बिल्ली पर निबंध Essay on Cat in Hindi

बिल्ली पर निबंध Essay on Cat in Hindi : प्यारे विद्यार्थियों आज हम बिल्ली निबंध कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10 वीं के बच्चों के लिए छोटा बड़ा निबंध पेश कर रहे हैं. कैट यानि बिल्ली पर परीक्षा के लिहाज से यह निबंध आप यहाँ पढ़ सकते हैं. बिल्ली के विषय में सभी परिचित हैं. कैट एस्से में आप और हम एक छोटे तथा बड़े निबंध को हम यहाँ पढ़ने जा रहे हैं.

बिल्ली पर निबंध Essay on Cat in Hindi

बिल्ली पर निबंध Essay on Cat in Hindi

10 Lines Essay On Cat In Hindi

(1) यह एक छोटे आकार का घरेलू प्राणी हैं, लोग इन्हें बिल्ली के नाम से ही जानते हैं.

(2) यह चौपाया घरेलू पालतू जानवर है इसके तीखे व धारदार पंजे होते हैं.

(3) शेर, चीता की भांति बिल्ली के एक लम्बी पूंछ होती है जो तकरीबन एक फीट के आकार की होती हैं.

(4) बिल्लियाँ दुनिया के लगभग सभी देशों में पाई जाती है जो सफेद, काले तथा भूरे रंग की होती हैं.

(5) नीला हरा काला और पीले रंग की दो आँखें होती हैं.

(6) बिल्ली के दो कान होते हैं तथा इसकी श्रवण क्षमता बेहद तीव्र होती हैं.

(7) बिल्ली का सम्पूर्ण शरीर बालों से भरा होता हैं.

(8) यह जैसा भी खाना हो खां लेती है दूध, मांस, चूहे, रोटी मुख्य खाद्यान्न हैं.

(9) अक्सर लोग बिल्लियों को घरों में पालना पसंद करते हैं.

(10) बिल्ली के दौड़ने की काफी गति होती है तथा यह छलांग भी लगा सकती हैं.

बिल्ली पर निबंध Short Hindi Essay on Cat In 300 Words


बिल्ली एक चौपाया तथा बेहद चंचल पशु हैं जिन्हें लोग घरों में पालकर रखते हैं. बिल्ली के छोटे छोटे चार पंजे अथवा पैर तथा एक पूंछ होती हैं.

बिल्ली दिखने में बाघ की प्रजाति का जानवर लगती हैं इसके बाल बेहद नर्म तथा रेशमी होते हैं. इनकी आँखों का रंग काला, भूरा अथवा सफेद होता हैं.

अमेरिका सहित दुनियां के कई सारे देशों में बिल्ली को घर में पाला जाता हैं. धार्मिक विशवास वाले लोग यदि यात्रा पर जाते समय बिल्ली का दर्शन कर ले तो बेहद अपशकुन भरा माना जाता हैं,

कुछ लोग उस यात्रा का भी त्याग कर देते हैं. फिर भी सर्वाधिक लोकप्रिय पालतू जीवों में बिल्ली अधिक प्रसिद्ध हैं. बिल्लियों की कई सारी विशेषताएँ उन्हें बाघ की प्रजाति के साथ खड़ा कर देती हैं.

बाघ की भांति बिल्ली की घ्राण शक्ति तथा देखने की क्षमता काफी अधिक होती हैं. यहाँ तक कि वह अँधेरे में भी आसानी से सब कुछ देख सकती हैं.

बिल्ली अपना अधिकतर समय नीद लेने में गुजारती हैं लगभग 15 घंटे वह सोने में तथा शेष समय अपने भोजन की तलाश में व्यतीत करती हैं.

बिल्लियों के सम्बन्ध में रोचक बात यह भी है कि वह कितनी भी उंचाई से गिर जाने के उपरांत उसे चोट नहीं लगती हैं. जिसका कारण उसके शरीर का लचीला होना हैं.

आज के वैज्ञानिक युग में भी लोग बिल्लियों के रास्ता काट जाने पर कार्य को बंद कर देने अथवा यात्रा को स्थगित कर देने जैसे अंधविश्वासों में विश्वास करते हैं.

बिल्ली के बारे में रोचक जानकारी Interesting Information About Cat In Hindi

सभी जानते है कि बिल्ली एक पालतू जीव हैं. दुनियां के हर कोने में हरेक घर में आपकों बिल्ली देखने को मिल ही जाएगी. टॉम और जेरी कार्टून तथा अप्प्स काफी पसंद किये जाते हैं बिल्ली और चूहे की कहानियां हम बचपन से सुनते आए हैं बिल्ली मौसी जैसी कहानियों बच्चों में बड़ी चर्चित रहती हैं.

(1). दुनियां के लगभग हर कोने में बिल्ली रहती है यहाँ तक जहाँ भी मानव बस्ती हैं.

(2). कुत्ते बिल्ली तथा चूहे पारिस्थितिकी तंत्र की सबसे अधिक प्रतिद्वन्द्वी माने जाते हैं दुनियाभर में सर्वाधिक बिल्लियाँ नार्थ अमेरिका में पाई जाती हैं इनकी संख्या यहाँ कुत्तों से भी अधिक हैं.

(3). शारीरिक बनावट में बिल्ली बाघ की प्रजाति की प्राणी हैं इनके चार पैर तथा तीखे पंजे एक मीटर की पूछ दो आँखे व दो ही कान होते हैं. बिल्ली अपना शिकार आमतौर पर पंजे से करते हैं. बिल्ली के अगले दोनों पंजों में 5-5 अंगुली तथा पिछले पंजों में 4-4 अंगुलिया होती हैं.

(4). बिल्ली एक सर्वाहारी जानवर हैं जो वह दूध तथा मछली को सर्वाधिक पसंद करती हैं. अतः बिल्ली एक मांसाहारी तथा शाकाहारी दोनों हैं.

(5). काली, भूरी तथा सफेद इन तीनों रंग की बिल्लियाँ होती हैं इनकी आँखों का रंग हल्का भूरा होता हैं. साथ ही देखने में यह डरावनी प्राणी लगती हैं.

(6). भारत के अधिकतर लोग बिल्ली द्वारा राह काट लेने को अपशकुन के रूप में लेते हैं जबकि बताया जाता है कि जापान में इसे एक शुभ संकेत माना जाता हैं.

(7). बिल्ली एक जन्मजात शिकारी प्राणी हैं जो जन्म से ही चूहे इत्यादि का शिकार करने में पूर्ण सक्षम होती हैं. आपकों जानकर आश्चर्य होगा, कि बिल्ली अपने अधिकतर समय सोती हैं तकरीबन 14 घंटे बिल्ली सोने में व्यतीत करती हैं.

(8). दुनियां में बिल्ली को सबसे अधिक सम्मान मिस्र में मिलता हैं यहाँ पर बिल्ली को एक देवी का रूप मानकर उनकी पूजा की जाती हैं तथा जिस किसी व्यक्ति के घर की बिल्ली मर जाती है तो वे अपने भौहे कटवा लेते थे.

(9). आपकों अजब लगेगा कि बिल्ली समुद्र का खारा जल भी पी सकती हैं. उसकी आंतरिक सरंचना इस प्रकार होती हैं जिसमें खारा जल भी फिल्टर हो जाता हैं.

(10). यह भी एक भ्रम अथवा मान्यता है कि यदि बिल्ली को चोकलेट दी जाए तो वह तुरंत मर जाती हैं. साथ ही बिल्ली का शरीर इतना लचीला होता है कि कई फीट की उंचाई से गिराने के उपरांत भी उसे बिलकुल भी चोट नहीं लगती हैं.

(11). बिल्ली की आवाज म्याऊ-म्याऊ की होती हैं मगर यह भिन्न भिन्न परिस्थितियों में कुल सैकड़ों आवाज निकाल सकती हैं.

(12). बिल्ली का पसंदीदा शिकार हैं तथा बिल्ली को सबसे अधिक भय कुत्ते से रहता हैं. चीन संभवतः पहला देश होगा, जहाँ के लोग बिल्लियों का भी भक्षण कर जाते हैं.

(13). बिल्ली के बारे में कुछ तथ्य की बात करे तो इसका वैज्ञानिक नाम Felis catus इसकी आयु सीमा 2 से 16 वर्ष प्रजनन काल लगभग 60 दिन का तथा वजन 3 से 5 किलों तक का हो सकता हैं.

(14). क्या आप जानते हैं: घरेलू बिल्ली एकमात्र ऐसी बिल्ली प्रजाति है जो चलते समय अपनी पूंछ को लंबवत पकड़ सकती है.

(15). इतिहास में मानव ने बिल्ली को इसलिए पालकर रखा था ताकि वह घर में चूहों से होने वाले नुकसान से बच सके. इस्लाम धर्म में किसी भी जीव को सम्मान नहीं दिया जाता हैं मगर बिल्ली को सम्मानित नजर से देखा जाता हैं.

(16). मानव घरों में पायी जाने वाली बिल्ली को मारवाड़ी भाषा में ‘मिनकी’ तथा जंगली बिल्ली को ‘बलारा’ कहा जाता हैं.

यह भी पढ़े-

आशा करते है दोस्तों बिल्ली पर निबंध Essay on Cat in Hindi में दी गई जानकारी आपकों पसंद आई हो तो प्लीज पालतू घरेलू बिल्ली पर दिया गया निबंध पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे.

अपने विचार यहाँ लिखे