Poem On Time In Hindi | टाइम समय पर कविता

Poem On Time In Hindi | टाइम समय पर कविता |samay par Kavita

समय का बड़ा महत्व है, Poem On Time In Hindi समय के महत्व पर आधारित कविता है. आपने कई बार सुना होगा, जो समय की कद्र नही करता समय भी उसकी कद्र नही करता है. Samay ka Mahatva Poem In Hindiछोटे बच्चों के लिए यहाँ दी गई हैं. विशेषकर विद्यार्थी जीवन में Samay Ka Sadupyog Poem Kavita के माध्यम से समझ सकते हैं. poem on time is precious In Hindi उन बच्चों के लिए प्रेरणादायक हो सकती है जो कक्षा 1,2,3,4,5,6,7,8,9,10 में पढ़ रहे हैं. Time Poem In Hindi के पांच संग्रह यहाँ दिए गये हैं.

Poem On Time In HindiPoem On Time In Hindi

समय का सबसे कहना है
जीवन चलते रहना है
इसकों मत बर्बाद करो
सदा काम की बात करो

कल कल नदियाँ बहती है
हर-पल सबसे कहती है
जीवन बहता पानी है
रुकना मौत की निशानी है

Short Poem On Time In Hindi For Kids

समय की धारा बहती जाए
नहीं लेती कभी वह विराम
समय पे जो सबकुछ करे
उसे मिले आराम ही आराम

समय के आगे झुक जाते है
जितने बड़े वह महान
समय से बड़ा कुछ भी नही
वही है सबसे बलवान

समय चक्र से पीस जाते है
राजा हो या कोई फकीर
समय पे करवट लेते है
जो लिखी हुई भाग्य की लकीर

समय ही दुखद चुभन है
फिर वही तो सुख और चैन
समय ही मृत्यु और काल है
फिर वही मैत्री और अमन

समय के साथ चलना सीखे
जीवन ही हो जाएगा आसान
समय का सदुपयोग करे
बने एक अच्छा सा इंसान

poem on time in hindi for class 10,7

समय तूम्हारे साथ साथ चलता हूँ मैं
तुम रुकते नही तुम थकते नही
तुम कही कभी भी थकते नही
क्या बात तुम्हारी है न्यारी
पीछे कभी तुम मुड़ते नही
तुमकों न कोई बाँध सका
सब मर्जों की तुम एक दवा
जो चाल तुम्हारी समझ गया
धरती पर उसने है राज किया
हे समय बड़े तुम बलशाली
वीरों को देते खुशहाली
सब आस निराश के ज्ञाता तुम
सुखों और दुखों के दाता तुम
तुम से ही जग में है वैभव
हो अभय तुम ही तुम ही अमृत
हे समय तुम्हे हम करे नमन
पीड़ा जग की अब करो हरण
हे समय तुम्हारे साथ है हम

samay ka mahatva in hindi download

समय का महत्व
दुनियां की सबसे
कीमती चीज वक्त है
इसलिए अपने समय का
सदैव सदुपयोग करे.
अगर आप अपने समय का
सही उपयोग करना
सीख गये
तो निश्चिन्त ही
अपने लक्ष्य को
प्राप्त करेगे और जीवन में
तरक्की करेगे

टाइम समय पर कविता इन हिंदी

घड़ी बोले टिक टिक टिक
समय गवाएं ना अधिक
झट पट अपना काम कर
पढ़ लिख कर जग में ऊँचा नाम कर

समय गवाएं न अधिक
झट पट अपना काम कर
पढ़ लिखकर जग में ऊँचा नाम कर

घड़ी बोले टिक टिक टिक
सुई बोले आठ बजल
घड़ी बोले जा स्कूल

घड़ी बोले टिक टिक टिक
समय गवाएं ना अधिक

शिवाजी महाराज कविता | भारत भूषण अग्रवाल रचनाएँ... शिवाजी महाराज कविता- महान हिंदी कवि...
प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *