मासिक शिवरात्रि व्रत के लाभ | Masik Shivaratri Benefits In Hindi

मासिक शिवरात्रि व्रत के लाभ | Masik Shivaratri Benefits In Hindi: सभी भक्तों को मास/ मासिक शिवरात्रि व्रत 2019 की शुभेच्छा. वर्ष भर प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष की 14 वी अर्थात चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि का व्रत किया जाता हैं. जीवन के तमाम संकटों, कठिनाइयों, बालिकाओं द्वारा मनचाहे वर की प्राप्ति तथा संतान प्राप्ति के लिए शिवभक्तों द्वारा मासिक शिवरात्रि का व्रत किया जाता हैं.

मासिक शिवरात्रि व्रत के लाभ Masik Shivaratri Benefits In Hindi

मासिक शिवरात्रि व्रत के लाभ Masik Shivaratri Benefits In Hindi

Masik Shivaratri Benefits Kya Hai, Masik Shivaratri Vrat 2019, Masik Shivaratri Vrat Kyo Kiya Jata hai, Masik Shivaratri Kab Kare, Masik Shivaratri Kaise Kare Importance Mahtva Katha Pooja Vidhi Masik Shivaratri In Hindi.

मासिक शिवरात्रि का व्रत क्यों रखा जाता हैं इसका महत्व

प्राचीनकाल से ही शिवरात्रि के दिन व्रत रखने की परम्परा हैं. हिन्दू शास्त्रों में इस व्रत के महत्व को बताया गया हैं. रामचरितमानस में भी तुलसीदास जी ने शिवरात्रि के व्रत के महत्व को उद्घाटित करते हुए लिखा- कि माता सीता ने योग्य वर प्राप्ति के लिए भगवान् शंकर का शिवरात्रि व्रत कर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया था.

हिन्दू शास्त्रों में लक्ष्मी, इंद्राणी, सरस्वती, गायत्री, सावित्री, सीता, पार्वती ने भी शिव रात्रि के व्रत को किया था. व्रत करने वाले साधक को प्रदोष काल के मुहूर्त में भगवान शिवजी की पूजा अर्चना करनी चाहिए.

Masik Shivaratri Benefits In Hindi

भगवान् शिव को मानने वाले भक्त महाशिवरात्रि के दिन को बड़े धूमधाम से एक उत्सव की तरह मनाते हैं. इस दिन शिवजी की पूजा करने की मान्यता हैं. शिवपुराण के अनुसार इस दिन व्रत रखने से प्रत्येक साधक की मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं. तथा उनके जीवन की समस्त मुशिकलों का निवारण हो जाता हैं. अविवाहित कन्याएं मनचाहे वर की प्राप्ति के लिए मासिक शिवरात्रि का व्रत धारण करती हैं.

इस दिन पूजा के समय ओम् नम: शिवाय का उच्चारण अवश्य करना चाहिए. इस व्रत को पूर्ण विधि विधान से करने पर हजारों यज्ञ के समान फल की प्राप्ति होती हैं. गृहस्थ जीवन में सुख संपदा का वास होता हैं.

एक वर्ष में कुल 11 शिवरात्रि आती हैं जिन्हें मासिक शिव रात्रि कहा जाता हैं. इस व्रत को स्त्री पुरुष दोनों कर सकते हैं. कुछ ज्योतिषियों का मानना हैं कि भक्त को रात में जागकर शिवजी की पूजा करनी चाहिए. इस व्रत को करने से असीम कृपा मिलती हैं तथा मृत्यु के बाद उसे उत्तम लोक में स्थान मिलता हैं.

मासिक शिवरात्रि पड़ गई है. आपकी कोई भी अधूरी मनोकामना शिव जी जरूर पूरी करेंगे. चाहे पढ़ाई, नौकरी, व्यापार, शादी, सेहत, धन, मकान वाहन संबंधी कोई भी मनोकामना जरूर पूरी होगी.

जल, दूध, दही, शुद्ध घी, शहद, शक्कर या चीनी, गंगाजल तथा गन्ने से बने पंचामृत के साथ पूजा से पूर्व भगवान् शिव की प्रतिमा अथवा शिवलिंग को अभिषेक करवाया जाता हैं. अभिषेक के बाद बेलपत्र, धतूरा तथा श्रीफल का भोग लगाया जाता हैं इसके बाद भोजन ग्रहण कर व्रत छोड़ा जाता हैं.

यह भी पढ़े-

आशा करते हैं मित्रों Masik Shivaratri Benefits In Hindi में दी गई जानकारी आपकों पसंद आई होगी. मासिक शिव रात्रि व्रत के लाभ फायदे व्रत का तरीका पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *