महात्मा गांधी पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Mahatma Gandhi in Hindi

नमस्कार आप 10 Lines on Mahatma Gandhi in Hindi खोज रहे है या आप महात्मा गांधी पर दस पंक्तियाँ लाइन हिंदी व English में अपने बच्चों को लिखवाना चाहते हैं. तो यह लेख आपके लिए हैं. यहाँ सरल भाषा में छोटी छोटी पंक्तियाँ हिंदी व अंग्रेजी भाषा में दी गई हैं.

महात्मा गांधी पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Mahatma Gandhi in Hindi

महात्मा गांधी पर दस पंक्तियाँ 10 Lines on Mahatma Gandhi in Hindi

प्रिय छात्र छात्राओं क्या आप हिंदी में राष्ट्रपिता बापू महात्मा गांधी जी (Mahatma Gandhi) पर सरल व सुंदर 10 Lines का छोटा एस्से पढ़ना चाहते हो. यदि हाँ तो यह आर्टिकल आपके लिए ही हैं. यहाँ आपकों हिंदी और अंग्रेजी भाषा में महात्मा गांधी पर कुछ पंक्तियाँ कक्षा 1, 2, 3, 4, 5 std के बच्चों के लिए दी गई हैं. उम्मीद करते है आपकों ये बहुत पसंद भी आएगी.

Mahatma Gandhi 10 Lines in Hindi

1. मोहनदास कर्मचन्द गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात राज्य के एक छोटे से शहर पोरबंदर में हुआ था.


2. इनके पिता का नाम करमचंद गांधी और माता का नाम पुतलीबाई था. गांधीजी के पिता पोरबंदर, राजकोट तथा बांकानेर रियासत के दीवान थे.


3. महात्मा गांधी की प्राथमिक शिक्षा राजकोट में हुई तथा 1881 में इनका विवाह कस्तूरबा के साथ हुआ.


4. 1884-85 के समय महात्मा गांधी ने कुसंगतिवश चोरी छिपे माँस का भक्षण भी किया था. मगर इस कृत्य को वे अपने माता-पिता से छिपा नही सके, तथा क्षमायाचना के साथ ही इन्होने जीवन में असत्य को त्याग कर सत्य का मार्ग अपनाने का दृढ संकल्प किया.


5. 7 वर्ष की आयु में इन्होने स्कुल जाना शुरू किया, 1888 में हाई स्कूल की पढाई पूरी की, आगे की पढ़ाई के लिए भावनगर गये मगर मन न लगने से वापिस लौट आए एवं मावजी द्वे ने इन्हें इंग्लैंड जाकर पढाई का सुझाव दिया.


6. गांधीजी ने एक जेंटलमैन बनने के प्रयास भी किये, इस बाबत इन्होने डांस, फ़्रांसिसी भाषा व स्पीच कला में महारत के प्रयास भी किये जो व्यर्थ रहे.


7. धार्मिक पुस्तके गीता व बाइबिल पढ़ने के बाद गांधी ने कहा था, कि उनके मन की नास्तिकता रुपी रेगिस्तान की दीवार ढह गई है.


8. गांधीजी जब 24 वर्ष के थे, दक्षिण अफ्रीका में एक दीवानी मुकदमें के कारण गये, और 1893 से 1914 लगभग 21 वर्षों तक वही रहे, इस दौरान बिच बिच में भारत भी आते थे.


9. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने इन्हें 22 मई 1894 को सचिव पद पर भी मनोनीत किया, मगर 6 महीने यहाँ रुकने के बाद अपनी पत्नी व 2 बच्चों सहित फिर से साउथ अफ्रीका चले गये.


10. प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान गांधीजी ने अंग्रेजों का समर्थन इसलिए किया, कि वे युद्ध समाप्ति के बाद भारत को स्वतंत्र कर देगे.

10 Lines on Mahatma Gandhi in English

1. Mahatma Gandhi ji was born on 2nd October 1869 in Porbandar, Gujarat.


2. his full name was Mohandas Karamchand Gandhi.


3. his father’s name was Karamchand and his mother’s name was putibai.


4. Gandhiji is also known as Bapu and the father of the nation.


5. he was a great follower of peace and non-violence.


6. he started many important movements like the civil rights movement, dandi march, quit India movement, etc.


7. his birthday is celebrated every year as Gandhi Jayanti.


8. Mahatma Gandhi believed in simple living and high thinking.


9. this great leader of our country died on 30th January 1948.


10. Gandhiji life is an inspiration for all of us.

I hope guys. You must have liked this short article of a few lines in Hindi About the Mahatma Gandhi and 10 lines On the Mahatma Gandhi in English. Here you have brought a short essay on the Mahatma Gandhi in Hindi, which will provide you information about Bapu in fewer words.

महात्मा गांधी पर छोटा निबंध

सीधा साधा वेश था, ना कोइ अभिमान
खादी की एक धोती पहने बापू की थी शान

महात्मा गांधी हमारे भारत देश के महान नेता थे. उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबन्दर गाँव में हुआ था. गांधीजी का पूरा नाम मोहनदास कर्मचन्द गांधी था. उनके पिता राजकोट में दीवान थे. माता पुतलीबाई ने उन्हें बचपन में ही सत्य और अहिंसा की शिक्षा दी थी.

उनकी पत्नी का नाम कस्तूरबा था कस्तूरबा ने हे हाल में गांधी जी का पूरा साथ दिया. महात्मा गांधी जी इंग्लैंड जाकर बैरिस्टर हुए. उन्होंने अफ्रीका में वकालत की. उस समय भारत पर अंग्रेजों का शासन था. गांधीजी ने अंग्रेजों के खिलाफ देश को स्वतंत्र करने के लिए आंदोलन शुरू किये.

आखिर में 15 अगस्त 1947 को भारत देश को आजादी मिली. गांधीजी ने पूरे विश्व में सत्य और अहिंसा का पाठ पठाया. उन्होंने देशवासियों को सत्य अहिंसा के साथ सूतकताई, स्वदेशी वस्तुओं का प्रशिक्षण दिया. लोग इन्हें प्यार से बापू कहते थे.

गांधी को महात्मा, राष्ट्रपिता भी कहा जाता हैं. उनका रहन सहन साधा और विचार उच्च थे. दुनियाभर में गांधीजी का जन्म दिन अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता हैं. गांधीजी के विचार हम सभी के लिए सदा आदर्श हैं.

यह भी पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *