पर्दा प्रथा का अर्थ राजस्थान में पर्दाप्रथा | Parda Pratha Kya Hai In Hindi

पर्दा प्रथा का अर्थ राजस्थान में पर्दाप्रथा | Parda Pratha Kya Hai In Hindi: पर्दा या बुर्का अरब की देन है जिसे भारत में मुसलमानों द्वारा प्रचलित किया गया था. पर्दा एक अरबी शब्द है जिसका अर्थ ढकना होता हैं. सामान्य अर्थ में यह एक घुंघट है अधिकतर मुस्लिम महिलाओं द्वारा पुरुषों से नजर बचाने के लिए किया जाता था. पर्दा प्रथा का अर्थ राजस्थान में पर्दाप्रथा Parda Pratha Kya Hai In Hindi

मध्यकाल में जब भारत में मुस्लिम आक्रमण होते रहे उस समय हिन्दू महिलाओं ने इन आक्रमणकारियों से बचने के लिए पर्दा प्रथा शुरू किया. 12 वीं सदी से ही भारत में इस प्रथा का आरम्भ माना जाता हैं उत्तर भारत विशेष कर राजस्थान के राजपूत समाज में यह प्रथा अधिक कठोरता के साथ अपनाई गई.

पर्दा प्रथा का अर्थ राजस्थान में पर्दाप्रथा Parda Pratha Kya Hai In Hindi

इसमें कोई संदेह नहीं कि वैदिक काल में पर्दा जैसी कोई प्रथा नहीं थी और स्त्रियाँ सार्वजनिक जीवन में भाग लेती थी. महाकाव्य पाणिनि के साहित्य से ज्ञात होता है कि शाही परिवारों में पर्दा प्रथा का प्रचलन था. मध्यकाल तक आते आते राजपूताना के शासकपीरशरो में पर्दा का प्रचलन आम था.

पर्दा समान, प्रतिष्ठा तथा कुलीनता का प्रतीक था. राजपूतों में पर्दा प्रथा अत्यंत कठोर थी. राजमहलों तथा ठाकुरों की हवेलियों में स्त्रियों के लिए अलग से जनानी ड्योढ़ी होती थी. जहाँ पर पुरुषों का जाना निषिद्ध होता था.

यदि महिलाओं को बाहर जाना होता तो उन्हें बंद पालकी में बिठाकर ले जाया जाता था. कालान्तर में पर्दा स्त्री के सतीत्व, सामाजिक समान तथा प्रतीक्षा का प्रतीक बन गया. संस्कृतिकरण की प्रक्रिया के तहत निम्न वर्ग की महिलाओं में भी पर्दा प्रथा को अपना लिया जिसे घूंघट कहा जाता हैं.

इस प्रथा में जिस व्यक्ति का घूंघट किया जाता हैं. उससे वह स्त्री बात नहीं कर सकती. पर्दा प्रथा ने राजस्थान की महिलाओं के लिए न केवल शिक्षा प्राप्ति का मार्ग बंद कर दिया बल्कि उनका जीवन घर की बाहर दीवारी में सिमट का रह गया. ऐसे में उनके स्वतंत्र व्यक्तित्व के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती थी.

यह भी पढ़े-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *