गहरी नींद के लिए अपनाएं ये कारगर तरीके Tips for good sleep in Hindi

गहरी नींद के लिए अपनाएं ये कारगर तरीके Tips for good sleep in Hindi: गहरी नींद हमारे शारीरिक जीवन चक्र का एक अनिवार्य हिस्सा है. यह बहुत महत्वपूर्ण है. कई बार आप पर्याप्त मात्रा में नींद लेते है लेकिन कभी-कभी हमारा मस्तिष्क सोते समय काम करना बंद नहीं करता है क्योंकि हम सपने देखते है. हमें एक अच्छी नींद लेने के लिए कुछ उपाय अपनाना चाहिए ताकि हम अगले दिन ताजा महसूस कर सके.

अच्छी नींद के लिए उपाय Tips for good sleep in Hindi

गहरी नींद के लिए अपनाएं ये कारगर तरीके Tips for good sleep in Hindi

आज मानव जाति पर एक गहरी बीमारी छाई हुई है। ये बीमारी जानलेवा नहीं है। पर व्यक्ति को परेशान का देती है। इस बीमारी का नाम अनिद्रा बीमारी है। ये बूढ़े से लेकर बच्चो तक सभी को अपना शिकार बनाती है।

आज हमारे देश की 25 प्रतिशत आबादी को अनिद्रा की इस बीमारी का सामना करना पड़ रहा है। यानि स्वस्थ लोगो को छोड़कर सभी को अनिद्रा की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। कई लोग इस समस्या को दूर करने के लिए दवाइयो का सहारा लेते है।

हर रोज दवाइयो से हमारा शरीर कमजोर होता है। इसलिए हमे किसी घरेलू तरीके से इस समस्या का समाधान करना होगा। जिससे हमेशा-हमेशा के लिए इससे पीछा छुड़ाया जा सकें।

एक समस्या के अनेक कारण होते है। और उन कारणो मे ही उसका उपाय भी होता है। अनिद्रा एक ऐसी समस्या है। जो हमे मानसिक कष्ट पहुंचाती है। अनिद्रा से व्यक्ति के सामाजिक स्वभाव पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

अनिद्रा के कारण

  • मानसिक असंतुष्टि के कारण अनिद्रा की समस्या का सामना करना पड़ता है.
  • कई बार लोग दिन के समय में सो जाते है. जिस कारण रात को नींद नहीं आती है.
  • हमारा मन भटकता रहता है. जिस कारण हम नींद नहीं ले पाते है. इसलिए अपने मन को नियंत्रण में करने से अच्छी नींद की प्राप्ति होती है.
  • कई बार कुछ बाते याद रह जाती है, जिस कारण नींद नहीं आती है. इसलिए हमें इन बातो को नजरअंदाज कर देना चाहिए.
  • हृदय तथा श्वसन रोग के कारण निद्रा में समस्या उत्पन्न हो सकती है.
  • कई बार अत्यधिक भोजन या अनावश्यक तत्वों का सेवन अनिद्रा का कारण बनता है.
  • खुद या किसी परिवारजन के स्वास्थ्य से लेकर परेशानी के कारण अनिद्रा की समस्या सामने आती है.
  • आर्थिक कमी के कारण
  • किसी घटना का बार बार सामने आना
  • कोई अविश्वसनीय घटना का घटित हो जाना
  • बार बार मोबाइल का प्रयोग करना आदि अनिद्रा के प्रमुख कारण है.

अनिद्रा से होने वाले रोग

अनिद्रा एक समस्या ही नहीं एक रोगकारक है. अनिद्रा से अनेक रोगों की उत्पति होती है. जिसमे प्रमुख निम्नलिखित है-

  • रक्तचाप का अनियंत्रित होना.
  • अस्थमा रोग का होना.
  • थायरॉयड का होना.
  • अत्यधिक दवाइयों के सेवन से मानसिक पीड़ा.
  • मानसिक रोगों का होना.

अनिद्रा के लक्षण

  • किसी कार्य को लेकर चिंतित रहना.
  • रात को नींद का न आना.
  • हर समय थकान महसूस होना.
  • मानसिक संतुलन का बिगड़ना.
  • थोड़ी-थोड़ी नींद का आना तथा जाग जाना.
  • यादाश्त कमजोर होना.
  • चिड़चिड़ापन होना.

अनिद्रा का इलाज क्या है ? (What are The Treatments for Insomnia in Hindi.)

  • रात के सोने के समय में बदलाव करें. तथा बिस्तर का बदलाव करें.
  • खुद को शांत स्थिति में सुलाए मन को शांत करने का प्रयास करें.
  • सोते समय दूध का सेवन करें.
  • डॉक्टर की सलाह लें.
  • खुद को चिंतामुक्त बनाए.
  • लम्बे समय से अनिद्रा की समस्या होने पर डॉक्टर से दवाइया लें.
  • दिन के समय में नींद न लें.
  • शांत कमरे में सोए तथा लाइट को बंद करके सोए.
  • मोबाइल को खुद से दूर रखे.
  • सोने के बिस्तर का प्रयोग केवल नींद के लिए ही करें.

अनिद्रा से बचाव कैसे करे ? (How to Prevention Insomnia in Hindi.)

  • सोने का एक निशिचत समय निर्धारित करें.
  • जब नींद आए तभी सोए बिना निद्रा न सोए.
  • एक साफ़ तथा अंधरे कमरे में सोए.
  • सोने से पूर्ण दूध का सेवन जरुर करें. जिससे शांति से नींद आएगी.
  • अत्यधिक भोजन न करें. तथा सोने से 2 घंटे पूर्व भोजन करें.
  • रात को धूम्रपान न करें.
  • शौरगुल की स्थिति में नहीं सोना चाहिए.
  • अत्यधिक दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए.
  • जहा तक संभव हो अपने कार्यो को पूरा कर लेना चाहिए.

अच्छी नींद के उपाय टिप्स तरीका Sleeping tips in Hindi

सोने से पहले कॉफी कभी ना पिए – कैफीन एक ऐसा तत्व है जिसकी वजह से नींद दूर भागती है. इसलिए कभी भी सोने से पहले कोई ऐसा पदार्थ ना ले जिसमें कैफीन हो. सोने से करीबन 8 घंटे पहले कैफीन युक्त पदार्थ ना ले.

  • खाने में प्रोटीन ज्यादा ले – गहरी नींद लेने के लिए खाने की पाचन क्रिया सामान्य होना बेहद जरूरी है यदि आप प्रोटीन युक्त भोजन लेते हैं. प्रोटीन सबसे जल्दी पचता है. सोने से पहले करीबन 3 या 4 घंटे पहले प्रोटीन युक्त भोजन लेने से गहरी नींद आती है.
  • नींद न आना गंदा बेडरूम हो सकती है वजह-अच्छी और गहरी नींद का हमारे स्वास्थ्य के साथ गहरा सम्बन्ध होता है। अगर आपके सोने का कमरा स्वच्छ होगा तो मन शांत रहेगा और नींद आसानी से आएगी। मानसिक शान्ति तथा शुकून के लिए अपने सोने के कमरे में हल्का मुजिक भी चला सकते है. साथ ही यदि हम अपने बेडरूम और बिस्तरो की रोजाना अच्छी सफाई अवश्य करे.
  • आर्टिफीसियल प्रकाश का उपयोग ना करें – सूरज डूबने के बाद आर्टिफिशियल लाइट का उपयोग ना करें. इसकी वजह से आपके शरीर की बायोलॉजिकल क्लॉक गड़बड़ हो जाती है. यानी इलेक्ट्रॉनिक सामानों जैसे TV और फोन से निकलने वाली लाइट्स से बचे.
  • प्रतिदिन थोड़ी बहुत एक्ससाइज करे – दिन में एक बार कोई ऐसा काम करो जिसमें आपके पूरे शरीर के अंग उपयोग में आ जाए. चाहे वह कोई खेल हो या फिर घरेलू काम. इससे आपका पूरा शरीर थक जाता है और रात दो गहरी नींद आती है.
  • सोते समय फोन बंद कर दूर रखें – फोन से निकलने वाली किरणें आपकी नींद में खलल का काम करती हैं. इसलिए सोते समय फोन को स्विच ऑफ कर अपने आप से दूर रखें. जबकी लोग अक्सर अपने सर के पास फोन कर रख कर सोते हैं जो आपके लिए बेहद खतरनाक है.
  • गहरी नीद में योग है मददगार-स्वास्थ्य की कुंजी ही योग को माना जाता है मगर क्या आप जानते है तन्दूर्स्ती और अच्छी नीद में भी योग फायदेमंद साबित होता है. अनिद्रा की समस्या का प्रमानेट समाधान चाहते है तो अपनी दिनचर्या में योग को अहम जगह दे जिससे नीद तथा इससे सम्बन्धित अन्य प्रकार की समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है.

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तो गहरी नींद के लिए अपनाएं ये कारगर तरीके Tips for good sleep in Hindi का यह लेख आपको पसंद आया होगा. यदि आपको अच्छी नींद के बारे में दिए टिप्स पसंद आए हो तो अपने फ्रेड्स के साथ जरुर शेयर करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published.