बीएफए कोर्स क्या है और कैसे करें | BFA Course Details in Hindi

बीएफए कोर्स क्या है और कैसे करें | BFA Course Details in Hindi कैरियर के लिए संघर्ष करने वाले विद्यार्थी को ही यह पता होता है कि एक अच्छा कैरियर होने पर उसे कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं। अच्छा कैरियर बनाने के लिए विद्यार्थियों को दसवीं कक्षा को पास करने के बाद से ही अपनी तैयारी चालू कर देनी पड़ती है क्योंकि दसवीं क्लास ही वह क्लास होती है जिसके बाद उनके सामने कैरियर के बहुत सारे विकल्प खुल जाते हैं। जो विद्यार्थी आर्ट्स के सब्जेक्ट से स्टडी कर रहे हैं वह बीएफए कोर्स कर सकते हैं जिसके बारे में इस आर्टिकल के द्वारा आपको आज डिटेल दी जा रही है।

बीएफए कोर्स क्या है और कैसे करें | BFA Course Details in Hindi

विषय सूची

बीएफए कोर्स क्या है और कैसे करें BFA Course Details in Hindi

बीएफए BFA का पूरा नाम बैचलर ऑफ फाइन आर्ट है। बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स की अवधि 3 साल से लेकर के 4 साल की होती है।

यह एक अंडरग्रैजुएट कोर्स होता है जिसके अंदर के विद्यार्थियों को विजुअल, परफॉर्मिंग अथवा फाइन आर्ट जैसे की पेंटिंग, एनिमेशन अथवा पोटरी जैसी चीजें सिखाई जाती है।

इस कोर्स में एडमिशन देने की प्रक्रिया मेरिट अथवा एंट्रेंस एग्जाम के ऊपर डिपेंड होती है। इस कोर्स के लिए कुछ फेमस एंट्रेंस एग्जाम के नाम BHU UET, UPSEE, AUCET है।

इंडिया के टॉप कॉलेज में हर साल इस कोर्स में एडमिशन देने की प्रोसेस मई या फिर अगस्त के महीने में स्टार्ट होती है और अगर इस कोर्स की फीस की बात करें तो ₹30000 से लेकर के ₹300000 तक की सालाना फीस इस कोर्स की होती है।

BFA में एडमिशन की एलिजिबिलिटी क्या है?

विद्यार्थी जो भी बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स में एडमिशन आ जाते हैं उन्हें नीचे दिए गए रिक्वायरमेंट को पूरा करना होगा।

  • बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए अधिकतर यूनिवर्सिटी के द्वारा 12वीं पास कैंडिडेट को ही बुलाया जाता है।
  • बारहवीं की एग्जाम में 50% या फिर उससे ज्यादा अंक हैं वहीं इस कोर्स में एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

बीएफए की एडमिशन प्रोसेस क्या है?

इस कोर्स में एडमिशन के लिए यूनिवर्सिटी के द्वारा एंट्रेंस एग्जाम का आधार लिया जाता है। कुछ यूनिवर्सिटी मेरिट के ऊपर भी एडमिशन देती हैं। 

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए जो एंट्रेंस एग्जाम होती है उसके अंदर विद्यार्थियों को मल्टीपल Choice टाइप के क्वेश्चन के आंसर देने होते हैं और उस एंट्रेंस एग्जाम का सिलेबस यूनिवर्सिटी के हिसाब से होता है।

बीएफए की एंट्रेंस एग्जाम क्या है?

जो भी विद्यार्थी बैचलर ऑफ फाइन आर्ट कोर्स को करने में इंटरेस्टेड हैं उन्हें इस कोर्स में एडमिशन पाने के पहले एंट्रेंस एग्जाम को भी देना पड़ेगा और एंट्रेंस एग्जाम को अच्छे अंकों के साथ पास करने के बाद ही उन्हें इस कोर्स में एडमिशन प्राप्त होगा।

नीचे हम आपको कुछ ऐसी एंट्रेंस एग्जाम के नाम दे रहे हैं जिन्हें आपको इस कोर्स में एडमिशन पाने के लिए देना पड़ सकता है।

  • ITM NEST
  • BHU UET
  • UPSEE
  • AUCET

BFA का सिलेबस क्या है?

नीचे आपको बीएफए के कोर्स के 3 सालों के सिलेबस की इनफार्मेशन प्रोवाइड की जा रही है।

1: पहले साल का सिलेबस

  1. एसथेटिक 
  2. पोट्रेट पेंटिंग 
  3. इलस्ट्रेशन 
  4. हिस्ट्री एंड अप्रिशिएसन आफ आर्ट 
  5. पेंटिंग फ्रॉम फुल फिगर 
  6. पोस्टर डिजाइन 
  7. मेथड एंड मैटेरियल 
  8. कंपोजिशन पेंटिंग
  9. प्रेस एडवरटाइजमेंट

2: दूसरे साल का सिलेबस

  1. स्पेशलाइजेशन कोर्स 
  2. ग्राफिक प्रिंट मेकिंग 
  3. मैगज़ीन एडवर्टाइजमेंट 
  4. एनवायरमेंटल एजुकेशन 
  5. कंपोजिशन 
  6. कंपोजीशन बी डायमंड स्टोन एंड वुड कार्विंग
  7. मेथड एंड मैटेरियल 
  8. सिरामिक्स एंड मोल्ड 
  9. एसथेटिक्स 1

3: तीसरे साल का सिलेबस

  1. स्पेशलाइजेशन कोर्स 
  2. हिस्ट्री एंड अप्रिशिएसन 
  3. कंपोजिशन 
  4. पेंटिंग मेथड एंड मैटेरियल 2 
  5. लाइफ स्टडी 
  6. ड्राइंग 3 
  7. एसथेटिक्स 2 
  8. प्रिंट मेकिंग 
  9. इंडियन एसथेटिक 
  10. पोट्रेट पेंटिंग

BFA कोर्स की स्ट्रीम क्या है?

आर्ट की फील्ड से रिलेटेड बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स में आपको डिफरेंट टाइप के सब्जेक्ट मिलेंगे। इनमें से आप अपनी पसंद के हिसाब से अथवा अपने इंटरेस्ट के हिसाब से किसी भी सब्जेक्ट का सिलेक्शन कर सकते हैं और BFA कोर्स को कंप्लीट कर सकते हैं। नीचे आपको हम बीएफए कोर्स के कुछ पॉपुलर स्ट्रीम के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

  • म्यूजिक 
  • ड्रामा 
  • थिएटर 
  • डांस 
  • पॉटरी 
  • स्कल्पचर 
  • पेंटिंग 
  • अप्लाइड आर्ट 
  • प्लास्टिक आर्ट 
  • टैक्सटाइल डिजाइन 
  • डिजिटल आर्ट 
  • कैलीग्राफी 
  • कार्टूनिंग 
  • इलस्ट्रेशन 
  • फोटोग्राफी 
  • प्रिंट मेकिंग 
  • ग्राफिक डिजाइनिंग

बीएफए कोर्स में कैरियर क्या है?

आर्ट की फील्ड में इंटरेस्ट रखने वाले लोगों को इस कोर्स को कंप्लीट करने के बाद कैरियर के तहत बहुत सारे विकल्प प्राप्त हो जाते हैं।

इस कोर्स में कई सारे सब्जेक्ट आते हैं जो कि अलग-अलग फील्ड से संबंधित होते हैं। इसीलिए कोर्स को पूरा करने के बाद आपको अलग-अलग नौकरी प्राप्त होती हैं। बीएफए कोर्स को पूरा करने के बाद प्राप्त होने वाले कुछ पॉपुलर नौकरी इस प्रकार है।

  1. एक्टर 
  2. पेंटर 
  3. सिंगिंग 
  4. एनिमेटर्स 
  5. स्क्रिप्टराइटर 
  6. आर्ट टीचर 
  7. आर्ट डायरेक्टर 
  8. कार्टूनिस्ट 
  9. ग्राफिक डिजाइनर 
  10. आर्ट कनवर्टर 
  11. मल्टीमीडिया मास्टर

बीएफए के लिए स्किल्स क्या है?

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट BFA के कोर्स को करने के लिए विद्यार्थियों के अंदर इंटरेस्ट के साथ ही साथ कुछ हुनर भी अवश्य होना चाहिए ताकि वह इस कोर्स को करने के साथ ही साथ अपने हुनर को भी निखार सके और जिंदगी में आगे बढ़ सके। इस कोर्स को करने के लिए विद्यार्थियों के अंदर नीचे दिए गए हुनर होने चाहिए।

  • एक्टिंग करने का हुनर 
  • लिखने का हुनर 
  • विजुलाइजेशन का हुनर 
  • परफॉर्म करने का हुनर 
  • आर्टिस्टिक स्किल 
  • सिंगिंग स्टील 
  • स्केचिंग स्कील 
  • ड्राइंग स्केल 
  • कम्युनिकेशन 
  • क्रिएटिव होना चाहिए 
  • इमैजिनेशन करने वाला होना चाहिए

बीएफए कोर्स का टाइप क्या है?

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कुछ कोर्स पार्ट टाइम भी आप कर सकते हैं अथवा फुल टाइम भी कर सकते हैं, साथ ही साथ आप डिस्टेंस लर्निंग मोड का इस्तेमाल करके भी इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं।

BFA फुल टाइम

जो भी विद्यार्थी बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स को फुल टाइम करना चाहते हैं वह एमिटी यूनिवर्सिटी, लखनऊ यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, धीरेंद्र महिला महाविद्यालय, छत्रपति शाहू जी महाराज यूनिवर्सिटी से इस कोर्स को कर सकते हैं। नीचे हम आपको कुछ दूसरे कॉलेज के भी नाम दे रहे हैं जहां से आप फुल टाइम इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं।

  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, वाराणसी 
  • सिटी यूनिवर्सिटी, लुधियाना
  • सेज यूनिवर्सिटी, भोपाल 
  • अलगप्पा यूनिवर्सिटी, कराइकूदी
  • गोयल ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, लखनऊ

BFA पार्ट टाइम

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स को आप नीचे दी गई यूनिवर्सिटी से पार्ट टाइम भी कर सकते हैं।

  • अन्नामलाई यूनिवर्सिटी अन्नामलाई
  • वेंकटेश्वरा ओपन यूनिवर्सिटी, अरुणाचल प्रदेश

BFA डिस्टेंस एजुकेशन

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट एक टिपिकल अंडर ग्रैजुएट डिग्री कोर्स कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए है। इस कोर्स की फीस कम होती है। इस कोर्स को पार्ट टाइम फुल टाइम करने के अलावा विद्यार्थी डिस्टेंस लर्निंग के जरिए भी कंप्लीट कर सकता है।

डिस्टेंस लर्निंग के जरिए इस कोर्स को करने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को बारहवीं की एग्जाम को इंडिया के किसी भी सर्टिफाइड बोर्ड से कम से कम 45 पर्सेंट अंकों के साथ पास करना पड़ता है।

डिस्टेंस लर्निंग के जरिए इस कोर्स को करने के लिए विद्यार्थियों को ₹12000 से लेकर के ₹25000 तक की सालाना फीस भरनी पड़ सकती है। नीचे हम आपको कुछ ऐसे कोर्स के नाम दे रहे हैं जहां से आप बीएफए कोर्स को डिस्टेंस लर्निंग के जरिए पूरा कर सकते हैं।

  • सस्त्र यूनिवर्सिटी 
  • निम्स यूनिवर्सिटी 
  • एमकेयू यूनिवर्सिटी 
  • हिमालयन यूनिवर्सिटी
  • सुभारती यूनिवर्सिटी 
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी

बीएफए इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी

बैचलर ऑफ फाइन आर्ट BFA कोर्स, इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ऐसे लोगों के लिए डिजाइन किया गया है जो इस डिग्री को पाना तो चाहते हैं परंतु वह फुल टाइम इस कोर्स को कर पाने में असमर्थ हैं।

डिस्टेंस लर्निंग करने के लिए इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी बहुत ही पॉपुलर इंस्टिट्यूट है। बीएफए कोर्स को इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी से करने के लिए विद्यार्थियों को बारहवीं की एग्जाम को कम से कम 50 परसेंट अंकों के साथ पास करना आवश्यक है।

BFA के बाद कौन सा कोर्स करें?

बीएफए कोर्स को पूरा करने के बाद विद्यार्थी मास्टर ऑफ फाइन आर्ट जैसे कोर्स को करने के लिए एडमिशन ले सकते हैं। मास्टर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स में एडमिशन प्राप्त करने के लिए विद्यार्थियों को इंडिया के किसी भी सर्टिफाइड यूनिवर्सिटी से बैचलर ऑफ फाइन आर्ट के कोर्स को कम से कम 55% अंकों के साथ पास करना आवश्यक है। 

मास्टर ऑफ फाइन आर्ट BFA कोर्स की सालाना फीस ₹7000 से लेकर के ₹400000 के आसपास तक होती है और इस कोर्स को पूरा करने के बाद विद्यार्थियों को तकरीबन ₹300000 से लेकर के 1200000 रुपए तक की सैलरी सालाना तौर पर प्राप्त होती है।

बीएफए में आने वाले कोर्स की फीस क्या है?

  • BFA पेंटिंग: सालाना फीस 200000 
  • बीएफए अप्लाइड आर्ट: सालाना फीस 200000
  • BFA एनीमेशन: सालाना फीस ढाई लाख •बीएफए पॉटरी एंड सिरामिक: सालाना फीस डेढ़ लाख 
  • बीएफए टैक्सटाइल डिजाइन: सालाना फीस 100000

बीएफए कोर्स के लिए इंडिया के बेस्ट कॉलेज कौन से हैं?

वैसे तो बैचलर ऑफ फाइन आर्ट BFA के कोर्स को इंडिया के कई कॉलेज के द्वारा ऑफर किया जाता है परंतु नीचे हम आपको कुछ ऐसे बेस्ट इंडिया के कॉलेज के नाम दे रहे हैं जहां से आप इस कोर्स को कंप्लीट कर सकते हैं और फाइन आर्ट की फील्ड में अपना कैरियर सेटल कर सकते हैं।

  • यूनिवर्सिटी ऑफ पटना 
  • यूनिवर्सिटी ऑफ पंजाब 
  • एमिटी यूनिवर्सिटी 
  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ लखनऊ 
  • यूनिवर्सिटी ऑफ़ चंडीगढ़ 
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी 
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी 
  • जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी 
  • महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ 
  • अटल बिहारी वाजपेई हिंदी यूनिवर्सिटी 
  • छत्रपति शाहू जी महाराज यूनिवर्सिटी 
  • डॉक्टर बाबासाहेब अंबेडकर मराठवाड़ा यूनिवर्सिटी

BFA के बाद कितनी सैलरी मिलेगी?

देखिए आपको यह साफ-साफ बता दे कि बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स का कोर्स पूरा करने के बाद आपको कितनी सैलरी मिलेगी यह इस बात पर आधारित होती है कि आपको कौन सी कंपनी में कौन सी नौकरी प्राप्त हुई है।

अगर आपको किसी छोटी कंपनी में कोई छोटी पोस्ट प्राप्त हुई है तो आपकी सैलरी कम होगी और अगर आपको किसी बड़ी कंपनी में कोई बड़ी पोस्ट प्राप्त हुई है तो आपकी सैलरी ज्यादा होगी।

एक अंदाज के मुताबिक स्टार्टिंग में बीएफए कोर्स को पूरा करने के बाद किसी भी पद पर आपको तकरीबन ₹15000 से लेकर के ₹18000 तक की सैलरी महीने में प्राप्त होती है और जब आपको अपने काम का अच्छा एक्सपीरियंस प्राप्त हो जाता है

तथा आपको कंपनी में काम करते हुए थोड़े साल गुजर जाते हैं तो कंपनी के द्वारा आपके पद को प्रमोट कर दिया जाता है साथ ही आपकी सैलरी भी इनक्रीस कर दी जाती है।

FAQ:

Q: बैचलर ऑफ फाइन आर्ट कोर्स के बाद कुछ ट्रेंडिंग कैरियर अपॉर्चुनिटी क्या है?

Ans: गैलरी असिस्टेंट, कम्युनिटी आर्टिस्ट, क्यूरेटर, थिएटर सेट डिजाइनर, फ्रीलांस स्टूडियो आर्टिस्ट, गैलरी आर्टिस्ट, इलस्ट्रेटर, क्रिएटिव डिजाइनर, आर्ट हिस्टोरियन

Q: बीएफए कौन कर सकता है?

Ans: जिसे आर्ट में इंटरेस्ट है और जो कुछ सीखने की इच्छा रखता है वह कर सकता है।

Q: क्या बीएफए कॉलेज विद्यार्थियों को फाइनेंसियल स्कॉलरशिप प्रोवाइड करवाते हैं?

Ans: जी हां एससी एसटी और ओबीसी विद्यार्थियों के लिए बीएफए कॉलेज के द्वारा स्कॉलरशिप की व्यवस्था होती है। इसके अलावा कुछ गवर्नमेंट स्कीम भी सभी विद्यार्थियों के लिए चलती है।

Q: क्या हम दसवीं के बाद BFA कर सकते हैं?

Ans: नहीं बीएफए में एडमिशन पाने के लिए 12वीं कक्षा का पास होना आवश्यक है।

Q: क्या हम विदेश में भी बीएफए का कोर्स कर सकते हैं?

Ans: जी हां विदेश की कई यूनिवर्सिटी बीएफए कोर्स को ऑफर करती हैं।‌

यह भी पढ़े

उम्मीद करता हूँ दोस्तों बीएफए कोर्स क्या है और कैसे करें BFA Course Details in Hindi का यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा. अगर आपकों इस लेख में कोर्स के बारे में दी डिटेल्स पसंद आई हो तो अपने फ्रेड्स के साथ जरुर शेयर करें.

अपने विचार यहाँ लिखे