On Indian Farmer In Hindi And English helps to students they read in class 1,2,3,4,5,6,7,8,9. children and kids improve her knowledge about Indian farmer in Hindi by reading this various length essay 100,150,200,250,300,400 and 500 words essay.

Essay On Indian Farmer In Hindi & English-भारतीय किसान पर निबंध

Essay On Indian Farmer In Hindi And English | भारतीय किसान पर निबंध
Bharatiya Kisan essay in Hindi

a farmer is a very useful person in our life. he meets out our basic needs of the life. he grows corn to eat and cotton for clothes to wear. he groves many things in his farms and send them to us. he does a valuable service silently. he is the backbone of the society.

he is a very simple man. he is simple in the dress. he is good at heart. he wears hand woven clothes and handmade shoes. he lives in kachchahuts. he is true to picture of Indian culture.

his life is very hard. he works from morning till evening. he knows no rest. whether it is scorching heat or biting cold, he works in the field. he plows the fields, sows the seeds and waters in the fields. he removes the weeds. he looks after the crops. he is happy to see his ripe crops.

he reaps the crops and thrashes it. then he sells the corn in the market and thus earns his livelihood. but his labor is dependent upon nature. nature is sometimes cruel on him.

he is illiterate. he is easily duped by the money lenders. his condition is miserable. the government is doing a lot to improve the condition of the farmers. the future of India depends upon farmers. so the government must do a lot of them.

भारतीय किसान पर निबंध (Bharatiya Kisan essay in Hindi)

किसान हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, भारतीय किसान देश के सवा सौ करोड़ लोगों की मुलभुत आवश्यकताओं को पूरा करता है. यह हमारे लिए पहनने का कपड़ा बनाने के लिए कपास, खाने के लिए चावल, बाजरा, मक्का, गेहू जैसे फसलें उगाता है. तथा इसे हम तक पहुचाता है. राष्ट्र के विकास के लिहाज से किसान सबसे अधिक महत्वपूर्ण है. किसान ही हमारे देश व समाज की रीढ़ की हड्डी है, जिनकें बल पर हमारी अर्थव्यवस्था खड़ी है.

भारतीय किसान बेहद साधारण व सरल इंसान के रूप में जीवन जीता है, उनका दिल सभी के लिए अच्छा होता है. यह हस्तनिर्मित जूते एवं कपड़े उपयोग में लेता है. किसान का घर कच्चा होता है. भारतीय संस्कृति का असली स्वरूप गाँवों के किसान के जीवन में आज भी जिन्दा है.

इसका जीवन बेहद मुश्किलों से भरा होता है, किसान सुबह से शाम तक अपने खेत में निरंतर काम करता है. सर्दी, गर्मी हो या खराब मौसम सभी हालातों में किसान अपनी लग्न व मेहनत से खेत में लगा रहता है. बारिश के होते ही, वह अपने खेत को बोता है तथा फसल की देखरेख करने के लिए खरपतवार हटाता है. इनकों सबसें अधिक खुशी लहलहाती फसलों को देखकर ही होती है.

फसल के पकने के साथ ही किसान इसकी कटाई करता है. तत्पश्चात इसकी थ्रेसिंग कर बाजार में बेच देता है. तब जाकर उसे अपनी आजीविका चलाने का कुछ सहारा मिलता है. भारतीय किसान एवं कृषि मानसून पर आधारित है. कई बार अकाल या प्राकृतिक प्रकोप के कारण उनके मेहनत बेकार भी चली जाती है, तथा सारी फसल सूख जाती है.

भले ही किसान अधिक पढ़ा लिखा न हो, मगर वह अपना हिसाब किताब अच्छी तरह से रखता है. आज के समय में किसानों की स्थति बेहद खराब है. सरकारे इनके हालत में सुधार के लिए प्रयत्न भी कर रही है. भारत का भविष्य हमारे किसान पर निर्भर करता है, इसलिए हमारी सरकार को किसानों के लिए और कुछ करने की आवश्यकता है. ताकि किसान की स्थति में कुछ सुधार आ सके

READ MORE:-

आशा करता हु, मित्रों Essay On Indian Farmer In Hindi And English | भारतीय किसान पर निबंध यह लेख आपकों अच्छा लगा होगा. Indian Farmer Essay में दी गईं जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *