यातायात व्यवस्था पर निबंध |Traffic Problems And Solutions Essay

Traffic Problems And Solutions Essay: विज्ञान के आधुनिक विकास सड़को के होते हुए विस्तार तथा यातायात के बढ़ते साधनों ने मनुष्य के सामने एक नई प्रकार की चुनौती पेश की हैं. और वह चुनौती हैं यातायात सुरक्षा. यातायात सुरक्षा का अर्थ सड़क पर चलते हुए प्रत्येक पैदल यात्री, वाहन चालक अथवा गन्तव्य पर जाने वाले प्रत्येक यात्री की सुरक्षा. आजकल यातायात के साधनों के बढ़ते दवाब के साथ-साथ यातायात के साधनों के अत्यधिक उपयोग का आकर्षण भी बढ़ा हैं. इसी के साथ वाहन चालकों तथा पैदल यात्रियों के द्वारा यातायात के नियमों की अवहेलना करना भी असुरक्षा का महत्वपूर्ण कारक हैं.

यातायात व्यवस्था पर निबंध/Essay On Traffic Rules

(Traffic Problems And Solutions Essay)

प्राय यह देखा जाता हैं कि घनी आबादी वाले छोटे-बड़े नगर महानगरो में दुपहिया तथा चौपहिया वाहनों की भारी भीड़ रहती हैं. जिसमे बहुत से लोग ऐसे मिल जाएगे. जिनके पास वाहन चलाने का लाइसेंस नही होता हैं. ऐसा होने पर उन्हें लाइसेंस प्रदाता एजेंसियों द्वारा दिया जाने वाला प्रशिक्षण तथा यातायात की सुरक्षा के नियमों की जानकारी नही होती तथा वे सड़को पर वाहन चलाते समय नियमों की अवहेलना करते हैं. जिसमे हेलमेंट या सीट बेल्ट का प्रयोग ना करना, गलत दिशा में वाहन चलाना, अवयस्क बच्चों द्वारा वाहन चलाना आदि शामिल हैं.

परिणामस्वरूप आए दिन हमे दुर्घनाओ के द्रश्य दिखाई पड़ते हैं. जिससे यात्री गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं. गम्भीर चोटे लग जाती हैं तथा कभी-कभी तो चालकों या यात्रियों को जान से भी हाथ धोना पड़ता हैं . यह सर्वविदित हैं कि ‘ सावधानी हटी दुर्घटना घटी’ आज की आधुनिक दुनिया में हर कोई व्यक्ति चाहता हैं, उसके पास अपना स्वय का वाहन हो बल्कि उभरते हुए माध्यमवर्गीय परिवारों में तो एक ही घर में कई-कई वाहनों का प्रयोग किया जाने लगा हैं. यदि एक परिवार के लोग उचित अवसरों पर एक ही वाहन का उपयोग करने का द्रष्टिकोण रखेगे, तो सड़को पर यातायात का दवाब कम होगा तथा दुर्घटनाओ की सम्भावना कमतर होगी.

इसी क्रम में वाहनों की समय-समय पर जांच करवानी चाहिए. जिससे उनमे आने वाली खराबी से होने वाली दूर्घटनाए टाली जा सकती हैं. सड़क सुरक्षा सम्बन्धी नियमों की जानकारी तथा यातायात पुलिस द्वारा दी जाने वाली जागरूकता की हमे गंभीरता से अनुपालना करनी चाहिए. छोटे बच्चों को वाहन चलाने से बचाना चाहिए. तथा हेलमेट शीशा इत्यादि उपयोगी तथा गुणवता पूर्ण होने चाहिए.

सड़क पार करते समय लाल बत्ती आदि यातायात के संकेत चिह्नों का सावधानी पूर्ण ध्यान रखना चाहिए. यह भी आवश्यक हैं कि यातायात के नियमों तथा सड़क सुरक्षा की जानकारी हमारे बच्चों को उनके पाठ्यक्रम में जोड़कर देना उपयोगी हो सकता हैं. हमारी सरकारों को चाहिए कि उबड़ खाबड़ तथा गहरे गद्दों पर सड़क का रखरखाव तथा निर्माण उचित समय पर कराया जाना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *