Tika Ram Paliwal Biography In Hindi | टीकाराम पालीवाल का जीवन परिचय

Tika Ram Paliwal Biography In Hindi | टीकाराम पालीवाल का जीवन परिचयTika Ram Paliwal Biography In Hindi

टीकाराम पालीवाल का जन्म सवाईमाधोपुर जिले के मंडावर गाँव में हुआ. पालीवाल की शिक्षा दिल्ली तथा मेरठ में हुई तथा इसको राजनैतिक कार्य करने की प्रेरणा इनके गुरू प्रोफेसर रघुनंदन शरण से मिली.

1929 ई में पालीवाल ने दिल्ली में विद्यार्थी यूथ लीग की स्थापना की. और इसके माध्यम से सार्वजनिक सभा, जुलूस तथा प्रदर्शनों के द्वारा दिल्ली में सामाजिक एवं राजनैतिक चेतना उत्पन्न करने का प्रयास किया.

1930 ई में सविनय अवज्ञा आंदोलन के दौरान नमक बनाकर अपनी गिरफ्तारी दी. पालीवाल दरियागंज दिल्ली में एक सत्याग्रह आश्रम का संचालन भी किया. 1938 ई में उसने हिंडौन में वकालत करनी शुरू कर दी. और प्रजामंडल की गतिविधियों से जुड़ गये. टीकाराम पालीवाल 3 मार्च 1951 ई को राजस्थान के प्रथम निर्वाचित मुख्यमंत्री बने.

राजस्थान में पहला लोकसभा चुनाव 1952 में सम्पन्न हुआ था. उस समय कांग्रेस के लोकप्रिय नेता और लोकनायक जयनारायण व्यास दोनों सीट से चुनाव हार गये ऐसी स्थिति में हीरालाल शास्त्री पहले मुख्य मंत्री एवं पालीवाल को इस विधानसभा के लिए उप मुख्यमंत्री बनाए गये.

जब व्यास चुनाव नहीं जीत पाए तो पालीवाल को मुख्यमंत्री बनाया गया. यही से राजस्थान की राजनीति में व्यास और पालीवाल के बीच जंग छिड़ गई. व्यास उस अवसर के इंतजार में थे जब उप चुनाव हो और वो विजयी होकर सीएम बन जाए. व्यास ने चुनाव भी जीता और मुख्यमंत्री भी बने और पद संभालते ही पालीवाल को उप मुख्यमंत्री का पद दिया गया. मगर व्यास के इस चक्रव्यूह के चलते उन्होंने अपने पद से त्याग पत्र दे दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *