Visit To A Hill Station Shimla Essay | Hindi And English Language | पहाड़ी स्थल की यात्रा

Visit A Hill Station Shimla Essay | Hindi And English Language | पहाड़ी स्थल की यात्रा

my unforgettable trip essay: hill station Is attract anyone to visit there. in India some famous hill station like Manali, Nainital, Mussoorie, Darjeeling, Kashmir, Mahabaleshwar and my favorite Shimla also. most of the summer holidays many of people go there for a trip. in this visit to a hill station essay, I talking about my trip to Shimla in English and Hindi language for class 1,2,3,4,5,6,7,8,9 class students helps to know about this place.

Hill Station Shimla
shimla places to visit

Visit To A Hill Station Shimla Essay

my uncle lives at Shimla. he invited me last year to visit Shimla. I had never seen to that place. so I decided to go Shimla.

the trip to Shimla was very pleasant. at first, I went to Kalka, from there I left by the narrow gauge train. it moved at slow speed. it ran in a zig-zag way.

the scenery charmed me. I saw hills, valleys, small fields, and springs. the train passed through tunnels. I reached Shimla.

I enjoyed my stay at Shimla very much. I was away from the heat of the plains. it rained heavily almost every day.

the weather was cool and pleasant. sometimes I had pony rides. the mall was crowded. all the visitors looked cheerful. I had a jolly good time. I returned when my school reported. I come with sweet memories of Shimla trip.

Visit To A Hill Station Shimla Essay

मेरा चाचा शिमला में रहते है। उन्होंने पिछले साल शिमला जाने के लिए मुझे आमंत्रित किया। मैंने उस जगह को कभी नहीं देखा था। इसलिए मैंने शिमला जाने का फैसला किया।

शिमला की यात्रा बहुत सुखद थी। सबसे पहले, मैं कालका गया, वहां से मैंने नैरो गेज ट्रेन को पकड़ा. यह पहाड़ी संकीर्ण रास्ते से जिग जिग करती आगे बढ़ रही थी.

वहां के मनोरम दृश्यों ने मुझे आकर्षित किया। मैंने पहाड़ियों, घाटियों, छोटे खेतों, और झरनों को देखा। इस दौरान हमारी  ट्रेन सुरंगों कई से गुजरती है। अन्तः मैं शाम के वक्त शिमला पहुंच गया।

मैंने शिमला में अपने रहने का आनंद लिया। मैं मैदानों की गर्मी से बहुत दूर था। यहाँ लगभग हर दिन भारी बारिश हुई।

शिमला का मौसम शांत और सुखद था। कभी-कभी हम पहाड़ी घोड़ो की सवारी करने भी जाया करते थे । बाजार में बहुत भीड़ थी। सभी पर्यटक हंसमुख लग रहे थे। यह मेरे पास एक मजेदार समय था। जब स्कूल की छुटिया खत्म हुई तो मैं लौटा। मैं शिमला यात्रा की मीठी यादों के साथ वापिस अपने घर लौट आया।

READ MORE:-

मित्रो आशा करता हु, आपको यह शोर्ट Hill Station Shimla Essay पसंद आया होगा. इस लेख में दी गयी जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *