Short Desh Bhakti Poem in Hindi | प्यारे भारत देश | PYARE BHARAT DESH

Short Desh Bhakti Poem in Hindi |प्यारे भारत देश  | PYARE BHARAT DESH 

गगन गगन तेरा यश फहरा
पवन पवन तेरा बल गहरा
क्षिति जल नभ पर डाले हिंडोले
चरण चरण संचरण सुनहरा
ओ ऋषियों के तवेष
प्यारे भारत देश

वेदों से बलिदानों तक जो होड़ लगी
प्रथम प्रभात किरण से हिम में जोत लगी
उतर पड़ी गंगा खेतों खलिहानों तक
मानों आसू आए बलि महमानों तक
सुख कर जल के क्लेश

तेरे पर्वत शिखर की नभ को भू के मौन इशारे
तेरे वन जग उठे पवन से हरित इरादे प्यारे
राम कृष्ण के लीलामय में उठे बुद्ध की वाणी
काबा से कैलास तलक उमड़ी कविता कल्याणी
बातें करे दिनेश
प्यारे भारत देश

जपी तपी सन्यासी कृषक कृष्ण रंग में डूबे
हम सब एक अनेक रूप में, क्या उभरे क्या ऊबे
सजग एशिया की सीमा में रहता खेद नही
काले गोरे बिरंगे हम में भेद नही
श्रम के भाग्य निवेश
प्यारे भारत देश “|”

भारतीय गीत 2017 प्राथमिक कक्षाओं हेतु ”भारत देश हमारा न्यारा हमें बहुत है प्यारा”

शिवाजी महाराज कविता | भारत भूषण अग्रवाल रचनाएँ... शिवाजी महाराज कविता- महान हिंदी कवि...
प्लीज अच्छा लगे तो शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *