Ips Full Form In Hindi | आईपीएस की फुल फॉर्म व Ips कैसे बने

Ips Full Form In Hindi | आईपीएस की फुल फॉर्म व Ips कैसे बने : भारतीय प्रशासनिक सेवाओं में IPS का पद बेहद महत्वपूर्ण एवं सम्मानीय होता हैं. हर एक नौजवान इस पोस्ट पर पहुचने का सपना देखता है करोड़ों की संख्या में लोग UPSC एग्जाम देते है मगर चंद लोगों के हाथों ही सफलता लगती हैं. IPS क्या हैं, आईपीएस की फुल फॉर्म, IPS कैसे बने, Eligibility of IPS Salary of IPS क्या हैं. इन तमाम सवालों के लिए हमने काफी रिसर्च कर आपके लिए यह आर्टिकल तैयार किया हैं.

Ips Full Form In HindiIps Full Form In Hindi

Full Form Of IPS in Hindi IPS क्या होता है, IPS के कार्य क्या है, IPS का Syllabus क्या है, IPS के लिए Eligibility : IPS यह नाम पढ़े लिखे और अनपढ़ सभी लोग जानते हैं आजादी के बाद से यह हमारी व्यवस्था का अंग रहे हैं. IPS की फुल फॉर्म Indian Police Service जिसे हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा या इंडियन पुलिस सर्विस कहा जाता हैं.

Ips के कार्य क्या होते है आईपीएस क्या करता हैं

भारत में आईपीएस पोस्ट की शुरुआत 1905 से अंग्रेजों द्वारा की गई थी. उस समय इस सेवा को इम्पीरियल पुलिस के नाम से जाना जाता था, आजादी के बाद 1948 में भारत सरकार ने इसका नाम बदलकर भारतीय पुलिस सेवा कर दिया हैं. आईपीएस उच्च दर्जे के पुलिस अधिकारी होते हैं जिनमें sp, DSP, ASP, ADGP, DGP, IG, DIG आदि सभी पोस्ट सम्मिलित होती हैं.

देश के आंतरिक क्षेत्र में सुरक्षा एवं शान्ति व्यवस्था कायम करना आईपीएस अधिकारियों का प्रथम कर्तव्य होता हैं. ये देश की ख़ुफ़िया एजेंसियों तथा अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर देश में कानून व्यवस्था (लो एन आर्डर) को कायम रखने का जिम्मा उठाते हैं. नए IPS अधिकारियों के चयन के लिए हर साल UPSC परीक्षाएं करवाती है तथा योग्य नवयुवकों का चयन किया जाता हैं.

UPSC (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन) द्वारा आयोजित प्रेमिलिनरी एग्जाम एवं मैंन एग्जाम को पार करने के बाद साक्षात्कार तथा इसके पश्चात विभिन्न टेस्ट सम्पन्न होने के बाद प्रतियोगी को सेवा के लिए विशेष ट्रेनिंग दी जाती हैं. आईपीएस सेवा में आईएएस और आईपीएस दोनों आते हैं. अब आगे आपकों IAS के दोनों EXAMS पेपर पैटर्न, तैयारी के तरीके के बारे में विस्तार से जानकारी बता रहे हैं.

IPS कैसे बने (How To Become IPS Officer In Hindi)

बहुत से लोग सोचते है कि आईपीएस कैसे बने. इसके लिए आपकों कुछ पूर्व जानकारी एवं डिटेल्स बताना चाहेगे. यदि आप आईपीएस बनने का सपना देखते हैं तो इसका मतलब यह है कि आप एक जिम्मेदारी भरे कार्य की तरफ कदम उठा रहे है जहाँ से आपकों एक ब्लोक जिले अथवा राज्य के कानून का जिम्मा आपके हाथ में होगा.

इतनी बड़ी पोस्ट के लिए योग्य लोगों का चयन करने के लिए चयन की प्रक्रिया बेहद जटिल रखी गई हैं. जिसमें मेहनत करने वाले तथा ईमानदार लोग ही सफल हो पाते हैं. यहाँ आपकों चरण वार बता रहे है कि किस तरह आप स्कूल की शिक्षा पूरी होने के साथ ही आईपीएस बनने की तरफ आगे बढ़ सकते हैं.

  • ग्रेजुएशन – भविष्य में आपकों आईपीएस अफसर बनना है तो आपकों इसकी शुरुआत बाहरवी में ही कर देनी चाहिए, क्योंकि लोग आईपीएस बनने के लिए 5-6 साल कड़ी मेहनत करते हैं. यदि आप इसी स्टेज से थोड़ी थोड़ी तैयारी करेगे तो आपकों अलग से इन वर्षों को व्यर्थ करने की आवश्यकता नहीं रहेगी. आपकों बता दे आप कला, विज्ञान या वाणिज्य किसी भी संकाय से ग्रेजुएशन (BA, BSC, BCOM) करने के बाद आईपीएस का एग्जाम दे सकते हैं.
  •  UPSC : IPS बनने का आपका सफर UPSC परीक्षा के साथ होता है, ये एग्जाम हर साल राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होते हैं. यदि आप ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में है तो भी इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं. इस एग्जाम का स्तर बेहद कठिन होता हैं. हर कोई इसे पार नहीं सकता हैं मगर जो पार कर लेते है वे हम में से ही होते हैं. इसलिए यहाँ आपके ज्ञान, अनुभव एवं धैर्य का कड़ा परीक्षण होता हैं. IPS बनने के लिए इस मुश्किल को आपकों क्रोस करना ही होता हैं.
  • प्रेलिमिनारी एग्जाम: यह पहला एग्जाम होता है इसमें आपकों दो पेपर 200-200 अंक के देने होते हैं जिसमें सामान्य ज्ञान तथा निर्धारित पाठ्यक्रम के वस्तुनिष्ट प्रश्न पूछे जाते हैं. तथा एक कम से कम एक तिहाई मार्क्स लाना अनिवार्य होता हैं.
  • मेन एग्जाम: यह 250-250 अंक के नौ लिखित पेपर आपकों देते होते हैं जिनके लिए कम से कम प्रत्येक पेपर में 75 अंक अर्जित करने आवश्यक माने जाते हैं. यह बेहद कठिन स्तर के पेपर होते हैं, जहाँ अपना पूर्व ज्ञान सुझबुझ सब कुछ झोकने पर ही सफलता पाकर अगले चरण के लिए क्वालीफाई किया जा सकता हैं.
  • इंटरव्यू– यह आईपीएस बनने की राह का अंतिम रोड़ा हैं बहुत से लोग परीक्षा तो पास कर लेते हैं. मगर साक्षात्कार से निकाल दिए जाते हैं. यह 250 मार्क्स का व्यक्तित्व, ज्ञान टेस्ट होता हैं. जहाँ अधिकारियों के पैनल के सामने आपकों 45 मिनट तक स्वयं को प्रस्तुत करना होता हैं. 

अब तक हमने आईपीएस ऑफिसर (ips officer) बनने की कठिनाइयों के बारे में जाना हैं. साक्षात्कार में सफल अभियार्थियों को एक कड़ी ट्रेनिग के लिए चुना जाता हैं. मगर इस चरण से किसी को निकालने का डर समाप्त हो जाता हैं. यानी आप इंटरव्यू क्रेक कर गये मतलब आप आईपीएस ऑफिसर (ips officer) बनने के बेहद करीब पहुच गये हैं.

IPS बनने की योग्यताएं

  1. एक IPS अफसर बनने के लिए आपकी न्यूनतम शिक्षा Education ग्रेजुएशन तक की होनी चाहिए.
  2. आपकी राष्ट्रीयता Nationality भारतीय होनी चाहिए.
  3. कम से कम आपकी आयु सीमा IPS Age Limit वर्ष तथा जनरल श्रेणी के लिए अधिकतम 30, ओबीसी में 33 तथा SC/ST में 35 वर्ष रखी गई हैं.
  4. यदि आप जनरल कैटेगरी से है तो आप 4 प्रयास, ओबीसी से 7 तथा अनुसूचित जाति व जनजाति से अनगिनत प्रयास कर सकते हैं.
  5. IPS Physical Requirements पुरुष का ऊंचाई 165 Cm, महिला की 150 Cm तथा आरक्षित श्रेणियों के लिए इसमें छुट दी गई हैं.
  6. अन्य शारीरिक मापदंडों में पुरुष की छाती 84 Cm तथा महिला की छाती 79 Cm होनी चाहिए.

अब तक हमने आपकों IPS की फुल फॉर्म, योग्यताएं, शिक्षा, परीक्षा पैटर्न के बारे में बताया हैं साथ ही How To Prepare Yourself For IPS Exam के तौर पर स्कूली शिक्षा के साथ साथ आईपीएस की तैयारी का फार्मूला भी बताया हैं.

आशा करता हूँ दोस्तों Ips Full Form In Hindi में दी गई जानकारी आपकों अच्छी लगी होगी. साथ ही इस लेख में हमने आपकों Ips Ki Full Form Kya Hai In hindi, What Is ips Meaning In hindi, How To become Ips, IPS Information IN Hindi का लेख आपकों कैसा लगा कमेंट कर जरुर बताएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *