Mango Tree Information In Hindi | आम के पेड़ के बारे में

Mango Tree Information In Hindi | आम के पेड़ के बारे में : आम फलों का राजा कहलाता हैं. यह भारत का राष्ट्रीय फल भी हैं. आम का पेड़/ वृक्ष सैकड़ों वर्षों तक खड़ा रहने वाला घनी छावदार तथा बड़ा पेड़ होता हैं. भारत के लगभग सम्पूर्ण भूभाग में आम की खेती होती हैं. यदि आम के उपयुक्त वातावरण की उपलब्धता हो तो यह 60 फीट तक की उंचाई प्राप्त कर लेता हैं. इसके फल यानि आम आकार में छोटे मगर बेहद रसीले व मीठे होते हैं.Mango Tree Information In Hindi | आम के पेड़ के बारे में

Mango Tree Information In Hindi | आम के पेड़ के बारे में

Mango Tree in Hindi – आम का फल साल में एक ही बार (ग्रीष्म ऋतु) में ही होता है. हमारे देश में आम के वृक्ष का बड़ा महत्व माना गया हैं. बरगद की तरह आम का पेड़ भी बड़े आकार लिए हुए होता है. इसके पत्ते हरे तथा छाल खुरदरे होते हैं. आम के वृक्ष की पत्तियां आकार में लम्बी तथा कटी फटी होती हैं. पेड़ की ऊँचाई ६० से 90 फीट तक होती है तथा पत्तियों की लम्बाई पन्द्रह इंच तथा चौड़ाई तीन इंच तक होती है 

देशभर में आम की कई किस्में उगाई जाती हैं. आम के पेड़ (Mango Trees) पर सबसे पहले फूल लगते है तथा इसके बाद फल लगने आरम्भ होते है. आरम्भ में फल का रंग का हरा तथा इसके बाद हल्का लाल रंग का होता हैं. आम पूरी तरह पकने के बाद गहरे हरे लाल रंग का हो जाता हैं. आम के फल में एक बड़ी गुटली भी होती हैं. आम को काटकर फाके के रूप में या ज्यूस बनाकर गर्मियों में पीना काफी फायदेमंद माना जाता हैं.

Essay on Mango Tree in Hindi

आम की गुटली भी बड़ी कारगर है यही घर में हम इन गुट्लियों को एकत्रित कर सही जगह पर डाले तो नयें पेड़ भी उग आते है. आम की लकड़ी बड़े महत्व की होती है जिसे हवन तथा विभिन्न धार्मिक कार्यों तथा घर में कई प्रकार की चीजे भी बनाई जाती हैं.

आम का पेड़ गोद भी देता है इसके तने से गोद निकलता है इसके पत्ते कोमल और गुलाबी रंग का होता है. तथा ये धीरे धीरे हल्के हरें रंग के हो जाते हैं. मार्च अप्रैल से ही आम के पेड़ परे फूल आने शुरू हो जाते हैं. तथा पूरा पेड़ फूलों के गुच्छों से भर जाता हैं. इन्हें आम की बौर के नाम से जाना जाता हैं. मई के आस-पास ये फूल झड़ने लगते है तथा फल लगने शुरू हो जाते हैं.

Information About Mango In Hindi आम की रोचक जानकारी

आम को संस्कृत भाषा में आम्र कहा जाता हैं. इसे अधिकतर भाषाओं में आम ही कहा जाता हैं. मलयालम में इसे मान्न बोला जाता हैं. मलयालम का यही आम और मान्न यूरोपीय देशों में पंहुचा और इन्हें इटली तथा फ्रांसीसी व बाद में अंग्रेजी में इसका उच्चारण मेंगों के रूप में होने लगा. भारत विश्व का सबसे बड़ा आम उत्पादक देश है भारत के अलावा चीन व थाईलैंड में भी बड़ी मात्रा में उगाया जाता हैं.

10 Lines on Mango in Hindi

  • यह भारत का राष्ट्रीय फल हैं इसे अंग्रेजी में मेंगों कहते हैं.
  • यह फलों का राजा कहलाता हैं.
  • आम वर्ष में एक बार ग्रीष्म ऋतु में पकता हैं.
  • हरा, नारंगी एवं पीले रंग के आम होते हैं.
  • सफेदा, दसहरी, लंगड़ा ये आम की कुछ किस्में हैं.
  • विटामिन A, C और D भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं.
  • विश्व के 40 फीसदी आमों का उत्पादन अकेला भारत करता हैं.
  • आम का अचार, आम की चटनी, मुरब्बा, सलाड, शरबत इत्यादि में आम का रस उपयोग किया जाता हैं.
  • आम के पेड़ को बड़ा धार्मिक महत्व वाला माना गया हैं.
  • आम के पत्तों का पूजा में उपयोग लाया जाता हैं.

आम खाने के नुकसान- mango side effects in hindi

  • शुगर के रोगियों के लिए आम खतरनाक हो सकता हैं,
  • जिन्हें रक्तचाप की समस्या है उन्हें सिमित मात्रा में ही आम का प्रयोग करना चाहिए.
  • अधिक मात्रा में फाइबर होने के कारण इसके सेवन की अधिकता से दस्त हो सकती हैं.
  • आम एलर्जी का कारण भी बनता हैं.
  • आम में अधिक मात्रा में कैलोरी होती है अतः आपकी चर्बी व मोटापा बढ़ सकता हैं.

आम खाने के फायदे – Benefits Of Mango In Hindi

  • शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता में वृद्धि करता हैं.
  • लू से बचने के लिए कच्चे आम का सेवन लाभदायक हैं.
  • आँखों के तेज को बढाता हैं.
  • शरीर के पाचन तंत्र को मजबूती प्रदान करता हैं.
  • कैसर के खतरे को कम कर देता हैं.
  • यादाश्त को बढाने में मददगार हैं.

यह भी पढ़े-

आशा करता हूँ फ्रेड्स आपकों Mango Tree Information In Hindi का यह लेख अच्छा लगा होगा, आम के बारे में आपके क्या विचार है हमें कमेंट कर जरुर बताए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *