Rajasthani Bhajan : राम राम बोलो भाई : RAM BOLO BHAI

Rajasthani Bhajan-RAM BOLO BHAI

Rajasthani Bhajan Video : RAM BOLO BHAI

राम बोलो भाई राम हरे राम बोलो
थारा कियोड़ा कर्म (कट जावे म्हारा भाईड़ा)
राम-राम बोलो रे साथिड़ा रे
लख चौरासी काट ने आयो
दुर्लभ मानुष तन तू पायों

बार बार नही (मिले म्हारा भाईड़ा)
राम राम बोलो रे म्हारा साथिड़ा रे
असंक जुगों सु सुतो म्हारों हंस्लो
काम क्रोध माया में फस्गियो

सतगुरु आय (जगाया म्हारा भाईड़ा)
राम-राम बोलो रे साथिड़ा रे
काम काज में रात दिन दौड्यो
राम नाम से मुखा तू मौड्यो

जमावाली मार थने खाणी पड़ेला रे भाई
राम-राम बोलो रे साथिड़ा रे…

Rajasthani Bhajan : राम ने सुमिर ले रे : Ram sumir le re praniya

Rajasthani Bhajan Video| Ram sumir le re praniya

राम सुमिरले रे भाई, हरी ने सुमिरले

थारा उम्र रा दिन दौड्या दौड्या (जावो मारा भाईड़ा)
राम ने सुमिरले रे साथिड़ा रे, हरि ने सुमिरले रे

काम काज में रात दिन दौड्यो
राम नाम से मुख तू मौड्यो

जमावाली मार थने खानी पड़ेला रे, भाई राम ने सुमिरले रे.

मीठो-मीठो बोल थने थोड़ो है जीवनों
थोड़ा सा जीवन में जहर नी घोल्णों

निंदा चुगलियाँ में दिन जावै रे, थारा दिन जावे, राम ने सुमिरले रे,
संतो ने दी सत्संग की निशानी,
जीने की कला संतो से जानी

संतो की मान तू अमृत वाणी रे, भाई राम सुमिरले रे
गया रे बालपन आई रे जवानी
छोरा छोरी थने खिचे कानी-कानी
संता री बात तू कोनी मानी रे, भाई राम ने सुमिरले रे

Rajasthani Bhajan : चालो रे भाईडा आपा

Rajasthani Bhajan Video| चालो रे भाईडा आपा

चालो रे भाईडा आपा हरि गुण गावा
कलयुग में सतयुग ल्यावा आपा हरि गुण गावा
रूठों क्यों ना भाई बन्धु, रूठों जग सारा
देखो नही रूठे भायां प्रभुजी म्हारा
प्रभुजी रुठ्यासु अपा घणा दुःख पावा
आडौसी पड़ौसी ने संग लेता चालो जी
बेरी तो होवे तो भाया, गले से लगावों जी
हिलमिल चालालां तो घणा सुख पावा
निन्द्डली फिरेला आड़ी, करेली बिगाड़ो
हेलो तो मारेली थेतो पाछा तो पधारों
पाछा तो फिरया सु आपा घणा दुःख पावा
घड़ी रे दो घड़ी राम धुन लगावा रे
देखो फिर क्यया नाही सतयुग आवे
”भवर” जगत में पाछो कुण आसी रे

Leave a Reply