Dhatu Roop Sanskrit Questions धातु रूप संस्कृत व्याकरण | Reet Sanskrit Mock Test | Reet Level 1 Online Test Level 2 Practice Series Questions Answer

Dhatu Roop Sanskrit Questions धातु रूप संस्कृत व्याकरण | Reet Sanskrit Mock Test | Reet Level 1 Online Test Level 2 Practice Series Questions Answer: रीट शिक्षक भर्ती के संस्कृत पाठ्यक्रम का यह चौथा प्रकरण हैं, यहाँ धातु रूप आधारित ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी दी गई हैं. धातु रूप के महत्वपूर्ण 30 प्रश्नोत्तर का इस क्विज में अभ्यास कर सकते हैं. (रोजाना हमारी क्विज में भाग लेने के लिए इस टेलीग्राम ग्रुप से जुड़े)

Dhatu Roop Sanskrit Questions धातु रूप संस्कृत व्याकरण | Reet Sanskrit Mock Test | Reet Level 1 Online Test Level 2 Practice Series Questions Answer

1. पच् धातु लोट लकार उत्तम पुरुष एकवचन होगा.

 
 
 
 

2. पृृच्छति अस्य लृट लकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

3. सेवे पदस्य लोटलकार: वर्तते

 
 
 
 

4. राम: पुस्तकं पठति अस्य वाक्यस्य लृट लकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

5. गम् धातु लट लकार उत्तम पुरुष बहुवचन होगा.

 
 
 
 

6. देहि पदस्य लकार वर्तते

 
 
 
 

7. याचिष्यति अस्ति

 
 
 
 

8. बालक: कक्षायाम अनृत्यत अस्य लटलकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

9. हस् धातों: लृट लकार प्रथमपुरुष एकवचने

 
 
 
 

10. पठिष्यन्ति पदस्य लटलकार अस्ति

 
 
 
 

11. छात्र: गुरुं नमति अस्य भविष्यकाले रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

12. रक्ष् धातो लड्ग लकार मध्यम पुरुष द्विवचनम

 
 
 
 

13. अहं जलं पिबामि अस्य लृट लकारे रूपमस्ति

 
 
 
 

14. हन्ति रूपम् अस्ति

 
 
 
 

15. पठामि इति रूपम् लोट लकारे परिवर्त्यत.

 
 
 
 

16. सेव् धातु लड्ग लकार प्रथम पुरुष एकवचन

 
 
 
 

17. यूयं ग्रन्थान लिखथ अस्य विधिलिङ्लकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

18. त्वं पुस्तकं पठसि अस्य लोट लकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

19. धातव: सन्ति

 
 
 
 

20. अस् धातु लृट लकार प्रथम पुरुष एकवचन का रूप होगा.

 
 
 
 

21. भू धातों लटलकारस्य प्रथम पुरुष द्विवचने किमं रूपम्?

 
 
 
 

22. पश्यन्ति अस्य भविष्यकाले रूपम् अस्ति

 
 
 
 

23. अपिब: इत्यत्र लकार: वर्तते

 
 
 
 

24. सीता ग्रामम् अगच्छत लोट लकारे परिवर्तन करोतु

 
 
 
 

25. संस्कृत में धातु रूप किसे कहा जाता हैं.

 
 
 
 

26. पक्ष्यति इत्यत्र लकार वर्तते

 
 
 
 

27. सा अजां नयति अस्य लृट लकारे रूपम् अस्ति

 
 
 
 

28. भवति पदस्य विधिलिङ् लकार वर्तते

 
 
 
 

29. ते छात्रान पाठयन्ति अस्य लृट लकारे रूपम् अस्ति.

 
 
 
 

30. लिखामि पदस्य लृटलकार: वर्तते

 
 
 
 

Question 1 of 30

यदि आपने संस्कृत इन क्विज में अभी तक भाग नहीं लिया हैं, तो इस प्रश्नोत्तरी को पूरा कर इनमें भी भाग ले सकते हैं.

संस्कृत वर्ण परिचय
संस्कृत संधि
कारक व विभक्ति
धातु रूप
वाच्य परिवर्तन
समास
प्रत्यय

One comment

अपने विचार यहाँ लिखे