World’s Biggest Thieves | यह हे दुनिया की सबसे बड़ी 4 चोरियां

World’s Biggest Thieves: चोरी नाम सुनते ही एक बार तो आसपास डर का माहौल सा बन जाता हे. चोरी, लुट, डकैती यह सभी बुरी खबरें आये दिन अख़बारों और न्यूज़ में आती रहती हे. कुछ चोरियां और लुट तो इतनी शातिर तरीके से की जाती हे की एक बार तो पुलिस को भी पकड़ने में पसीने छुट जाते हे. दुनिया में ऐसे कई शातिर चोर हुए हे जिन्होंने चोरी जैसी वारदात को अंजाम दिया हे और उन्हें पकड़ने में पुलिस को भी बड़ी मशक्कत करनी पड़ी थी. आईये जानते हे दुनिया की ऐसी ही बड़ी चोरियों के बारे में.

World’s Biggest Thieves दुनिया की सबसे बड़ी चोरियां

नटवरलाल

नटवरलाल का नाम कौन नहीं जानता. यह इतना शातिर ठग था की इसने राष्ट्रपति राजेन्द्र प्रसाद के साइन को कॉपी करके ताजमहल, संसद भवन, लाला किला और यहाँ तक की राष्ट्रपति भवन भी बेच दिया था. नटवरलाल के बारे में यह बात भी कही जाती हे की नटवरलाल ने समाज का सेवक बन के बड़े बड़े उद्योगपति जैसे टाटा, बिड़ला, अम्बानी से भी लाखों रूपये ऐंठ लिए थे. नटवरलाल को पुलिस ने पकड़ने की बहुत कोशिश की. उसे कई बार पकड़ा भी, लेकिन फिर भी वो पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. उसे आखिरी बार 1996 में देखा गया था और उसके बाद उनकी मौत हो गई और यह शातिर चोर कभी भी पुलिस की पकड़ में नहीं आ पाया.

ATM कांड

2012 में कुछ शातिर लोगों ने ATM मशीन के साथ घपला करके करोड़ों रूपये लुट लिए थे. असल में ATM मशीन में ऐसा सिस्टम होता हे की अगर कोई 42 सेकंड तक पैसे नहीं निकालता हे तो वह पैसे मशीन के अंदर वापिस चले जाते हे और रूपये आपके खाते में वापिस आ जाते हे. यह शातिर चोर यह करते थे की मशीन में जाके कुछ पैसे निकालने का आदेश देते और जब पैसे बाहर आते तो चोर उनमे से कुछ पैसे ही निकालते और बाकि फिर से मशीन के अंदर चले जाते. अब मशीन को यह पता नहीं होता हे की कुछ पैसे ही निकाले गए हे, इस कारण से पुरे पैसे वापिस खाते में आ जाते थे. इस तकनीक का प्रयोग करके पंजाब के शातिर चोरों ने लाखों रूपये निकाल लिए. इसके बाद इन चोरों के गिरोह को पकड़ लिया गया और ATM मशीन की यह सुविधा बंद कर दी गई.

ओपेरा हाउस डकैती

आपने अक्षय कुमार की स्पेशल 26 फिल्म देखी होगी असल में वो सच्ची घटना पर आधारित हे. इस फिल्म में नकली CBI इंस्पेक्टर बनकर ज्वेलरी शॉप को लुटा था. लेकिन असल में इस तरह की चोरी को अंजाम एक आदमी ने ही दिया था. इसमें मोहन सिंह नाम के एक शख्स ने नकली CBI इन्स्पेक्टर बनकर मुंबई के सबसे बड़े ज्वेलरी शॉप ओपेरा हाउस को लुट लिया और जब पुलिस पहुंची तो टीम का लीडर मोहन सिंह गायब था. आज तक मोहन सिंह को कोई नहीं पकड़ पाया.

पंजाब नेशनल डकैती

1987 में लाभ सिंह नाम के आदमी ने पंजाब नेशनल बैंक से 6 करोड़ रूपये लुट लिए थे. लाभ सिंह अपनी टीम को लेकर बैंक गया और सबको बंदी बना दिया और मुख्य दरवाजा बंद कर दिया. इसके बाद पुलिस को कॉल करके कहा की किसी दुसरे बैंक में डकैती हो गई हे और पुलिस सारी फ़ोर्स के साथ वहां चली गई और लाभ सिंह ने चोरी को अंजाम दे दिया.

उम्मीद करता हु की आपको World’s Biggest Thieves लेख पसंद आया होगा. अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर करे और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *