Independence Quotes In Hindi | स्वतंत्रता पर सुविचार अनमोल वचन

Independence Quotes In Hindi | स्वतंत्रता पर सुविचार अनमोल वचनIndependence Quotes In Hindi : जब स्वतंत्रता का नाम सुनते है तो मगर हिलोर खाने लगता है तथा जेहन में एक ही नजारा आता है वो है 15 अगस्त के स्वतंत्रता दिवस समारोह का. हमारा भारत सैकड़ों साल की गुलामी के बाद इस स्वर्णिम दिन को आजाद हुआ था. आजादी का महत्व उन्हें ही पता होता है जिन्होंने परतंत्रता की गुलामी में जीवन जिया हो. स्वतंत्रता  का अर्थ होता है स्वयं का शासन खुद की सरकार, आप वे कार्य सम्पन्न कर सके जो आप करना चाहते हैं. आज हम स्वतंत्रता पर सुविचार (Independence Quotes Hindi) लेकर आए हैं. इस लेख में हम दार्शनिकों के आजादी के सम्बन्ध में थोट्स जानेगे.

Independence Quotes In Hindi | स्वतंत्रता पर सुविचार अनमोल वचन

सांसारिक वरदानों में प्रथम वरदान स्वतंत्रता हैं.


अन्याय अन्तः स्वतंत्रता को जन्म देता हैं.


मैं मखमल के गद्दे पर भीड़ में बैठने की अपेक्षा एक ऐसे कद्दू पर बैठना पसंद करुगा, जिस पर मेरा पूरा अधिकार हो.


स्वर्ग में नौकरी करने की अपेक्षा नरक में शासन करना अधिक अच्छा हैं.


भाषण की स्वतंत्रता, अंतरात्मा की स्वतंत्रता,और इनमे से किसी का भी प्रयोग ना करने का विवेक ये तीन प्रकार की आजादी हमें भगवान की कृपा से मिली हैं.


स्वतंत्रता,न्याय,सम्मान,कर्तव्य,दया,आशा इन बड़ी बड़ी चीजों को भी एक शब्द में व्यक्त किया जा सकता हैं.


जों लोग दूसरों को स्वतंत्रता नही देते है इनकों खुद भी इसका हक नही होता हैं.


स्वतंत्रता को किसी भी मूल्य में खरीदा नही जा सकता हैं.


जब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नही है जब तक हमें गलती करने की आजादी ना मिले.


हिंसा के साथ मिली आजादी न सिर्फ किसी देश के लिए बल्कि विश्व के लिए खतरनाक होती हैं.


आजादी कभी खैरात में नही मिलती, पीड़ितों द्वारा संघर्ष करने पर ही सभव हैं.


असल में हीरों वही है जो स्वतंत्रता के साथ साथ अपने कर्तव्यों को भी समझे.


अपना विकास करने के लिए किसी की स्वतंत्रता व उनका अवसर छिनना अन्यायकारी हैं.


स्वतंत्रता की रक्षा केवल सैनिक नही कर सकते, इसके लिए सम्पूर्ण देश को यह जिम्मेदारी उठानी चाहिए.


तुम मुझे खून दो मैं तो तुम्हे आजादी दूंगा.


शिक्षा ही स्वतंत्रता पाने का द्वार हैं.


किसी अन्य के अत्याचारी शासन से मुक्ति ही स्वतंत्रता हैं.


देश की जनता को आजादी के सात दशक बाद भी नही मिल पाई, गोरों शासितों की जगह अब कालों ने ले ली हैं


भारत की स्वतंत्रता लाखों लोगों का बलिदान का परिणाम है यह किसी एक परिवार के बलिदान से नही मिली हैं.


आप किसी को कुचल सकते है मगर उनके विचारों को नही.


हकीकत में स्वतंत्रता क्या होती है इसका जवाब तो वही दे सकता है जिसने गुलामी को झेला हैं.


आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों Independence Quotes In Hindi का यह लेख अच्छा लगा होगा. आपकों इंडिपेंडेंस हिंदी कोट्स का यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट कर जरुर बताएं आपके पास भी इस तरह के स्वतंत्रता पर सुविचार हो तो प्लीज हमारे साथ भी साझा करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *