पंजाब राज्य पर निबंध | Essay On Punjab In Hindi

प्रिय साथियो आपका स्वागत है Essay On Punjab In Hindi में  हम आपके साथ पंजाब राज्य पर निबंध साझा कर रहे हैं. कक्षा 1,2,3,4,5, 6,7,8,9,10 तक के बच्चों को मेरे प्यारे पंजाब पर निबंध  इतिहास संस्कृति पर सरल भाषा में हिन्दी निबंध (पंजाब एस्से)  को परीक्षा के लिहाज से याद कर लिख सकते हैं.

Essay On Punjab In Hindi

Essay On Punjab In Hindi

धन और धान्य से सम्पन्न मेरा पंजाब राज्य भारत की शान समझा जाता हैं. प्राकृतिक संसाधनों व कृषि योग्य उपजाऊ जमीन से सम्पन्न मेरे पंजाब का प्राकृतिक दृश्य बेहद सुंदर हैं. यहाँ के लोग उनका जीवन, फसलें, लहलहाती नदियाँ तथा पंजाब की संस्कृति की अपनी एक अलग पहचान हैं.

सतलज व व्यास पंजाब की धरा को नित हरा बनाने के जत्न में लगी रहती हैं. पंजाब तथा पंजाबी संस्कृति का लम्बा इतिहास रहा हैं. दुनियां भर में बसने वाले पंजाबी अपने भगडे नाच एवं मक्की की रोटी व सरसों के साग को कहीं नहीं भूलते हैं. इस तरह से जब दुनियां की लगभग सभी संस्कृतियाँ अपने इतिहास को भुलाकर अपमिश्रण करने लगी हैं. पंजाबी को आज भी अपने अतीत व संस्कृति से गहरा लगाव हैं तथा वह उससे जुड़ा रहना पसंद करता हैं.

एक बार के लिए जो भी पंजाब की संस्कृति, लोकगीत, नृत्य कला व संस्कृति को समझता हैं वह सदा सदा के लिए पंजाब का गुण गाता नहीं थकता. वैदिक युग से ही पंजाब भारत का अहम हिस्सा रहा हैं. कहाँ जाता है कि पांच नदियों का प्रदेश होने के कारण इसे पंजाब का नाम दिया गया.

पंजाब राज्य का कुल क्षेत्रफल 50362 वर्ग किलोमीटर हैं. राज्य की अन्तर्राज्यीय सीमाएं राजस्थान, हरियाणा, हिमाचल व पड़ोसी देश पाकिस्तान से लगती हैं. पंजाब का एक बड़ा भाग पाकिस्तान में शामिल हैं. पंजाब की जनसंख्या 2,77,43,338 है 1 नवम्बर 1966 को संयुक्त पंजाब का विघटन कर पंजाब, हरियाणा तथा हिमाचल राज्य बनाए गये.

राज्य के लोगों की राज्यभाषा पंजाबी हैं राजधानी संयुक्त रूप से चण्डीगढ़ है जहाँ से हरियाणा व पंजाब दोनों राज्यों का शासन चलता हैं. राज्य के राज्यपाल विजेंद्रपाल सिंह बदनोर व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह हैं. पंजाब विधानसभा को 117 क्षेत्र राज्यसभा के लिए 7 सीट व लोकसभा के लिए 13 सीट आरक्षित हैं.

पंजाब राज्य के बड़े शहर जालंधर , लुधियाना , पटियाला , बठिंडा और अमृतसर हैं. अमृतसर स्थित स्वर्ण मन्दिर सिख समुदाय का सबसे बड़ा स्थल हैं. राज्य की अधिकतर जनसंख्या सिख समुदाय से ही हैं. भारत में होने वाले विदेशी आक्रमणों का रास्ता पंजाब से ही रहा हैं. इस कारण बाहरी हमला का सर्वाधिक असर पंजाब पर हुआ.

बाबर द्वारा मुगल साम्राज्य की नीव भी पंजाब से ही रखी गयी. मुगलों के जाने के बाद अंग्रेजों ने भी पंजाब को खूब लूटा, अपने स्वाभिमान एवं धर्म की खातिर सर्वोच्च बलिदान करने वाले पंजाबियों ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में बढ़ चढकर हिस्सा लिया. कई बड़े क्रांतिकारियों ने गुलामी की बेड़ियों को तोड़ने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी.

पंजाब राज्य के जिले – Districts of Punjab State

मालवा, माझा और दोआबा इन तीन भागों में विभक्त पंजाब राज्य में कुल 22 जिले हैं. मालवा में सर्वाधिक 11 जिले आते हैं माझा में तीन और दोआब क्षेत्र में 4 जिले शामिल हैं.

पंजाब राज्य का धर्म – Religion of Punjab state

गुरुओं की धरा पंजाब में अधिकतर सिख व हिन्दू धर्म को मानने वाले रहते हैं. गुरु नानक देव जी शुरू हुई गुरु परम्परा के लगभग सभी गुरुओं की कर्मस्थली पंजाब राज्य ही रहा. पंजाब की कुल आबाद में सर्वाधिक सिख इनके बाद हिन्दू मुस्लिम, जैन, क्रिशियन भी बड़ी संख्या में बसते हैं.

पंजाब राज्य की भाषा – Punjab State Language

संयुक्त पंजाब प्रान्त में कई भाषा बोलने वाले लोग रहते थे. हिन्दी, पंजाबी, उर्दू आदि मगर बड़ा हिस्सा पाकिस्तान के साथ चले जाने के बाद भारत के पंजाब प्रान्त में हिन्दी व पंजाबी भाषी ही बसते थे. भाषा के आधार पर हिन्दी प्रदेश को हरियाणा व पंजाबी बोलने वालों को पंजाब में शामिल करने के बाद से पंजाब राज्य की आधिकारिक भाषा पंजाबी ही हैं.

पंजाब राज्य का नृत्य – Dance of state of Punjab

भांगड़ा भारत में ही नहीं समस्त दुनियां में एक पंजाबी की पहचान माना जाता हैं. भांगड़ा संगीत एकं नृत्य का समन्वित रूप हैं. इसका जन्म पंजाब में हुआ. भांगड़ा के अलग अलग रूप हमारे देश में ही देखे जाते हैं. इसे पंजाब के राज्य नृत्य के रूप में मान्यता मिली हैं. लोहिड़ी के पर्व पर सभी पंजाबी कृषक भांगड़ा नृत्य विशेष रूप से करते हैं. 

पंजाब फिल्म इंडस्ट्री – Punjab Film industry

आप में से बहुत कम लोग ही यह जानते होंगे कि पॉलीवूड क्या हैं, दरअसल हिन्दी सिनेमा को बोलीवुड अंग्रेजी सिनेमा को होलीवुड कहा जाता हैं. उसी तरह पंजाबी फिल्म जगत को पॉलीवूड के नाम से जाना जाता हैं. भारत में तीव्र गति बढ़ रहे क्षेत्रीय फिल्म जगत में पॉलीवूड भी एक हैं पंजाब के राजधानी शहर चंदिगढ के आसपास ही यह बसा हैं.

पंजाब राज्य का भोजन – Food of the state of Punjab

पंजाबीपन की एक पहचान उनके खान पान से भी हैं. यहाँ के पंजाबी व्यंजन बेहद लोकप्रिय माने जाते हैं. इन व्यजंनों में घी का प्रयोग अधिक मात्रा में किया जाता हैं. मक्की दी रोटी, सरसों दा साग, शमी कबाब, तंदूरी चिकन ये पंजाब के लोकप्रिय व्यंजन हैं जिनका आप देश के कई अन्य इलाकों में रहकर भी लुफ्त उठा सकते हैं.

पंजाब राज्य के उत्सव – Festival of Punjab State

पंजाब में वे सभी उत्सव और पर्व भी मनाएं जाते हैं जो देश के अन्य हिस्सों में मनाए जाते हैं. धार्मिक, राष्ट्रीय एवं सामाजिक पर्वों के अतिरिक्त यहाँ कुछ क्षेत्रीय त्यौहार भी मनाएं जाते हैं जो केवल इस राज्य की सीमा में ही लोग मनाते हैं. पंजाब के कुछ प्रसिद्ध उत्सव ये हैं. बंदी छोर दिवस (दिवाली), लोहरी, मेला माघी, होला मोहल्ला, रक्षाबंधन, वैसाखी, तीयान और बसंत

पंजाब के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल – Famous tourist sites of Punjab

पंजाब भारत के मुख्य टूरिस्ट स्पॉट में से एक हैं. राज्य में कई धार्मिक एवं प्राकृतिक महत्व के स्थल हैं जिन्हें देखने के लिए लोग दुनियांभर से पंजाब आते हैं. पंजाब के सर्वाधिक लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में अमृतसर का गोल्डन टेम्पल शीर्ष पर हैं इसके पश्चात जगतजीत पैलेस, चंडीगढ़ का रॉक गार्डन, बीर मोटी बाघ अभयारण्य (पटियाला), लुधियाना का महाराजा रणजीत सिंह वॉर म्यूजियम, भटिंडा प्राणी उद्यान, जालन्धर का भगतसिंह म्यूजियम, नूरपुर किला आदि मुख्य हैं.

यह भी पढ़े

आशा करता हूँ फ्रेड्स Essay On Punjab In Hindi Language का हिंदी में दिया गया यह निबंध आपकों अच्छा लगा होगा, यदि आपकों हमारे द्वारा उपर दिया गया पंजाब राज्य पर निबंध शीर्षक का लेख अच्छा लगा हो तो प्लीज इसे अपने फ्रेड्स के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *