India Ki Rajdhani Kaha Hai | भारत की राजधानी

India Ki Rajdhani Kaha Hai, Bharat ki rajdhani Kya Hai : यह कोई सवाल नही, कोई बड़ी जानकारी नहीं है. क्योंकि इस देश का हर नागरिक भली भांति जानता है कि भारत की राजधानी कहाँ है मगर जो भारत से बाहर रहते है, उनके लिए यह सामान्य ज्ञान का बड़ा महत्वपूर्ण सवाल हैं. आज हम आपकों भारत / इंडिया / हिंदुस्तान की राजधानी की पूरी जानकारी बता रहे हैं.India Ki Rajdhani Kaha Hai | भारत की राजधानी

India Ki Rajdhani Kaha Hai | भारत की राजधानी

भारत आबादी के लिहाज से दूसरा एवं क्षेत्रफल के लिहाज से विश्व का सातवाँ सबसे बड़ा देश हैं. यहाँ की आबादी 135 करोड़ पार चुकी हैं. विश्व के सभी धर्मों के लोग यहाँ बसते हैं. बहुसंख्यक आबादी हिन्दू हैं. कई बड़े भारतीय शहर जो अपने नाम से विश्व भर में जाने जाते है जिनमें मुम्बई, कलकत्ता, चेन्नई, हैदराबाद ऐसा ही एक शहर है नई दिल्ली, जो भारत की वर्तमान में राजधानी हैं, यह देश के उत्तर पूर्व में स्थित बहुल आबादी का क्षेत्र हैं.

bharat ki rajdhani kya hai

दुनियां भारत को विविधता में एकता वाले देश के रूप में पहचानती हैं, जिसका स्वरूप आप राजधानी नई दिल्ली में देख सकते हैं. यहाँ हिंदी, उर्दू, अंग्रेजी, पंजाबी, हरियाणवी, ब्रज भाषी लोग आपकों एक ही कोलोनी में रहते हुए मिल जाएगे. यही वजह है कि लोग कहते है दिलवालों की दिल्ली.

भारत में जनसंख्या के अनुसार शहरों को देखे तो फिल्म सिटी मुंबई की आबादी सबसे अधिक हैं. इसके बाद दिल्ली का स्थान आता हैं. यह शहर 1911 में अंग्रेजों के जमाने में भारत की राजधानी बनाया गया था. इससे पूर्व कोलकाता भारत की राजधानी हुआ करता हैं. अंग्रेजों के आगमन से पूर्व दिल्ली की सत्ता को हासिल करने वाले का ही भारत पर शासन माना जाता हैं.

सदियों से सत्ता की प्रतीक रही दिल्ली अपनी कई ऐतिहासिक ईमारतों के लिए भी जानी जाती हैं. यहाँ पर अक्षरधाम मंदिर, गुरुद्वारा, चांदनी चौक, लाल किला जैसी विश्व प्रसिद्ध धरोहरें हैं. नई दिल्ली में दिल्ली केन्द्रशासित प्रदेश का शासन भारत का केन्द्रीय संचालन भी यही से होता हैं. संसद भवन, राष्ट्रपति भवन, प्रधानमंत्री निवास तथा उच्च प्रशासन के सभी विभाग दिल्ली में ही हैं.

भारत की राजधानी कहाँ है

दिल्ली आज एक केन्द्रशासित प्रदेश व राज्य है जहाँ स्वयं की सरकार भी हैं. देश के तीनों तंत्र कार्यपालिका, व्यवस्थापिका और न्यायपालिका भी दिल्ली में ही हैं. दिल्ली एक राज्य है केंद्र शासित प्रदेश है जिसकी व भारत की राजधानी का नाम नई दिल्ली हैं.

इतिहास में झाकेगे तो पता चलेगा वर्तमान बिहार और उत्तरप्रदेश के अधिकतर शहर भी एक समय भारत की राजधानी हुआ करते थे. शासकों अपने हिसाब से अपने नाम पर नया शहर बनाकर उसे ही अपनी राजधानी बना देते थे. मगर सल्तनत काल के बाद से दिल्ली ही भारत की राजधानी रही हैं.

इस शहर को महाभारत काल में पांडवों द्वारा बसाया गया था, उस समय यह इंद्रप्रस्थ के नाम से शुमार था. कागजी इतिहास पर इसे राजधानी के रूप में स्वीकार करने का प्रथम कदम जार्ज पंचम ने उठाया, 12 दिसंबर 1911 के दिन उन्होंने कलकत्ता से नई दिल्ली में भारत के शासन को स्थानांतरित कर दिया. 13 फरवरी 1931 के दिन वैधानिक रूप से इसे राजधानी का दर्जा दिया गया, जो देश की आजादी के बाद अब तक कायम हैं,

आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों India Ki Rajdhani Kaha Hai का यह लेख आपकों अच्छा लगा होगा, आपके इस राजधानी शहर दिल्ली के सम्बन्ध में क्या विचार हैं. हमें कमेंट कर जरुर बताएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *