बच्चों के लिए कविता- नया समाज बनाएं | famous hindi poems for recitation competition

बच्चों के लिए कविता- नया समाज बनाएं | famous Hindi poems for recitation competitionबच्चों के लिए कविता- नया समाज बनाएं | famous hindi poems for recitation competition

Recitation Competition के लिए यह देशभक्ति हिंदी पोएम कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8 के किड्स & स्टूडेंट्स के लिए हैं.  बच्चों के लिए देशभक्ति कविता, बच्चों के लिए गाँव पर कविता, बच्चों के लिए नारी पर कविता, बच्चों के लिए माँ-बाप पर कविता, बच्चों के लिए जल पर कविता  के आर्टिकल की लिंक भी नीचे दी गई हैं, जिस पर जाकर आप हमारी अन्य हिंदी कविता पढ़ सकते हैं.

hindi poems for class 5 naya samaj banaye

आओं, नया समाज बनाएं
इस धरती को स्वर्ग बनाएं
आओं, नया समाज बनाएं ||

जाति-पांति के बंधन तोड़े
अपनेपन की कड़ियाँ जोड़े,
इस धरती के हर मानव का
मानवता से नाता जोड़े
एक दूसरे के दुःख सुख में
मिलकर बैठे हाथ बटाए
आओं, नया समाज बनाएं ||

इस माटी का कण कण चंदन
इसे करे शत शत वंदन
नई रोशनी की किरणें बन
आज सजा दे हर आंगन |

मिल जुलकर कर आगे बढ़ने का
सबके मन में भाव जगाएं
आओं, नया समाज बनाएं
श्रम को जीवन मंत्र बनाएं
उंच नीच का भेद मिटाएं
भारत माता के हम सपूत बन
नव जीवन की अलख जगाएं
धरा सभी की, गगन सभी का
आओं, नया समाज बनाएं ||

शिक्षण संकेत- प्रस्तुत कविता के आधार पर ऐसे समाज के निर्माण का भाव अभीष्ट हैं, जिसमें एक सबके लिए तथा सब एक के लिए ” जीने का भाव प्रेरित हो. नयें समाज को बनाने की आवश्यकता एवं दिशाएं भी इस कविता में अंतर्निहित हैं. कविता शिक्षण में इन बातों का ध्यान रखे.

आओ नया समाज बनाएँ कविता By सुमा & बच्चे

समाज क्या है कैसा होना चाहिए— देखे यह विडियो

हमारी अन्य हिन्दी कविता बच्चों के लिए

प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *