डॉ पंचानन माहेश्वरी का जीवन परिचय | Panchanan Maheshwari Biography In Hindi

p maheshwari डॉ पंचानन माहेश्वरी का जीवन परिचय Panchanan Maheshwari Biography In Hindi: डॉ पंचानन माहेश्वरी भारतीय वनस्पति विज्ञानी थे. इनका जन्म 9 नवम्बर 1904 को जयपुर में हुआ था. डॉ माहेश्वरी ने इलाह बाद विश्वविद्यालय से शिक्षा प्राप्त की और आगरा कॉलेज से अध्यापन कार्य आरम्भ किया.

Panchanan Maheshwari Biography In Hindi

Panchanan Maheshwari Biography In Hindi

इसके बाद इन्होंने इलाहबाद, लखनऊ व ढाका विश्वविद्यालयों में भी अध्यापन का कार्य किया. 1948 में डॉ माहेश्वरी दिल्ली वनस्पति विज्ञान के अध्यक्ष होकर आ गये. डॉ माहेश्वरी ने पादप भ्रूण विज्ञान पर विशेष कार्य किया.

इन्होने भ्रूण विज्ञान और पादप क्रिया विज्ञान के सहमिश्रण से एक नई शाखा का विकास किया एवं इससे फूलों के विभिन्न भागों की कृत्रिम पोषण द्वारा वृद्धि कराने में पर्याप्त सफलता हासिल की.

इनके अधीन शोध कार्य करने वाले केवल भारतीय ही नहीं बल्कि अमेरिका, अर्जेंटीना व ऑस्ट्रेलिया आदि देशों के छात्र भी आते थे. इनके मार्गदर्शन में लगभग 60 छात्रों ने डाक्टरेट की उपाधि प्राप्त की.

डॉ माहेश्वरी ने अपने विषय के अनेक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में भारत का प्रतिनिधित्व किया. टिशु कल्चर प्रयोगशाला की स्थापना तथा टेस्ट ट्यूब कल्चर पर शोध के लिए लंदन की रॉयल सोसायटी ने इन्हें अपना फेलो बनाकर सम्मानित किया. 18 मई 1966 को दिल्ली में डॉ माहेश्वरी का निधन हो गया.

डॉ माहेश्वरी ने अपने शोधों को निबंध के जरिये प्रकाशित करवाए अब तक उनके 300 से अधिक निबंध सार्वजनिक हैं. उन्होंने एक पुस्तक भी लिखी इंट्रोडक्शन टु इंब्रियो-लॉजी ऑव संजियो स्पर्मस्‌ नाम से यह किताब 1950 ई को पब्लिक हुई थी. साहनी जी द्वारा स्थापित बोट्निकल सोसायटी द्वारा इन्हें बीरबल साहनी पुरस्कार खिताब से नवाजा गया.

यह भी पढ़े

आशा करते हैं दोस्तों Panchanan Maheshwari Biography In Hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा. डॉ पंचानन माहेश्वरी की बायोग्राफी आपकों पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *