पेड़ पर कविता Poem on Tree in Hindi

प्रिय पाठकों पेड़ पर कविता Poem on Tree in Hindi लेख शीर्षक में आज आपके लिए कुछ छोटी पक्तियों में हिंदी की कविता प्रस्तुत की जा रही हैं. इस कविता प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग की समस्या के निवारण के लिए पयार्वरण संरक्षण की पहल जरुरी हैं. आज के समय में वृक्षारोपण की महती आवश्यकता हैं. वृक्षों के बारे (about trees in hindi) में हमारे धार्मिक ग्रंथो में इन्हे पूजनीय माना गया हैं.

पेड़ पर कविता Poem on Tree in Hindi

पेड़ पर कविता Poem on Tree in Hindi

यहाँ हिंदी में लिखी गई पेड़ की कविताएँ अरुणा गुप्ता की मौलिक कविताएँ हैं. अरुणा Hihindi के पाठकों के लिए नियमित रूप से पोइट्री पर लिखती हैं. उम्मीद करते है आपको उनकी ये रचनाएं पसंद आएगी.

पेड़ से ही हमारे मेज़, कुर्सी, बिस्तर, दरवाजे, खिड़की को बनाया जाता है। हमारे जीवन की जरुरत बन चुके हैं पेड़। इनकी लकड़ी, पत्ते, जड़ें सब हमारे जीवन की जरुरत बन चुका है। पेड़ से हमें बहुत कुछ मिलता है जैसे ये दवा में काम आते हैं, हम फल देते हैं और बहुत किस्म के फूल भी देते हैं। जिनसे परफ्यूम बनते हैं। इस प्रकार आर्थिक विकास में सहायक हैं।

पेड़ बारिश के पानी को ले लेते हैं और उन्हें धरती में धारण करते हैं। यह साफ पानी को नालों में बर्बाद होने से रोकता है। बारिश और बाढ़ के दौरान मिट्टी को धुलने से बचाती है और इस प्रकार भूस्खलन और मिट्टी के कटाव को रोकती है।

धरती के श्रृंगार हैं पेड़ कविता

धरती के श्रृंगार हैं पेड़,
जीवन के आधार हैं पेड़ |

पेड़ हमे छाया देते हैं
स्वय शीत गर्मी सहते हैं
बिना मुकुट के राजा हैं ये
कितने मनमोहक लगते हैं |

जंगल के परिवार पेड़ हैं,
पंछी के घर बार पेड़ हैं |

जहाँ पेड़ हैं, शीतलता हैं
शीतलता से मेघ बरसते,
सूखी धरती हरियाती हैं
ताल-तलैया सारे भरते |

धरती के उपहार पेड़ हैं,
खुशहाली के द्वार पेड़ हैं |

स्वस्थ बनाते,श्रम हर लेते
हमे फूल, फल मेवे देते,
करते हैं सम्पन्न सभी को
पर न किसी से कुछ भी लेते |

करते नित उपकार पेड़ हैं,
सेवा के अवतार पेड़ हैं |

Ped Hai Jivan Mein Upyogi – पेड़ पर कविताएं

पेड हैं जीवन मे उपयोगी
धरती क़ी सुरक्षा इन्ही से होगीं
पेड ही पंछियो का घर हैं
इसी पर मानवज़ाति निर्भंर हैं
पेड हैं तो हैं पीनें का पानी
इसी से आयेगी वर्षां रानी
पेड कटनें से कहीं सूखा आयेगा
कहीं बाढ का पानीं ना रुक़ पायेगा
पेडो से होगी छाया और नमीं
फल और फ़ूल की ना होगीं कमी

Mein Bhi Ped Lagaaunga Poems

घर पर ज़ल्दी जाना हैं
मम्मी को ब़ताना हैं
पेड बहुत ही प्यारें हैं
हमे भी पेड लगाना हैं

पापा क़ाम से आयेगे
हम बाग मे घुमने जायेगे
टीचर की ब़ात बताऊगा
मै भी पेड़ लगाऊगा

बडा भैंया ख़ेलने जायेगा
धुप नही सह पायेगा
छॉव मे उन्हे बुलाऊगा
उनसें भी पेड लगवाउगा

ज़ब मुन्नी झ़ूला झ़ूलेगी
पेड से आसमा छू लेगीं
उसे पेड की बात बताऊगा
मुन्नीं से पेड़ लगवाऊगा

ज़ब दोस्त हम ख़ेलने जायेगे
नये पेड दोस्त हम बनायेगे
सब को पेड के गुण बतायेगे
हम सब़ से पेड लगवायेगे

पेड़ Poem On Save Trees In Hindi

हर मानव का पता है,
पेड़ के बिना रहना एक सजा है,
सब जानते हैं और जानते हैं,
ये फल, फूल और दवा देने का आधार है,
संतजनो का कहना है,
धरती माता का पेड़ के बिना रहना निराधार है,
पेड़ ही इसकी सुंदरता को बढ़ते हैं,
और ये ही हैं जो हर जगह हरियाली फेलाते हैं,
पेड़ को ना काटो, ये धरती की जान है,
हमारे लिए ही नहीं बल्कि

ये सबके जीवन के लिए भगवान का वरदान है,
नदियों के पानी को निर्मल ये बनाते हैं,
प्रदूषित हवा शुद्ध ये करते हैं,
पेड़ लगाओ, हरियाली लाओ,
इस धरती को स्वर्ग बनाओ।
इसके होने से पक्षियों को मिला घर संसार है,
शाकाहारी जानवर को देता ये आहार है,
पेड़ लगाओ,
धरती को स्वर्ग बनाओ।

जब किसी पौधे या पेड़ का बीज उगता है तो वह अपने आस-पास के क्षेत्र को हरा-भरा बना देता है। साथ ही, यह कई जीवन रूपों का समर्थन करता है। पक्षी अपना घोंसला बनाते हैं, कई सरीसृप और जानवर उस पर या उसके पास रहते हैं।

इसके अलावा, ये सभी कई सुंदर फूल, उस पर उगने वाले भोजन। इसके अलावा, पेड़ों के कई हिस्से जैसे जड़, पत्ते, तना, फूल, बीज भी खाने योग्य होते हैं।

पेड़ कविता Best Poem On Save Trees In Hindi

धरती रोती है तब
काट देते हैं हम पेड़ को जब,
यह धरती की पुकार है,
पेड़ धरती पर उपहार है,
कोई भी हो दुनिया में सब इन पर निर्भर हैं,
चिड़ियां हो या कोई और जानवर सब के घर इनसे बनते हैं,
अपने फूल फल से ये सबका पेट भरते हैं,
छोटे छोटे कीड़े इसमे रहकर अपना जीवन यापन करते हैं,
आओ मिलकर शपथ लें,कभी ना इनको कटने देंगे
पेड़ लगा कर हम, धरती को हरा कर देंगे,
धरती पर हरियाली हो,
सुखी जीवन की खुशहाली हो,
पेड़ धरती की शान है, हमारा ये अभिमान है,
इनके होने से ही हमारे, जीवन में मुस्कान है,
सबसे सच्चे मित्र हैं ये सबके,
कभी न साथ हमारा छोड़ेंगे,
अपनी शीतल छाया से हमारे मन को खुशी से भर देंगे,
एक गरीब के घर का चूल्हा जलता है इनके दम से,
चाहे पत्ते हो या लकड़ी सब काम आती हैं हमारे जीवन में,
जब कभी हम उदास होते हैं,
तब इनसे कभी ना हारने की सीख लेते हैं,
हर पल को कैसी खुशी से है जीना,
ये हमको सिखलाते हैं,
औरों के लिए जीने का ये हमको पाठ पढ़ाते हैं,
पेड़ों को पानी दो,
जीवन की यह निशानी दो,

हमारे जीवन में पेड़ों का बहुत महत्व है, और यह पर्यावरण के लिए निर्बाध सेवा प्रदान करता है। हम कह सकते हैं कि पेड़ पृथ्वी पर हर जीव के लिए बहुत महत्वपूर्ण और फायदेमंद हैं। उनके बिना, पृथ्वी पर जीवन का अस्तित्व मुश्किल हो जाएगा और कुछ समय बाद ग्रह पर ऑक्सीजन की कमी के कारण हर प्रजाति मरने लगती है।

पेड़ के महत्व पर कविता Short Poem On Trees In Hindi

बर्फ ही बर्फ है चरों तरफ,
फिर भी एक चीड़ का पेड़ खड़ा है- अकेला उत्तर में ,
ठंडा लग रहा है पैरों में,
फिर भी एक चीड़ का पेड़ खड़ा है- बंजर ऊंचाई पर नींद में,
सफेद चादर यानि, बर्फ से ये लिपट जाएगा,
कितना शांत है ये एक चीड़ का पेड़ , सहंशील होने का पाठ पढाएगा,
फिर नई सूरज की किरण से ये जग जाएगा,
हमें अपनी पत्तियां से भरे हाथों से बुलाएगा,
धरती पर अपनी हरियाली से
हमारा जीवन महकाएगा,

जिंदगी में हर दुख को कैसे बरदाश करते हैं,
ये एक चीड़ का पेड़, हम को सिखलायेगा,
ये अकेला खड़ा रहकर भी नई सुबह का इंतजार करता है,
बिना किसी के साथ के भी ये ,
अपने जीवन को खुशी से महकता है,
जरुरी नहीं है की हमारे साथ कोई हो , तब भी हम खुश रहते हैं,
ये जरुरी है की कैसे , हम औरों के काम आते हैं,
हमें अपने जीवन को समर्पण करना सिखाता है,
ये एक चीड़ का पेड़, अपने में खुशी से कैसे जीना है ये सिखलाता है,
इनको ना काटो, ये हमारी धरोहर हैं,
इनके रहने से ही हमारे जीवन पर इनकी मोहर है,

पेड़ / वृक्ष Vriksh Par Kavita

धरती का उपकार मनाओ,
पेड़ के रूप में जो दिया उसने हमको ये उपहार है,
जीवन हमारा कब का खतम हो जाता,
ये तो बस पेड़ का हम पर एक उपकार है,
फूल, फल, लकड़ी और ऑक्सीजन हमें देते हैं,
बदले में हम से कुछ ना लेते हैं,
इनसे बनती है दवा, जो करती हमारे शरीर को बलवान है,
हमारी सेहत को ठीक रखने के लिए, ये हमारे लिए वरदान,

जब ये होते हैं तो हवा भी शुद्ध लगती है,
इनके ना होने पर तो सांसे घुटने लगती हैं,
बारिश हो या तूफ़ान आए न कभी किसी से डरते हैं,
हमारे लिए सदेव अपना सारा जीवन अर्पण करते हैं,
गरमी हो या सर्दी सब को सेहन ये करते हैं,
कभी किसी से ये कोई शिकायत न करते हैं,
फिर भी इतना करने के बाद भी हम इन्हें को क्यों काट देते हैं,
थोड़ा सा तो सोचे ये हमारी हर मुसिबत को अपने ऊपर ले लेते हैं,
आओ इनका सत्कार करो,
कभी ना काटोगे इनको इस बात पर विचार करो,

पेड़ Hindi Poems On Trees By Famous Poets

तरुवर, वृक्ष, पेड़ नाम हैं इनके,
फूल, फल, दवाएं मिलते हैं जिनसे,
दुषित हवा को ये शुद्ध करते हैं,
उर्वर मिट्टी को धरती से बांध कर रखते हैं,
चारो और हरियाली बनाते हैं,

इस धरती का सुंदर रूप दिखाते हैं,
मीठे मीठे फल ये देते , सबकी भूख मिटाते हैं,
सुंदर फूल से जीवन को महकाते हैं,
दवा दे कर हमारे शरीर को निरोगी बनाते हैं,
पंछी, जानवर हो या कोई मानव,
अमीर गरीब हो कोई भी सबको छाया प्रदान करते है,
बिना वेद भाव के सबको ऑक्सीजन देकर सबका ध्यान ये रखते हैं,
चिड़ियों का रैन बसेरा,जानवर और मानव के हैं ये आहार,
ना काटो इन पेड़ों को वर्ना हो जाएगा हमारे जीवन में अंधकार,

पेड़ों का त्याग Tree Par Kavita

पेड़ों का हमारे जीवन में होना एक सीख है,
यह समर्पण का प्रतीक हैं,

इनका पूरा जीवन दूसरों के लिए समर्पित है,
इसीलिए तो इनका अमूल्य जीवन हम पर अर्पित है,

पेड़ हमारे जीवन के लिए मूल्यवान हैं,
यह हमारे जीवन को बढ़ाने के लिए वरदान हैं,

यह पिता की तरह दृढ़ता हमें सिखाते हैं,
यह माता की तरह सहनशीलता का पाठ पढ़ाते हैं,

इनसे अमीरों के साज सामान बनते हैं,
इन्हीं के होने से गरीबों के चूल्हे जलते हैं,

इन पर पंछियों का घर संसार है,
यह हैं तभी तो मिलता हमें आहार है,

इस कोरोना काल में ऑक्सीज़न देकर किया इन्होंने हम पर बहुत उपकार है, इसीलिए तो आज सभी की तरफ से इन्हें इस अरुणा गुप्ता का इनको दिल से नमस्कार है,

आओ ले यह शपथ न काटेगें पेड़ों को,न कटने देंगे,
इनके इस निस्वार्थ प्रेम को सदैव आगे बढ़ने देंगे,

लेखिका- Aruna Gupta

वृक्षारोपण का आज के समय में बड़ा महत्व हैं. ये आज का नन्हा पौधा ही कल का एक बड़ा पेड़ होगा, जो हर किसी को ठंडी छाव और ऑक्सीजन देता हैं. पर्यावरण प्रदूषण की रोकथाम में पेड़ ही तो मददगार होते हैं.

वातावरण में कार्बनडाईऑक्साईड की मात्रा को संतुलित कर हमे ये स्वच्छ वायु भेट करते हैं, पेड़ो के हम पर बहुत बड़े उपकार हैं इसी लिए कहा गया हैं. पेड़ ही जीवन हैं. आज से हमे सकल्प करना चाहिए, हम किसी हरे भरे वृक्ष को नही काटेगे और साल में एक बार वृक्षारोपण अवश्य करेगे.

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है फ्रेड्स आपको “पेड़ पर कविता Poem on Tree in Hindi” का यह आर्टिकल पसंद आया होगा. आपको यहाँ दी पेड़ों पर कविताएँ कैसी लगी कमेंट कर अपनी राय जरुर दे.

Leave a Comment

Your email address will not be published.