जोकर पर निबंध | Essay On Joker In Hindi

Essay On Joker In Hindi: दोस्तों आपका स्वागत है आज हम जोकर पर निबंध Short Hindi Essay लेकर आए हैं. इस निबंध को स्टूडेंट्स स्पीच, आर्टिकल, आत्मकथा और जोकर क्या होता है इसके बारे में जानकारी पैराग्राफ आदि के रूप में यूज कर सकते हैं. प्रस्तुत है सरल भाषा में लिखित जोकर निबंध.

Essay On Joker In Hindi

जोकर पर निबंध | Essay On Joker In Hindi

जीवन के विविध रंग है कभी पल ख़ुशी के होते है तो कभी गम के. अक्सर लोग गम के पलों में रोने लगते है तथा सुकुन के पलों को अधिक से अधिक जीने का यत्न करते हैं. जोकर का जीवन ऐसा है वह विभिन्न परिस्थतियों चाहे वह जीवन में संकट के दौर से ही क्यों न गुजर रहा हो, हमेशा लोगों को हंसाने का काम करता हैं.

जोकर होना एक कला है, आप भी लोगों को हंसाते है गुदगुदाते है तो आप एक कलाकार है एक जोकर है. आपकों लोगों के दिल खुश करने की कला में महारत हैं. अपने दुखों को भूलकर जहाँ को हंसाना एक जोकर की अदा हैं, जिसे वह बखूबी निभाता हैं. हर किसी के स्वभाव में जोकर की क्वालिटी नहीं होती हैं. उसका अंदाज मजाकिया ही होता हैं, जो अमूमन लोगों को पसंद आता हैं.

एक जोकर ही सभी के चेहरे पर ख़ुशी लाने वाला होता है उनके बात करने का ढंग तथा उसकी वेशभूषा लोगों को हंसने के लिए वविवश कर देती हैं. सर्कस जैसे स्थानों पर जोकर अपनी विभिन्न रोल में लोगों को हंसाता तथा उनके मन को लुभाता हैं, जीवन में हंसी ख़ुशी चाह्ने वाले लोगों के लिए जोकर पसंदीदा कलाकार होता है यदि आप भी लोगों को हंसाने का सामर्थ्य रखते है तो आप भी एक अच्छे जोकर बन सकते है तथा लोगों के जीवन में खुशियाँ ला सकते हैं.

जोकर बनना उतना आसान नहीं है जितना लोग इसे निम्न स्तरीय समझते हैं. यह एक कला है तथा प्रत्येक कलाप्रेमी को इनका सम्मान करना चाहिए. उसे अपने काम के दौरान यह फर्क नहीं पड़ता है कि वह कहाँ परफोर्म कर रहा है तथा किन लोगों के सामने खड़ा है. जोकर का एक ही उद्देश्य होता है दर्शकों को हंसाना.

हम ऐसे दौर में जी रहे है जहाँ सब अपनी प्रगति के लिए दिन रात भाग दौड़ में लगे हैं. किसी को भी दूसरे की परवाह नहीं है हर कोई इंजीनियर, डोक्टर या उद्योगपति बनना चाहता हैं क्या आप किसी ऐसे व्यक्ति से मिले है जिन्होंने कहा हो मैं बड़ा होकर जोकर बनूंगा, तथा दुनियां मुझ पर हंसेगी.

सोचिये इस बात को कहने में इतनी सहनशक्ति होनी चाहिए तो फिर जोकर कितना सहनशील होता है जो अपनें लिए नहीं बल्कि दुनियां को हंसाने के लिए खुद को मजाक का पात्र बना लेता हैं. लोग तो किसी से मजाक में कुछ कह देने भर से झगड़े पर उतारे हो जाते हैं.

आज कोई जोकर नहीं बनना चाहता है, कोई नहीं चाहता कि आपकों देखकर लोग हंसे. क्योंकि ऐसा करने के लिए शक्ति धैर्य तथा सहनशीलता का होना जरुरी है जो आज के इंसानों में अल्पमात्रा में पाई जाती हैं.

पश्चिम के देशों में आज जोकर बनने के प्रशिक्षण दिए जाते है इससे इस बात का अनुमान लगाया जा सकता है कि जोकर लोगों के जीवन में कितनी बड़ी भूमिका निभाते हैं. हंसना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है यह बीमारियों के इलाज में भी कारगर है.

यदि आप किसी को हंसाने योग्य है तो आपकों इस कला में आगे बढ़ना चाहिए. इस क्षेत्र में आज कलाकर अल्प मात्रा में ही रह गये है लोगों को हंसाने से जो आनन्द एवं संतुष्टि मिलती है वह स्वर्ग से कल्पित सुख से भी ऊपर हैं. फिर आज मनोरंजन सर्वाधिक आवश्यकता वाला क्षेत्र भी बन चूका है, इस क्षेत्र में काम करने वाले कलाकार बड़ी रकम भी कमा पाते हैं.

आदिकाल से जोकर और मानव समुदाय का अनूठा सम्बन्ध रहा है. उन्हें देखकर ऐसा लगता है मानों ईश्वर ने लोगों को हंसाने के लिए हमारे बीच जोकर पैदा किये हो. उसके कपड़े, मेकअप और उसके शब्द सभी को भाते हैं. खासकर बच्चों को जोकर बहुत पसंद होते हैं मेले जैसे अवसरों पर सर्कस में जोकर की कला को आसानी से देखा जा सकता हैं.

दुनिया के प्रसिद्ध जोकर अभिनेताओं की बात करे तो रोनाल्ड मैकडोनाल्ड, मिस्टर बीन, क्रिकी का नाम प्रमुखता से लिया जाता हैं. इन्हें पूरी दुनियां हंसी के पात्र के रूप में याद करती हैं. एक अनुमान के मुताबिक़ संसार में जोकरों की संख्या निरंतर कम हो रही है तथा वर्तमान में इनकी संख्या घटकर मात्र दो हजार रह गई हैं. जो चिंता का विषय हैं. हर कोई चाहकर जोकर नहीं बन सकता है क्यूंकि लोगों में यह कला या तो जन्मजात होती है अथवा वातावरण से मिलती है. इस कारण हमें इनकी कला का सम्मान करना चाहिए.

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ दोस्तों Essay On Joker In Hindi का यह निबंध आपकों पसंद आया होगा, यहाँ हमने शोर्ट जोकर पर निबंध दिया है. यदि आपकों इसमें दी गई जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *