What Is Swiss Bank In Hindi स्विस बैंक क्या है? हिंदी में जाने पूरी जानकारी

What Is Swiss Bank In Hindi स्विस बैंक क्या है? जानकारी Account Meaning UBS Switzerland Account Opening: Hello Guys Swiss Bank And Black Money Is Popular Term In India. Each Time Both Connec-ted In As A Some Thing. स्विस बैंक क्या है In This Article We Are Try To Know All Details & Information About Swiss Or UBS Bank Of Switzerland. Where Is Headqutear How To Open Bank Account In Swiss Bank Online In India In Hindi. How Swiss Bank Functions For All Black Money Holder All Across The World, Swiss Bank In Hindi What Is Meaning And Works Here We Try To Understand It. So let’s Begin.

Know What Is Swiss Bank In Hindi

What Is Swiss Bank In Hindi

What Is Ubs Bank & Swiss Bank In Hindi : एक लम्बे अरसे से भारत में काला धन केन्द्रीय विषय रहा हैं. इस दौरान डिबेट्स और अखबारों में एक नाम सर्वाधिक सुनने में आता हैं वो हैं स्विस बैंक का. दूनिया भर में कालेधन और गुप्त धन का सबसे सुरक्षित स्थान इन स्विस बैंक को ही माना जाता हैं. स्विस बैंकों को लेकर आपके दिमाग में उठ रहे सभी सवालों का यहाँ जवाब देने का प्रयास करेंगे.

स्विस बैंक का अर्थ क्या है? | What is the meaning of Swiss bank in hindi

जिस तरह हमारा बैंक खाता स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक या आईसीआईसीआई बैंक में है उसी तरह स्विस बैंक भी इस तरह का ही एक बैंक हैं. UBS (यूनियन बैंक ऑफ़ स्विट्जर्लैंड) नामक फाइनेंस कम्पनी द्वारा इसे संचालित किया जाता हैं. जैसा कि नाम से विदित हैं यह स्विटजरलैंड में स्थित एक विश्व स्तरीय बैंक हैं. जो अन्य बैंकों के नियमों एवं कार्यप्रणाली से थोड़ा भिन्न हैं. यदि हम यह कहे स्विस बैंक केवल धनी पूंजीपतियों, राजनेताओं आदि के लिए चोरी का विआईपी बैंक है तो यह गलत नहीं होगा, ऐसा क्यों है इसके बारे में आगे बताएगे कि क्यों एक आम आदमी स्विस बैंक में धन जमा कराना तो दूर अपना खाता तक नहीं खुलवा सकता हैं.

स्विस बैंक कॉर्पोरेशन के फैक्ट्स की बात करे तो यह संसार के सबसे बड़े तीन बैंक में गिना जाता हैं. यूबीएस को भारत तथा दुनिया के अन्य हिस्सों में स्विस बैंक के नाम से ही जानते हैं. यहाँ के खाताधारक दुनिया के सबसे भ्रष्ट कालाबाजारी करने वाले टैक्स चोर और ब्लैक मनी छुपाने वाले राजनेता ही यहाँ अपना पैसा जमा कराते हैं. वर्तमान में स्विस बैंक के सीईओ सर्जियो एर्मोटी जो 2011 से इस पद पर आसीन है बैंक का मुख्यालय ज्यूरिक, स्विट्ज़रलैण्ड में हैं. इसकी स्थापना 29 जून 1998, विंटरथुर, स्विट्ज़रलैण्ड में हुई थी.

स्विस बैंक में अकाउंट कैसे ओपन करते है| How to open Swiss Bank Account in hindi

भारतीय बैंकों में अपना व्यक्तिगत बैंक खाता खोलना जितना आसान है उससे कही अधिक सरल स्विस बैंक में खाता खोलना हैं. अपने घर या ऑफिस में बैठे बैठे ही ईमेल या किसी वेबसाइट की मदद से अकाउंट खोला जा सकता हैं. UBS अपने ग्राहकों को तकनीकी टीम के जरिये त्वरीत ऑनलाइन सहायता उपलब्ध करवाती हैं. इन सबके उपरान्त आपके यह जानकर होश उड़ जाएगे कि स्विस बैंक में खाता खोलने के लिए क्या चाहिए.

यहाँ कोई बड़े दस्तावेज आपकों जमा नहीं करवाने हैं बल्कि 71 लाख की डिपोजिट राशि के साथ आप स्विस बैंक में अकाउंट खोल सकते हैं. इतनी बड़ी राशि हर किसी के पास होना सम्भव नहीं है तभी तो यह आम आदमी की पहुँच से बाहर की बैंक हैं. इसके शुरूआती चार्जेस न केवल ज्यादा है बल्कि वार्षिक रखरखाव शुल्क भी करीब 21 हजार रूपये सालाना हैं. कोई भी व्यक्ति इतनी बड़ी रखरखाव रकम देने से पूर्व सौ बार विचार करेगा.

स्विस बैंक में खाता खोलने के लिए किन दस्तावेजों की जरुरत पड़ती है?| Which Document is Required for open account in Swiss Bank

यहाँ यह बताना कि स्विस बैंक में खाता खुलवाने के लिए क्या दस्तावेज अपने साथ लेकर जाए बेहद हास्यास्पद हैं मगर जब हम What Is Swiss Bank In Hindi स्विस बैंक के बारे में पूरी जानकारी पता कर रहे हैं तो हमें यह भी जान लेना चाहिए कि कौन कौनसे दस्तावेज आवश्यक होते हैं.

  1. Passport copy : सबसे पहला एवं प्रमुख दस्तावेज आपका भारतीय पासपोर्ट है जिसकी फोटो कॉपी खाता खुलवाते समय सलंग्न करनी होती हैं.
  2. Proof of your Economic Background : अमूमन सभी बैंक आपके रोजगार के बारे में सूचनाएं मांगती हैं. स्विस बैंक भी आपकी कुल प्रोपर्टी आपके कारोबार आपके परम्परागत व्यवसाय आदि के सम्बन्ध में सम्पूर्ण ब्यौरा अपने ग्राहक से लेती हैं..
  3. Proof of the origin of your deposits : तीसरा प्रुफ्स भी आपकी सम्पति से जुड़ा हैं. आपके कहा कितने एकाउंट्स है तथा उनकी वर्तमान स्थिति क्या हैं इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपकों दस्तावेज के रूप में जमा करवानी पडती हैं.

स्विस बैंक के खास नियम और कानून | Lows of Swiss Bank in hindi

आपके दिमाग में यह विचार आया होगा कि आखिर लोग काला धन स्विस बैंक में ही क्यों छिपाते हैं. क्या अन्य बैंकों में ब्लैक मनी नहीं रखी जा सकती हैं. आपकों बता दे बैंकिंग व्यवस्था किसी भी देश की सरकार के अंतर्गत आती है न कि स्वायत्त इस कारण सरकार और एजेंसियों से गुप्त धन अधिक समय तक नहीं रखा जा सकता हैं. जबकि स्विटजरलैंड के बैंकों को इस मामले में पूर्ण स्वतन्त्रता हैं.

वे अपनी इच्छा के मुताबिक़ नियम बना सकते हैं. यही वजह है कि स्विस बैंक अपने ग्राहको की पहचान को गुप्त रखता है तथा किसी के साथ साझा नहीं करता हैं. अन्य बैंक की तरह स्विस बैंक भी अपने ग्राहकों को एक खाता संख्या जारी करता हैं. मगर खाता धारक का नाम कभी प्रयोग में नहीं लिया जाता हैं. साथ ही बैंक के किसी भी कर्मचारी को भी ग्राहक के नाम और बैंक खाते में एक्सेस करने की अनुमति नहीं होती हैं. एक विश्वसनीय टीम द्वारा सभी अकाउंट को मैनेज किया जाता हैं केवल ग्राहक ही अपने खाते में एक्सेस कर सकता हैं.

अमेरिका, भारत समेत दुनिया के कई देशों का अथाह पैसा स्विस बैंकों में जमा पड़ा हैं. बैंक की जटिल कार्यप्रणाली और वहां की सरकार के पूर्ण समर्थन के चलते उन लोगों की सूचि पता करना भी जटिल कार्य बन चूका हैं. किसी देश द्वारा अपने नागरिक के स्विस बैंक में ब्लैक मनी के साक्ष्य होने के उपरान्त भी बैंक और सरकार के नियम आरोपी खाताधारक की ढाल बन जाते हैं. यदि कोई व्यक्ति वाकई में अंतर्राष्ट्रीय मानकों के विपरीत दोषी पाया जाता हैं तो स्विस सरकार की अनुमति के बाद ही बैंक को पत्र लिखकर सम्बन्धित व्यक्ति की जानकारी पता की जा सकती हैं.

स्विस बैंक का एक्सेस किसे मिलता हैं.

बैंक के खाता खोलते समय परिपत्र में जिसे वारिश बनाया जाता हैं वही व्यक्ति खाताधारक की म्रत्यु के उपरांत स्विस बैंक के खाते में एक्सेस प्राप्त कर सकता हैं. वह खाताधारक की पत्नी, भाई, माता पिता कोई भी हो सकता है या वहां की अदालत द्वारा जिसे वारिश बनाया जाता हैं उसी के पास अपने प्रिय के खाते की जानकारी पाने का अधिकार होता हैं.

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों What Is Swiss Bank In Hindi स्विस बैंक क्या है? हिंदी में जाने पूरी जानकारी का यह लेख आपकों पसंद आया होगा यदि आपकों स्विस बैंक के बारे में दी गई जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *