What Is Diwali In Hindi And Why We Celebrate Deepawali | दिवाली क्या है कब और क्यों मनाई जाती है

What Is Diwali In Hindi And Why We Celebrate Deepawali | दिवाली क्या है कब और क्यों मनाई जाती है

आज हम बात कर रहे है What Is Diwali In Hindi यानी दीपावली पर्व क्या है कब है और क्यों मनाया जाता हैं. हम सभी जानते है कि Diwali/Deepawali एक हिन्दू फेस्टिवल है. Diwali 2018 In Hindi, We Celebrate Deepawali के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले है Diwali क्या है 2018 में Diwali कब है तथा Diwali क्यों मनाई जाती हैं. आपकों बता दे वर्ष 2018 में यह दीपोत्सव 8 नवम्बर को मनाया जाना हैं. सम्पूर्ण भारत में मनाए जाने वाले त्योहारों में से एक दीपावली को रोशनी का पर्व अर्थात फेस्टिवल ऑफ लाइट्स के नाम से भी जाना जाता हैं. इस लेख What Is Diwali Festival Information In Hindi में आपकों इससे जुड़ी कई अहम जानकारी प्रदान कर रहे हैं.

What Is Diwali In HindiWhat Is Diwali In Hindi

mera priya tyohar diwali nibandh essay on diwali in hindi for class 6: नेपाल, भारत, श्रीलंका, म्यांमार, मारीशस, गुयाना, त्रिनिदाद और टोबैगो, सूरीनाम, मलेशिया, सिंगापुर, फिजी, पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया ये उन देशों के नाम है जहाँ दीपावली का राजकीय अवकाश रहता हैं. अंधकार पर प्रकाश की, अन्याय पर न्याय की जीत के रूप में इसे मनाया जाता हैं. हमारे उपनिषद् में वर्णित संस्कृत श्लोक तमसो मा ज्योतिर्गमय की व्याख्या दिवाली का पर्व करता है जिसका तात्पर्य है अंधकार से उजाले की ओर.

यह पर्व हिन्दुओं के अतिरिक्त बौद्ध सिख एवं जैन धर्म के अनुयायी भी मनाते हैं. उनकी धार्मिक आस्था के अनुसार सिख धर्म के इतिहास में दिवाली के दिन ही स्वर्ण मंदिर की नीव रखी गई थी और इसी दिन छठे सिक्ख गुरु हरगोविंद सिंह जी को जेल से रिहाई भी मिली थी. जैन धर्म के लोग इन्हें निर्वाण दिवस के रूप में मनाते है उनके चौबीसवें तीर्थकर महावीर स्वामी ने दीपावली के दिन ही निर्वाण प्राप्त किया था.

Deepawali Story And What Is Diwali In Hindi

why we celebrate diwali in hindi: इस त्यौहार को मनाने के पीछे की कई कहानियां है मगर प्रमुखतया इसका मूल सम्बन्ध भगवान् श्रीराम की कथा से जुड़ा हुआ हैं. रामायण के अनुसार अयोध्या नगरी के राजा दशरथ हुआ करते थे, उनके द्वारा एक समय अपनी रानी कैकेयी को दिए गये एक वरदान के अनुसार पिता दशरथ को अपने प्रिय राजकुमार श्रीराम को 14 वर्ष का वनवास देना पड़ा.

राम जी के वन गमन के समय उनके साथ पत्नी सीता एवं भाई लक्ष्मण भी थे. वन वास की अवधि के दौरान ही लंका नरेश रावण द्वारा सीता का हरण हो जाता है तथा वह उनके लंका ले जाता है. जब रामचन्द्र जी को इस घटना का पता लगता है तो वे सीता की खोज में सुग्रीव की वानर सेना के साथ लंका जाते है तथा अत्याचारी रावण से युद्ध कर उन्हें मारकर अयोध्या लौट आते हैं. कहा जाता है कि कार्तिक अमावस्या की रात्री को भगवान् राम अयोध्या पहुचे थे.

अमावस्या की अँधेरी रात्रि में 14 वर्ष बाद पहुचे अपने प्रिय राजा को देखने के लिए लोग ललायित थे. जब उनके पहुचने की खबर उनकों लगी तो सभी ने घी के दीपक जलाकर प्रभु श्रीराम का स्वागत किया. चारों ओर दीयों की रोशनी के साथ जनमानस में खुशी का ठिकाना नही था. दिवाली मनाने की परम्परा की शुरुआत यही से हुई है तब से लेकर आज तक हम दीपोत्सव दिवाली को मनाते आ रहे हैं.

दिवाली कब है 2018 में

यदि हम बात करे दीपावली 2018 की तो आपकों बता दे आगामी 7 नवम्बर को दीपोत्सव है. हर वर्ष दिवाली का यह पर्व अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार अक्टूबर माह में पड़ता है. 2018 में अधिकमास के कारण अब नवम्बर माह में ही मनाया जाना हैं. हिन्दू पंचाग के अनुसार यह कार्तिक महीने की अमावस्या (15 वी) तिथि को मनाया जाता हैं.

2018 की दिवाली कब है- दीपावली को पांच दिवसीय पर्व के रूप में मनाया जाता है, जिसका पहला दिन धनतेरस कहलाता है जो कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है 2018 में धनतेरस का यह उत्सव 5 नवम्बर सोमवार को हैं. इसके अगले दिन को रूप चौदस के रूप में मनाते है जो कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी को पड़ता है इस साल रूप चौदस 2018 की तिथि 6 नवम्बर मंगलवार हैं.

रूप चौदस का अगला दिन लक्ष्मी पूजन यानि दीपावली का होता है. 2018 में दिवाली का त्योहार 7 नवम्बर बुधवार को है. दिवाली का अगला दिन गौवर्धन पूजा एवं अंतिम दिवस भाई दूज कहलाता है जो 9 नवम्बर शुक्रवार के दिन हैं.

दिवाली इन हिंदी

यह हिन्दुओं का सबसे बड़ा त्योहार है. इस अवसर पर विद्यार्थियों एवं कर्मचारियों को साल की सबसे लम्बी छुट्टियाँ भी मिलती हैं. सभी लोग अपने परिवारजनों एवं मित्रों के साथ इसे बड़ी धूमधाम के साथ मनाते है. लोग अपने घरों की सफाई करते है. सजी धजी बाजारों से गहनों बर्तनों आदि की खरीददारी की जाती है. बच्चें दिवाली के पटाखें एवं मिठाइयों का लुप्त उठाते है. शुभ मुहूर्त में माँ लक्ष्मी की पूजा की जाती है.

आशा करता हूँ मित्रों What Is Diwali In Hindi का यह लेख आपकों पसंद आया होगा. आपकों और आपके समस्त परिवार को हमारी तरफ से इस दिवाली की ढेरों शुभकामनाएं. आशा करते है ये दीपावली आपके लिए सफलता एवं खुशियों की सौगात लेकर आए.

दिवाली क्या है कब और क्यों मनाई जाती है, Why We Celebrate Diwali Deepawali के बारे में आप अधिक दिवाली निबंध, दिवाली का भाषण, दिवाली के लिए शायरी इत्यादि पढना चाहते है तो इनकी लिंक नीचे दी गई हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *