Hariom Pawar Poems In Hindi Free Download हरिओम पंवार जी की कविताएँ

Hariom Pawar Poems In Hindi Free Download हरिओम पंवार जी की कविताएँ : राष्ट्रीय एकता और अखंडता को सर्वोच्च प्राथमिकता देने वाले डॉ हरिओम पंवार हिंदी काव्य विधा के वीर रस के कवि और गायक हैं. उत्तर प्रदेश के बुलन्दशहर जिले में सिकन्दराबाद के निकट बुटना में 24 मई 1951 को हुआ था. मेरठ युनिवर्सिटी से इन्होने LLM अर्थात लो में स्नातको त्तर तक शिक्षा पाई. हरिओम पंवार जी कानून के कॉलेज प्रोफेसर हैं. इंदिरा जी की मृत्यु पर, अयोध्या की आग पर इनकी लोक प्रिय रचनाएं है. कई बार हम इन्हें टीवी पर काव्य पाठ के आयोजनों में लाइव सुनते हैं. आज हम पंवार जी की कुछ कविताएँ आपकें साथ साझा कर रहे हैं. 

Hariom Pawar Poems In Hindi Free Download

Hariom Pawar Poems In Hindi Free Download

dr hariom pawar poems download: आज हम आपके सामने पेश करेंगे हरिओम पंवार की कविता विडियो ऑडियो के लिए आप उनकी कविताओं का वाचन सुन सकते हैं साथ ही डॉ हरिओम पवार कवि सम्मेलन, hariom panwar wikipedia के रूप में उनकी समस्त हिंदी कविताओं काव्य सम्मेलनों के विडियो आप यहाँ से सीधे देख सकते हैं देशभक्ति पर आधारित वीर रस कविताएँ राजनीति पर हरिओम की कविताएँ आप यहाँ सुन सकते हैं.

hari om pawar ki kavitayen audio

Dr. Hariom Pawar || चंद्रशेखर आजाद कौन थे जानिए || Kavi Sammelan के शीर्षक से तुलसी दर्शन से चैनल पर प्रकाशित यह कविता वाचन आजादी के वीरों की बलिदानी और आज के देश के दुश्मनों पर कटाक्ष करते उनके काव्य की पंक्तियाँ भी आप भी सुने,

hariom pawar poem download

देश के युवाओं का खून खोल देने वाली हरिओम पंवार की वीर रस की कविता को आप ऑडियो कैसेट के रूप में सुन सकते हैं. उनके कवि सम्मेलनों के गीत, कविताएँ, गजले, गाने शायरी चुटकले हर किसी को पसंद आते हैं. आपके लिए प्रस्तुत हैं उनकी एक और भावभरी देशभक्ति कविता.

hariom panwar mp3 download

दल बदलू नेता by hari om pawar mp3 के शीर्षक से प्रकाशित यह कविता जनजन जाग्रति और इंदिरा व कांग्रेस पर व्यंग्य में क्रांति का आह्वान और जीत तुम्हारी ही होगी, सुनियें उनकी प्रसिद्ध कविता.

poems of hariom panwar

कवि सम्मेलन प्रयागराज में बाबा रामदेव के सम्मुख आस्था चैनल में हिंदी साहित्य के प्रचार प्रसार में आयोजित सम्मेलन का पूरा विडियो आज्ञा हो तो छेडू वीणा की झंकार की कविता अवश्य सुने.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *