एबी डी विलियर्स का जीवन परिचय। | AB De Villiers Biography in Hindi

एबी डी विलियर्स का जीवन परिचय। | AB De Villiers Biography in Hindi अगर आप एक क्रिकेट प्रेमी हैं तो आपने क्रिकेट जगत के एक महान क्रिकेटर एबी डिविलियर्स का नाम जरूर सुना होगा। जो कि  दाएं हाथ के धुंआधार दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज है। हालांकि अब ए बी डिविलियर्स इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन अभी भी एबी डी विलियर्स IPL जैसे अनेक प्लेटफॉर्म पर क्रिकेट खेलते नजर आते हैं।

एबी डी विलियर्स का जीवन परिचय। | AB De Villiers Biography in Hindi

एबी डी विलियर्स का जीवन परिचय AB De Villiers Biography in Hindi
नामअब्राहम बेंजामिन डी विलियर्स
माता का नाम
पिता का नाम
जन्मदिन17 फरवरी 1984
जन्म स्थानदक्षिण अफ्रीका
आयु37 वर्ष
शिक्षा
धर्म
राष्ट्रीयताअफ्रीकी
पेशाक्रिकेटर

अगर आप क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं या फिर आप क्रिकेट के बारे में जानकारी रखना पसंद करते हैं तो यहां आपको Ab devillers से संबंधित वह सभी जानकारियां मिलेगी जो उनके फैंस के लिए जानना बेहद आवश्यक है।

एबी डी विलियर्स का परिचय 

एबी डिविलियर्स का जन्म 17 फरवरी 1984 को दक्षिण अफ्रीका में हुआ था। इनका पूरा नाम अब्राहम बेंजामिन डी विलियर्स है लेकिन लोग इन्हें AB डिविलियर्स के नाम से जानते हैं।

एबी डी दक्षिण अफ्रीका की राष्ट्रीय टीम से खेल चुके हैं। एबी डी विलियर्स दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान और एक पूर्व खिलाड़ी है। वर्तमान में वह  इंटरनेशनल क्रिकेट से तो सन्यास ले चुके हैं लेकिन अब भी वह डोमेस्टिक क्रिकेट खेलते हैं। 

डिविलियर्स के नाम क्रिकेट में कई रिकॉर्ड शामिल है। जैसे कि एबी डी विलियर्स ने वनडे में सबसे तेज 50 रन बनाए हैं और साथ ही उनके नाम वनडे में सबसे तेज 100 रन और 150 रन बनाने का रिकॉर्ड भी शामिल हैं।

वर्तमान में एबी डिविलियर्स दक्षिण अफ्रीका की घरेलू टीम टाइटंस के लिए खेलते हैं वहीं वे इंडिया में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में बेंगलूर की टीम की तरफ से खेलते आ रहे हैं। इसके अलावा एबी डिविलियर्स पाकिस्तान में खेले गए पाकिस्तानी लीग में भी लाहौर कलंदर्स के लिए खेलते हैं। 

एबी डी विलियर्स का प्रारंभिक जीवन 

एबी डिविलियर्स ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में की। एबी डिविलियर्स ने कई मैचों में विकेटकीपर बल्लेबाज का रोल निभाया लेकिन ज्यादातर मैचों में एबी डिविलियर्स को एक बल्लेबाज के तौर पर टीम में खिलाया गया। 

यही वजह है कि आज एबी डी विलियर्स हमारे बीच अपनी विकेट कीपिंग के लिए नहीं बल्कि अपने बल्लेबाजी के लिए पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। बता दें एबी डी विलियर्स ने अपने साथी खिलाड़ी फाफ डू प्लेसिस के साथ एक ही स्कूल में पढ़ाई की है।

एबी डी विलियर्स क्रिकेट में किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकते हैं लेकिन सामान्यतः वह मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने के लिए सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है और उनका टैलेंट भी उसी समय निखरकर आता है जब उनकी टीम दबाव में रहती है और टीम को उनसे बेहतरीन प्रदर्शन की जरूरत होती है। 

एबी डिविलियर्स क्रिकेट में कुछ रचनात्मक शॉट खेलने के लिए जाने जाते हैं जैसे कि एबी डिविलियर्स ने विकेटकीपर के पीछे और स्लिप में कई रचनात्मक शॉट खेलकर अपनी टीम को विजेता बनाया हैं।

जब भी एबी डिविलियर्स को लगता कि सामने की तरफ शॉट खेलना उनके लिए थोड़ा सा मुश्किल है तो वह थर्ड Men की दिशा में या फिर विकेटकीपर के ऊपर से या फिर स्लिप के ऊपर से चौके और छक्के मारकर टीम के स्कोर को आगे बढ़ाते रहते। 

विलियर्स दक्षिण अफ्रीकी टीम के तीनों फॉर्मेट के कप्तान भी रह चुके हैं और साथ में उन्होंने अपने पारी के बदौलत कई बार दक्षिण अफ्रीका की टीम को विजई भी बनाया है। 

एबी डिविलियर्स का क्रिकेट करियर 

अगर हम बात करें ए बी डिविलियर्स के क्रिकेट करियर के बारे में, तो उन्होंने अपने क्रिकेट करियर का आगाज सन 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ हुए एक टेस्ट मैच में की थी।

उस टेस्ट मैच में एबी डिविलियर्स ने शानदार तरीके से बल्लेबाजी की लेकिन वह ज्यादा रन नहीं बना पाए लेकिन फिर भी उन्होंने अपनी प्रतिभा से सभी का दिल जीत लिया।

2005 के शुरुआती वर्ष में उन्हें दक्षिण अफ्रीका की टीम से वनडे मैच भी खेलने के लिए चुना गया। अगर 20 20 की बात करें तो 2006 में ही एबी डिविलियर्स को t20 क्रिकेट में पदार्पण करने का मौका मिला। 2016 तक ए बी डिविलियर्स वनडे और टेस्ट क्रिकेट मिलाकर 8000 से ज्यादा रन बना चुके थे। 

इस दौरान इनके नाम एक और रिकॉर्ड भी अर्जित हो गया। एबी डी विलियर्स के नाम यह रिकॉर्ड है कि उन्होंने वनडे क्रिकेट में 5000 से अधिक रन बनाए हैं और वह रन उन्होंने 50 प्लस के औसत और 100 से ज्यादा स्ट्राइक रेट के साथ बनाए हैं। 

एबी डिविलियर्स ने साउथ अफ्रीका की तरफ से टेस्ट मैच में 8000 से ज्यादा रन बनाए हैं जिसमें उन्होंने 22 शतक जड़े हैं। यही नहीं एबी डी विलियर्स ने एक मैच में 278 रन बनाए थे जो कि हाशिम अमला के बाद  एक दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज के लिए सबसे ज्यादा है।

2015 तक टेस्ट क्रिकेट में एबी डिविलियर्स ने विकेटकीपिंग की लेकिन 2015 के बाद उन्होंने अपने यह जिम्मेदारी क्विंटन डिकॉक के हाथों में थमा दी। 

बता दें एबी डिविलियर्स न सिर्फ साउथ अफ्रीका की तरफ से खेलते थे बल्कि वह साउथ अफ्रीका की टीम के कप्तान भी रह चुके हैं। एबी डी विलियर्स दक्षिण अफ्रीका के तीनों प्रारूप के कप्तान रह चुके हैं लेकिन चोट के कारण एबी डिविलियर्स ने आगे चलकर टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़ दी लेकिन फिर भी 2017 के बाद वह वनडे और टी20 की कप्तानी जारी रखी।

 2017 में इंग्लैंड की मेजबानी में होने वाली आईसीसी चैंपियन ट्रॉफी में एबी डी विलियर्स की कप्तानी में ही साउथ अफ्रीका ने हिस्सा लिया लेकिन साउथ अफ्रीका की टीम आईसीसी चैंपियन ट्रॉफी जीतने में नाकाम रही और हार के बाहर हो गई।

दक्षिण अफ्रीका के हारने के बाद एबी डिविलियर्स ने टी-20 और वनडे कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। इसके साथ ही 23 मई को एबी डी विलियर्स ने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट से भी संयास ले लिया। 

आज भले ही एबी डी विलियर्स इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन फिर भी एबी डी विलियर्स साउथ अफ्रीका की डोमेस्टिक क्रिकेट खेलते हैं और वह भारत में आईपीएल भी खेलते हैं और इसके साथ-साथ वह पाकिस्तान के एक प्रीमियर लीग में भी खेलते हैं।

उनके फैंस भले ही साउथ अफ्रीका की जर्सी में उन्हें नहीं देख पाते हैं लेकिन वह घरेलू क्रिकेट की जर्सी में उन्हें देखकर उनके खेल का आनंद लेते हैं। ज्यादातर लोग भारत में होने वाले आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की तरफ से एबी डिविलियर्स को देखना पसंद करते हैं। 

एबी डिविलियर्स का व्यक्तिगत जीवन 

एबी डिविलियर्स का जन्म दक्षिण अफ्रीका में हुआ था उनके पिता एक डॉक्टर है और इनके पिता खेलकूद में भी बेहद रुचि रखते है। इनके पिता ने ही एबी डिविलियर्स को क्रिकेट के लिए प्रेरित किया और उन्हीं की वजह से एबी डी विलियर्स आज क्रिकेट के महान खिलाड़ियों में गिने जाते हैं। 

एबी डी विलियर्स थोड़े से शांत स्वभाव के है। एबी के साथी फाफ डू प्लेसिस दोनों एक अच्छे दोस्त थे और एक साथ पढ़ाई किया करते थे दोनों की आदते लगभग सेम थी। आगे चलकर दोनों ने एक साथ साउथ अफ्रीका की टीम से क्रिकेट खेला और साउथ अफ्रीका को एक ऊंचे स्थान पर पहुंचाया। 

एबी डी विलियर्स आईपीएल में खेलते हैं रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के तरफ से –

23 मई 2018 को भले ही एबी डी विलियर्स इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं लेकिन फिर भी वह भारत में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर की तरफ खेलते हैं।

अगर बात करें आईपीएल के सबसे सफल बल्लेबाज के बारे में तो उनमें एबी डिविलियर्स का भी नाम आता है। एबी डी विलियर्स आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के अलावा दिल्ली डेयरडेविल्स के तरफ से भी खेल चुके हैं

लेकिन वर्तमान में वह काफी लंबे समय से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के तरफ से ही खेल रहे हैं। और उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान यह भी कहा है कि वह कुछ और सालों तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर की तरफ से खेलते दिखेंगे। 

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है दोस्तों एबी डी विलियर्स का जीवन परिचय AB De Villiers Biography in Hindi का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा. अगर आपकों इस 360 डिग्री क्रिकेटर की जीवनी के बारे में दी जानकारी पसंद आई हो तो अपने फ्रेड्स के साथ भी शेयर करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *