छठ पूजा क्यों मनाया जाता है | Why We Celebrate Surya Shashti Vrat in Hindi

छठ पूजा क्यों मनाया जाता है | Why We Celebrate Surya Shashti Vrat in Hindi: कार्तिक माह की शुक्ला षष्ठी को छठ पूजा का यह व्रत मनाया जाता हैं. इस दिन सूर्य देव की पूजा का विशेष महत्व हैं. इसे करने वाली स्त्रियाँ धन धान्य, पति पुत्र तथा सुख सम्पति से परिपूर्ण तथा संतुष्ट रहती हैं. चर्म रोग आँख की बीमारी से भी छुटकारा मिल जाता हैं. पूजन तथा अर्ध्य दान देते समय सूर्य किरण अवश्य देखना चाहिए. पूजन विधि में फल, पकवान, मिष्ठान आदि का महत्व हैं. surya shashti vrat 2018 vrat katha के बारे में आज यहाँ बात करेगे.

Why We Celebrate Surya Shashti Vrat in Hindi

Why We Celebrate Surya Shashti Vrat in Hindi

छठ पूजा क्यों मनाया जाता है (surya shashti vrat katha in hindi): प्राचीनकाल में बिन्दुसर तीर्थ में महिपाल नाम का एक वणिक रहता था. वह धर्म कर्म तथा देवता विरोधी था. सूर्य भगवान की प्रतिमा के सामने होकर मल मूत्र त्याग किया. जिसके परिणाम स्वरूप उसकी दोनों आँखे चली गई.

एक दिन अपने आततायी जीवन से उब कर गंगा जी में कूदकर प्राण देने का निश्चय कट चक पड़ा. रास्ते में उसे ऋषिराज नारदजी मिले और पूछा-कहिये सेठ जी, कहाँ जल्दी जल्दी भागे जा रहे हो?

अँधा सेठ हो पड़ा और सांसारिक सुख दुःख की प्रताड़ना से प्रताड़ित होकर प्राण त्यागने का इरादा बताया.

मुनि दया से गदगद होकर बोले- हे अज्ञानी, तू प्राण त्याग कर मत मर. भगवान सूर्य के क्रोध से तुम्हे यह दुःख भुगतना पड़ रहा हैं. तू कार्तिक माह की सूर्य षष्ठी का व्रत रख तेरा दुःख दरिद्र मिट जाएगा. वणिक ने वैसा ही किया तथा सुख सम्रद्धि से पूर्ण दिव्य ज्योति वाला हो गया.

Why We Celebrate Surya Shashti की यह छोटी सी कहानी आपकों पसंद आई हो तो प्लीज सोशल मिडिया पर इस लेख को शेयर करे. यदि आपका इस लेख से सम्बन्धित कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट कर जरुर पूछे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *