एफिलिएट मार्केटिंग क्या है कैसे करें, पैसे कमाए | Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye

Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye In Hindi: घर बैठकर ज्यादा पैसे कमाने के लिए काफी लोग परेशान होते हैं और उन्हें तलाश होती है ऐसे तरीके की, जिसे करके वह घर बैठे पैसा कमा सके। आप अगर यही सोच रखते हैं तो आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में विचार कर सकते हैं। दरअसल एफिलिएट मार्केटिंग शब्द आजकल इंटरनेट पर काफी चर्चा में है।

कई लोग इस काम के द्वारा घर बैठे बैठे ही रोजाना 5000 से 10000 की कमाई कर रहे हैं और कई लोगों की कमाई इससे भी अधिक है। इस काम को करने से पहले आपको यह जानने की आवश्यकता होती है कि वास्तव में एफिलिएट मार्केटिंग होती क्या है।

अगर आप इन सभी बातों से अनजान है तो आइए इस पेज पर जानते हैं कि “एफिलिएट मार्केटिंग क्या है” और “एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए” तथा “एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें (affiliate marketing kaise karen)।”

एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए? affiliate marketing kaise kare aur Paise Kaise Kamaye

Contents show
एफिलिएट मार्केटिंग क्या है कैसे करें, पैसे कमाए | Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye

अलग-अलग एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम के द्वारा एफिलिएट मार्केटिंग के अंतर्गत अलग-अलग कमीशन दिया जाता है। कुछ वेबसाइट आपको 20% कमीशन देती है तो कुछ वेबसाइट आपको 60% तक की कमीशन देती है। इसलिए हमेशा बेस्ट कमीशन देने वाली एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम को ही ज्वाइन करें।

एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमाने की आसान प्रक्रिया नीचे हम आपको पॉइंट के हिसाब से समझा रहे हैं ताकि आपको कोई भी असमंजस ना रहे।

1: एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा पैसे कमाने के लिए आपको सबसे पहले यह डिसाइड करना होता है कि आप किस चीज की एफिलिएट मार्केटिंग करना चाहते हैं। जैसे कि इलेक्ट्रॉनिक आइटम की, हेल्थ आइटम की या फिर किसी भी अन्य आइटम अथवा सर्विस की।

Telegram Group Join Now

2: ‌ अब आपको बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करना होता है, जिसकी लिस्ट हमने आर्टिकल में दी हुई है। प्रोग्राम जॉइन करने के लिए आपको अपना नाम, माता पिता का नाम, बैंक अकाउंट डिटेल, फोन नंबर, ईमेल आईडी और अन्य जानकारियों को दर्ज करना होता है।

3: ‌ जब आप एफिलिएट प्रोग्राम जॉइन करने के लिए रिक्वेस्ट करते हैं तो एफिलिएट टीम के द्वारा आपकी रिक्वेस्ट पर ध्यान दिया जाता है और योग्य पाए जाने पर आपकी रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट कर लिया जाता है। इसके पश्चात आप संबंधित एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम को ज्वाइन कर चुके होते हैं।

4: अब आपको संबंधित एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम से किसी भी आइटम का एफिलिएट लिंक कॉपी करना होता है और इसे फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप तथा दूसरे सोशल मीडिया पर शेयर करना होता है।

5: अब किसी भी व्यक्ति के द्वारा आपके द्वारा शेयर किए गए एफिलिएट लिंक पर क्लिक करके संबंधित वेबसाइट से आइटम अथवा सर्विस की खरीदारी की जाती है और उसकी पेमेंट की जाती है तो तकरीबन 15 दिनों के भीतर आपको इस काम के लिए कमीशन प्राप्त होती हैं।

6: अगर आइटम अथवा सर्विस की कीमत ज्यादा है तो आपको ज्यादा कमीशन और कीमत कम है तो थोड़ी कम कमीशन प्राप्त होगी।

इस प्रकार से ऊपर दी गई प्रक्रिया करके आप एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम से पैसा कमा सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है? (affiliate marketing in hindi)

विभिन्न कंपनियों के द्वारा एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम चलाया जाता है, ताकि उन कंपनियों के साथ अधिक से अधिक कस्टमर जुड़े। इसके बदले में कंपनी एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम के तहत ज्वाइन होकर एफिलिएट मार्केटिंग करने वाले व्यक्ति को कमीशन देती है।

दरअसल इस काम के तहत आपको संबंधित एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने के बाद उसकी सर्विस या फिर आइटम के लिंक को सोशल मीडिया पर शेयर करना होता है। इसी लिंक पर क्लिक करके किसी व्यक्ति के द्वारा सर्विस अथवा आइटम लिया जाता है तो आपको निश्चित कमीशन की प्राप्ति होती है। 

इसमें सिंपल फंडा यही है कि जितना महंगा आइटम या फिर सर्विस किसी व्यक्ति के द्वारा आपके एफिलिएट मार्केटिंग लिंक से लिया जाएगा आपको उतना ही ज्यादा कमीशन प्राप्त होगा।

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करती है? (affiliate marketing kaise start kare)

दरअसल एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा सिर्फ आपको ही फायदा नहीं होता है बल्कि कंपनी को भी फायदा होता है। हर कंपनी यह चाहती है कि उसके साथ अधिक से अधिक कस्टमर जुड़े। 

इसलिए वह एफिलिएट प्रोग्राम चलाती है क्योंकि जब आप किसी कंपनी की सर्विस या फिर आइटम को एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा सेल करवाते हैं तो कंपनी की सर्विस या फिर आइटम की बिक्री होती है।

इस प्रकार से कंपनी को भी पेमेंट प्राप्त होती है और उसी में से कुछ मामूली कमीशन कंपनी के द्वारा आपको भी दिया जाता है। इस प्रकार से एफिलिएट मार्केटिंग काम करती है, जिसके तहत कस्टमर को सामान प्राप्त हो जाता है। कंपनी की बिक्री हो जाती है तथा एफिलिएट मार्केटिंग करने वाले व्यक्ति की भी कमाई घर बैठे हो जाती हैं।

भारत में एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करें? (affiliate marketing kya hai)

हमने नीचे आपके साथ एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने की पूरी जानकारी विस्तार से शेयर की हुई है। इस प्रकार से एफिलिएट मार्केटिंग करके पैसे कमाने के लिए सबसे पहले आपको यह पता करना चाहिए कि आखिर एफिलिएट मार्केटिंग की शुरुआत कैसे होती है अथवा एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करें।

1: अपने एफिलिएट का सब्जेक्ट चुने

एफिलिएट मार्केटिंग की शुरुआत करने के लिए सबसे पहले आपको यह निर्णय लेना होता है कि आखिर आप किस चीज की एफिलिएट मार्केटिंग करना चाहते हैं। जैसे कि अगर आप को हेल्थ में इंटरेस्ट है तो आप हेल्थ से संबंधित प्रोडक्ट प्रमोट कर सकते हैं। 

जैसे कि दवाई, मेडिकल साधन इत्यादि। आप इन सभी चीजों की मार्केटिंग कर सकते हैं। वही अगर आपको टेक्नोलॉजी में इंटरेस्ट है तो आप कंप्यूटर, हार्डवेयर, लैपटॉप और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट की एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

2: बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करें

एफिलिएट का सब्जेक्ट सिलेक्ट करने के पश्चात आपको किसी बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने की आवश्यकता होती है। इसके लिए आपको उस एफिलिएट प्रोग्राम की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर के अपना अकाउंट पंजीकृत करना होता है। 

अकाउंट पंजीकृत करने के लिए आपको वेबसाइट पर जाने के बाद एफिलिएट प्रोग्राम वाले लिंक पर क्लिक करना होता है और उसके बाद जो पेज ओपन होता है उसमें आवश्यक जानकारियों को भरकर सबमिट करना होता है।

इसके बाद एफिलिएट टीम के द्वारा आपके एफिलिएट प्रोग्राम के एप्लीकेशन को मान्यता दी जाती है। उसके बाद आप उस एफिलिएट प्रोग्राम के लिंक के द्वारा एफिलिएट मार्केटिंग करना शुरू कर सकते हैं।

3: अब सर्विस अथवा प्रोडक्ट का प्रमोशन करें

अब आपको संबंधित कंपनी के किसी भी आइटम/सर्विस की एफिलिएट लिंक प्राप्त करने की परमिशन मिल जाती है। आपको एफिलिएट लिंक को प्राप्त करने के बाद उसे सोशल मीडिया पर शेयर करना होता है। 

जैसे कि फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम और अन्य सोशल मीडिया। आप चाहे तो ब्लॉग बनाकर. यूट्यूब चैनल के द्वारा, फेसबुक तथा गूगल में एडवर्टाइजमेंट देकर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम (affiliate marketing kya hoti hai)

इंटरनेट पर एफिलिएट प्रोग्राम चलाने वाले कई प्लेटफार्म उपलब्ध है परंतु उनमें से कुछ प्लेटफार्म के द्वारा कम कमीशन तो कुछ प्लेटफार्म के द्वारा अधिक कमीशन दी जाती है और जहां तक हमें पता है कि हर व्यक्ति अधिक पैसे कमाना चाहता है। इसीलिए नीचे हम आपके साथ बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम की लिस्ट शेयर कर रहे हैं, जिनके द्वारा आपको ज्यादा से ज्यादा कमीशन दी जाती है।

  • Amazon 
  • Flipkart
  • Clickbank
  • Hosting Affiliate 
  • Commission Junction
  • SEMrush
  • WordPress Plugin And Theme 
  • Bluehost
  • Godaddy
  • Snapdeal
  • Myntra
  • meesho

इसके अलावा दूसरे एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने के लिए आप गूगल पर जाएं और बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम फॉर बिगेनर सर्च करें। ऐसा करने पर आपको विभिन्न प्रकार के अन्य एफिलिएट प्रोग्राम भी दिखाई देंगे, जिनमें से किसी भी एफिलिएट प्रोग्राम को पसंद आने पर आप ज्वाइन कर सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग से संबंधित कुछ बातें (affiliate marketing hindi meaning)

एफिलिएट मार्केटिंग के अंतर्गत कुछ ऐसे शब्द हैं जिनकी जानकारी सामान्य लोगों को होना आवश्यक है। आइए उन शब्दों की जानकारी प्राप्त करते हैं।

एफिलिएट प्रोग्राम 

एफिलिएट प्रोग्राम का मतलब होता है एक ऐसी जगह जहां पर अलग-अलग प्रकार के आइटम लिस्ट होते हैं और आप यहां से अपनी पसंद के अथवा अपने काम के आइटम को आसानी से सर्च कर सकते है।

 एफिलिएट लिंक 

यह बिल्कुल अलग ही लिंक होता है। इसी लिंक के द्वारा आपको एफिलिएट आइटम को अलग-अलग जगह पर प्रमोट करने की आवश्यकता होती है। यह आपको संबंधित एफिलिएट प्रोग्राम की वेबसाइट से प्राप्त होता है।

हाई टिकट प्रोडक्ट 

जिन सर्विस अथवा आइटम पर 20% अथवा उससे भी ज्यादा की कमीशन प्राप्त होती है उससे हाई टिकट प्रोडक्ट कहा जाता है।

लो टिकट प्रोडक्ट

ऐसे आइटम जिन पर कमीशन 20% या फिर इससे भी कम होता है उसे लो टिकट प्रोडक्ट कहते हैं।

कमीशन

आपके द्वारा एफिलिएट मार्केटिंग के तहत किसी कंपनी की सर्विस या फिर आइटम को बेचा जाता है तो आपको कुछ कमीशन प्राप्त होता है।

यह कमीशन तभी मिलेगा जब आपके एफिलिएट लिंक पर क्लिक करके सामान अथवा सर्विस की खरीदारी की जाएगी। कमीशन की जानकारी आपको संबंधित एफिलिएट प्रोग्राम की आधिकारिक वेबसाइट पर प्राप्त हो जाएगी।

एफिलिएट मैनेजर

एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम वेबसाइट के द्वारा एफिलिएट प्रोग्राम से संबंधित जानकारी देने के लिए एफिलिएट मैनेजर को नौकरी पर रखा जाता है, जो एफिलिएट प्रोग्राम से संबंधित समस्याओं का सामना करने वाले ग्राहकों को उनके सवालों का सही जवाब देते हैं और उनकी समस्या को दूर करने का प्रयास करते हैं।

 पेमेंट मोड 

एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम के द्वारा आप जो पैसे कमाते हैं उसे देने के लिए एफिलिएट प्रोग्राम के द्वारा बैंक ट्रांसफर, चेक, पेपल, वायर ट्रांसफर इत्यादि पेमेंट मेथड का इस्तेमाल किया जाता है इसे ही पेमेंट मोड कहते हैं।

पेमेंट थ्रेसोल्ड 

एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम के द्वारा निश्चित पैसे होने पर ही आपको पेमेंट की जाती है। जब तक आप पैसे निकालने लायक लिमिट तक नहीं पहुंच पाते हैं तब तक आप पैसे निकालने के लिए कुछ नहीं कर सकते हैं।

पैसे निकालने के लिए आपको पेमेंट थ्रेसोल्ड को पूरा करने की आवश्यकता होती है, जो कि हर एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम में अलग-अलग होती है।

एफिलिएट मार्केटिंग में कमीशन

एफिलिएट मार्केटिंग के तहत आपको कितनी कमीशन प्राप्त होगी, यह प्रोडक्ट अथवा सर्विस की जो कीमत है, उसी पर डिपेंड करती है।

अगर आपके द्वारा किसी ऐसे प्रोडक्ट या फिर सर्विस को बेचा जा रहा है जिसकी कीमत ज्यादा है तो आपको अधिक कमीशन और अगर आप किसी ऐसे सर्विस या फिर प्रोडक्ट को बेच रहे हैं जिसकी कीमत कम है, तो आपको कम कमीशन की प्राप्ति होगी।

हालांकि अगर प्रोडक्ट और सर्विस की तुलना की जाए तो प्रोडक्ट की तुलना में सर्विस बेचने पर आपको ज्यादा कमीशन प्राप्त होता है, क्योंकि किसी कस्टमर के द्वारा जब किसी कंपनी की सर्विस ली जाती है तो कस्टमर निश्चित समय पूरा होने के बाद उसे फिर से रिनुअल करवाता है।

इसीलिए कंपनी सर्विस पर अधिक कमीशन प्रदान करती है। हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने से आपको कम फायदा होगा। आप दोनों ही चीजों की मार्केटिंग एक साथ कर सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग से कितना पैसा कमा सकते हैं?

एफिलिएट मार्केटिंग के द्वारा आप कितनी इनकम जनरेट कर सकेंगे, यह आपकी मेहनत और आपके द्वारा अप्लाई की गई एफिलिएट मार्केटिंग रणनीति पर डिपेंड करती है।

हालांकि सामान्य जानकारी के अनुसार देखा जाए तो गूगल एनालिटिक्स यह बताता है कि साल 2020 तक एफिलिएट मार्केटिंग इंडस्ट्री 8.2 बिलियन तक पहुंच गई है। 

अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग में अधिक पैसा कमाने में इंटरेस्ट रखते हैं तो आपको ऐसे सर्विस या फिर प्रोडक्ट का प्रमोशन करना चाहिए जिस पर आपको अधिक से अधिक कमीशन मिलता हो।

मोबाइल से एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें? (affiliate marketing kaise karen)

मोबाइल से एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए आपको किसी भी बेस्ट एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करना है। इसके लिए आपको उस एफिलिएट प्रोग्राम पर जा करके अपना अकाउंट कुछ सामान्य जानकारियों को दर्ज करके बनाना होता है। इसके बाद आपको सर्विस या फिर प्रोडक्ट का एफिलिएट लिंक प्राप्त हो जाता है।

आपको एफिलिएट लिंक को हर जगह शेयर करना होता है। जैसे कि फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप और टेलीग्राम इत्यादि। एफिलिएट लिंक पर क्लिक करके जब कोई व्यक्ति सर्विस या फिर आइटम की खरीदारी करता है तो आपको तय रेट पर कमीशन की प्राप्ति होती है जिसे आप बैंक अकाउंट में प्राप्त कर सकते हैं।

Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye FAQ: 

Q: बिना पैसे के affiliate marketing कैसे शुरू करें हिंदी में?

ANS: आप आर्टिकल में दिए गए किसी भी एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम को बिल्कुल मुफ्त में ज्वाइन कर सकते हैं और बिना पैसे के एफिलिएट मार्केटिंग शुरू कर सकते हैं।

Q: Affiliate marketing से पैसे कमाए affiliate marketing क्या है?

ANS: एफिलिएट मार्केटिंग क्या है और एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाते हैं की जानकारी आर्टिकल में दी गई है।

Q: एफिलिएट मार्केटिंग कैसे की जाती है?

ANS: इसके लिए किसी एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन किया जाता है और उसके बाद एफिलिएट लिंक को शेयर किया जाता है।

Q: क्या मोबाइल से एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं?

ANS: जी हां! आप मोबाइल के द्वारा भी एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

यह भी पढ़े

उम्मीद करते है दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग क्या है कैसे करें, पैसे कमाए | Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा.

एफिलियेट मार्केटिंग कैसे करे और पैसे कमाए इस बारे में दी बेसिक डिटेल्स पढ़कर आपको अवश्य लाभ मिला होगा. अगर आपको यह कंटेट पसंद आया हो तो नियमित रूप से अपने ब्लॉग को विजिट करते रहे.

Leave a Comment