राजस्थान के वन्य जीव एवं अभयारण्य | National Park In Rajasthan In Hindi

National Park In Rajasthan In Hindi: प्राकृतिक आवास में रहने वाले जीव जन्तुओं को वन्य जीव कहते है. हमारे राज्य में मुख्यत बाघ, बघेरे, चीतल, सांभर, चिंकारा,काला हिरण, भेड़ियाँ, रीछ, लोमड़ी, आदि वन्य जीव मिलते है. यहाँ का वन्य पशु चिंकारा है, जबकि पशु श्रेणी में राजस्थान का राज्य पशु ऊंट है. राजस्थान में 22 वन्य जीव अभ्यारण्य है. रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान, सवाई माधोपुर तथा केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान भरतपुर राजस्थान में स्थित राष्ट्रीय उद्यान है. Rajasthan के National Park & sanctuaries पर एक नजर.

National Park In Rajasthan In Hindi
National Park In Rajasthan In Hindi

National Park In Rajasthan In Hindi (राजस्थान के वन्य जीव एवं अभयारण्य)

राष्ट्रीय मरु उद्यान जैसलमेर, सरिस्का अभ्यारण्य अलवर, व मुकन्दरा हिल्स अभ्यारण्य कोटा को राष्ट्रीय उद्यान प्रस्तावित किया गया है. रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान व सरिस्का अभयारण्य बाघ सरक्षण के लिए है. केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान विश्व विरासत की सूची में शामिल है.

यह साइबेरियन सारस के लिए प्रसिद्ध है. अब यहाँ पर इनका आना कम हो गया है. राष्ट्रीय मरू उद्यान, जैसलमेर वन्य जीवों के साथ ही जीवाश्म (फासिल्स) के संरक्षण के लिए प्रसिद्ध है. यहाँ पर आकल क्षेत्र के जीवाश्म पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है.

कुरजा राज्य के लोक साहित्य का चर्चित प्रवासी पक्षी है. इनका केंद्र खींचन जोधपुर है. राज्य में 33 आखेट निषिद्ध क्षेत्र है. राज्य का जैविक उद्यान नाहरगढ़ (जयपुर) में है. राजस्थान का राज्य पक्षी गोडावण है. जो कि इसके प्राकृतिक वास स्थान पश्चिम राजस्थान में भी दुर्लभ है.

घड़ियालों के संरक्षण हेतु राष्ट्रीय चम्बल घड़ियाल अभ्यारण्य है. राज्य के प्रमुख अभ्यारण्य तालछापर (चुरू) रामगढ़ विषधारी (बूंदी) कुम्भलगढ़, सज्जनगढ़ (उदयपुर), माउंट आबू (सिरोही), कैलादेवी (करौली), सीतामाता व भैंसरोड़गढ़ (चित्तौड़), बंध बारेठा (भरतपुर) टाडागढ़ रावली (अजमेर), जमवारामगढ़ (जयपुर), रामसागर (धौलपुर) आदि है.

प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *