What Is Phd Full Form In Hindi | पीएचडी क्या है क्यों और कैसे करे

What Is Phd Full Form In Hindi | पीएचडी क्या है क्यों और कैसे करे : जीवन में हर कोई बड़ा बनना चाहता है अपने नाम को ऊपर उठाना चाहता है. अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाना हर किसी को अच्छा लगता होगा, मगर यह थोड़ा कठिन भी हैं, क्योंकि इसके लिए आपके पास Doctoral Degree अर्थात पीएचडी की डिग्री होनी चाहिए, तभी आप ऐसा करने में कामयाब हो पाएगे, यदि आपकों नही पता कि phd ki full form क्या होती है PhD information की तलाश कर रहे है तो आप सभी जगह पर है हम आपको यहाँ phd in hindi में इस कोर्स के बारे में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध करवा रहे हैं.phd in hindi

Phd Full Form In Hindi | पीएचडी कोर्स फुल फॉर्म & इन्फॉर्मेशन इन हिंदी

पीएचडी क्या है पूरी जानकारी (What is Phd information in hindi): भारत में पीएचडी बेहद प्रसिद्ध कोर्सेज़ में गिना जाता है जिसके लिए न केवल गहन अध्ययन की जरूरत होती है बल्कि आपको बहुत सा समय भी देना पड़ता हैं. इतना सब कुछ करने के बाद लोग अपने नाम के साथ डॉ (Dr) का तमगा लगा पाते हैं. Full Form of Ph.D, How to do Ph.D,  Ph.D In india, Eligibility Criteria for Ph.d ये बहुत से सवाल है जो PhD Course information से जुड़े हुए है यानि पीएचडी क्या है, पीएचडी कैसे करे, पीएचडी की फीस, पीएचडी में कितना समय लगता है, पीएचडी के बाद क्या बनते है इन तमाम सवालों के जवाब आपकों इस लेख के जरिये देने का प्रयास किया गया हैं.

पीएचडी की फुल फॉर्म phd long form पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है (Full Form of Ph.D)

पीएचडी (PhD) की फुल फॉर्म है डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी (Doctor of Philosophy) जिन्हें हम phd या P.HD भी कहते है. यह डिग्री स्कूली तथा कॉलेज शिक्षा पूरी होने के बाद ही की जाती है. यह एक विषय क्षेत्र में पढ़ाई के लिहाज से आखिरी पड़ाव है जहाँ पहुचकर आप सम्बन्धित विषय के ज्ञाता बन जाते है तथा आपके नाम के आगे डॉक्टर जुड़ जाता है.

कॉलेज या स्कूल के व्याख्याता बनने के लिए पीएचडी की डिग्री पास करनी होती है, यह तीन साल का कोर्स होता है. मगर इसमें एंट्री करना तथा इसे पार करना बेहद कठिन है मगर असम्भव जैसी कोई बात नहीं है हर साल हजारों की संख्या में स्टूडेंट्स इसे प्राप्त करते हैं. यदि आप बाहरवी में है

अथवा स्नातक कर रहे है तो आपकों ध्यान देने योग्य बात यह है कि आप जिस विषय में रूचि रखते है उसी में ही मास्टर डिग्री करे तथा इसे अच्छे मार्क्स के साथ क्लियर करे जिससे आगे जाकर आपके लिए पीएचडी की राह आसान हो सके. अब तक आप Phd Full Form और कोर्स के बारे में बेसिक जानकारी पा चुके होंगे, अब आपकों इस कोर्स के बारे में विस्तार से चरणवार बताते है कि कोई व्यक्ति यदि पीएचडी करना चाहता है तो उन्हें किन किन चरणों से होकर गुजरना पड़ता हैं.

पीएचडी के लिए योग्यता (Eligibility Criteria for Ph.d Degree Course)

कुछ साधारण व कुछ असाधारण योग्यताएं भी है जो आपके पास पीएचडी के एंट्रेस एग्जाम देने से पूर्व होनी चाहिए, इसमें पहली कड़ी यह है कि आप जिस विषय में पीएचडी करना चाहते है माना कि आप इतिहास में पीएचडी करना चाहते है इसके लिए बाहरवीं में आपके इतिहास होनी चाहिए इसके बाद बीए और एमए भी इतिहास विषय में ही होना चाहिए, विषय चुनते समय अपनी रूचि का भी ख्याल रखे जो आपके लिए आगे जाकर मददगार साबित होगा.

आपकी ग्रेजुएशन क्लियर होनी चाहिए, साथ ही सम्बन्धित विषय में मास्टर डिग्री भी होनी चाहिए, इसके अलावा पीएचडी के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा में निर्धारित मापदंडों के अनुसार अंक अर्जित होने चाहिए, कई बार यह 55 से 65 प्रतिशत के मध्य ही रहता हैं. अब हम आगे जानेगे कि आपकों पीएचडी क्यों करनी चाहिए इसके फायदे क्या है.

पीएचडी क्यों करनी चाहिए इसके फायदे क्या है. (Advantage of Phd Course in hindi)

अपने नाम के साथ डॉ (Dr) का शीर्षक लगाना है तो इसके लिए आपकों पीएचडी करनी चाहिए, यदि आप उच्च रोजगार वाले शिक्षा के क्षेत्रों में प्रवेश करना चाहते है तो इसका रास्ता पीएचडी ही हैं. यदि आप शिक्षा के शिखर को चूमना चाहते हैं यानि जहाँ तक पढ़ाई होती है वहां तो पढना है तो आपकों पीएचडी करनी चाहिए, शिक्षा के क्षेत्र में यह सबसे ऊँची डिग्री हैं.

स्कूल या कॉलेज व्याख्याता बनना चाहए हैं तथा एक विषय के पूर्ण जानकार बनना है अथवा प्रोफेसर के रूप में पढाने का सपना है तो आपकों पीएचडी करनी चाहिए, यदि आप खोज, सर्वेक्षण, एनालिसिस करना चाहते है तो आपकों पीएचडी की डिग्री हासिल करनी होगी, अब तक आप पीएचडी क्या है, पीएचडी की फुल फॉर्म, पीएचडी के फायदे व योग्यताओं के बारे में भली भांति परिचित हो गये होंगे. अब आपकों उन पांच चरणों के बारे में बता रहे हैं. जहाँ से आप पीएचडी कोर्स कर सकते हैं.

पीएचडी कैसे करे या पीएचडी करने के लिए क्या करे (phd kaise kare in hindi)

  • प्रथम चरण- हम यह मानकर चलते है कि आपकों पीएचडी की डिग्री करनी है तो आप जब बाहरवी क्लाश में हो तब आपकों इसके बारे में सोच लेना चाहिए. क्योंकि इसका पहला चरण यही से शुरू हो जाता है यदि आप किसी के दवाब में किसी अन्य फिल्ड में जाते है आगे आपकों उसी विषय में पीएचडी करनी होगी, जो आपने 11 वी तथा बाहरवी में चुना है. यानि आप कला वर्ग से बाहरवीं उतीर्ण करते है तो आपकों आगे भी इसी में PHD करनी होती है. साथ ही बाहरवीं में प्रथम श्रेणी से उतीर्ण होने का प्रयत्न करे.
  • PHD करने का दूसरा स्टेप ग्रेजुएशन है, आप कला वर्ग के विद्यार्थी है तो उन्ही तीन विषयों में ग्रेजुएशन करे जो आपकों पसंद है तथा जिनमें आप करियर बनाना चाहते है. अपने पसंदीदा विषय में अधिकतम अंक लाने का प्रयत्न करे.
  • पीएचडी करने का तीसरा स्टेज है मास्टर डिग्री, यानि कला वर्ग के लिए एमए. यहाँ आपकों एक ही विषय में मास्टर डिग्री करते वक्त ध्यान देना होगा, उस विषय में आपके बाहरवीं तथा ग्रेजुएशन में अच्छे प्राप्तांक आए हो. साथ ही कोशिश करे कि आप सम्बन्धित विषय में मास्टर डिग्री भी ६० या इससे अधिक अंकों से क्लियर करे.
  • phd करने का चौथा चरण आपके ज्ञान की परख के साथ शुरू होता है. UGC NET टेस्ट वो पायदान है जो जिसके आगे पीएचडी करने की राह कुछ आसान हो जाती हैं. आपकों UGC NET टेस्ट न सिर्फ क्लियर करना पड़ता है बल्कि अच्छे अंक भी लाने होते है. इसका स्तर भी कुछ उच्च स्तर का होता है. इसके यहाँ आपकों स्वयं को साबित करने की शुरुआत होती है.
  • PhD के लिए एंट्रेंस परीक्षा यह पांचवा चरण है. यहाँ आपकों जिस विश्वविद्यालय या संस्था से पीएचडी करनी है उसकी प्रवेश परीक्षा को उतीर्ण करना होगा. यह एक अनिवार्य प्रोसेस है जो आपकों आगे बढने से पूर्व क्लियर करना होता हैं. देश के कई ख्याति प्राप्त विवि पीएचडी प्रवेश परीक्षाए आयोजित करवाते हैं.

PhD के लिए एंट्रेंस परीक्षा आपने पार कर ली तो आप सम्बन्धित युनिवर्सिटी से पीएचडी करने के लिए योग्य हो जाते हो. भारत में phd fees in india की बात करे तो यह उन विश्वविद्यालयों का मामला है जो इन्हें करवाते है इसकी शुरुआत दस हजार से लेकर 2 लाख तक है. सरकारी कॉलेज से पीएचडी करना प्राइवेट कॉलेज की तुलना में बेहद सस्ता पड़ता है. कई सारे संस्थान 20 से 25 रूपये में तीन वर्षों का यह कोर्स सम्पन्न करवा देते हैं. 

आशा करता हूँ दोस्तों आपकों Phd Full Form In Hindi का यह लेख अच्छा लगा होगा, आपका पीएचडी कोर्स के बारे में अच्छे विश्वविद्यालय एवं फीस के बारे में क्या विचार है हमें कमेंट कर जरुर बताएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *